Monday, March 27, 2017

जिला सत्र न्यायालय परिसर में लग गये सी.सी.कैमरे

कटनी / विगत दिनो हुई घटना के चलते आज जिला न्यायालय परिसर में पुलिस के सहयोग से परिसर की सुरक्षा हेतु सभी प्रमुख जगहों पर सी.सी.कैमरे लगा दिये गये है। आज  एक सादगी पूर्ण कार्यक्रम में जिला एवं सत्र न्यायाधीश  श्रीमति राधा सोनकर ने सुरक्षा कक्ष का फीता काटकर दीप प्रज्वलित कर श्री गणेश जी की मूर्ति में फूलमाला पहनाकर सुरक्षा कक्ष का उद्घाटन किया और कैमरे/रिकार्डर की बटन चालू कर न्यायालय की सुरक्षा में कैमरों को भी लगा दिया है जो लगातार रात-दिन परिसर की निगरानी रखेंगे।
कार्यक्रम में सभी न्यायिक मजिस्ट्रेट उपस्थित थे जिनमें श्री बी बी शुक्ला, श्री अजय प्रकाश मिश्रा, श्री जे.माइकल राव, श्री अवधेष गुप्ता, श्री सुरेन्द्र श्रीवास्वत, श्री सुशील कुमार, श्री अरुण प्रताप सिंह, श्रीमति कविता वर्मा, क्षिप्रा पटेल, श्री मनोज तिवारी, श्री कपिल भारद्वाज, श्री अरुण सिंह, श्रीमति रितिका पाठक आदि उपस्थित जनों ने दीप प्रज्वलित कर फूलमाला अर्पण कर कैमरे की मशीनों की पूजा-अर्चना कर कार्यक्रम को सम्पन्न किया।


Wednesday, March 22, 2017

मुंबई में उद्योगपतियों को बताई कटनी की खासियत

कटनी / मुंबई के पांच सितारा होटल ताज में सी.आई.आई. द्वारा



 इंडस्ट्रियल कॉन्फ्रेंस आयोजित की गई। जिसमें  मध्यम व लघु तथा सूक्ष्म, उद्योगपतियों की बैठक मे प्रदेश के एमएसएमई विभाग के राज्यमंत्री संजय सत्येन्द्र पाठक ने दिनांक 8 व 9 अप्रैल को कटनी में आयोजित औद्योंगिक संम्मेलन के लिये उद्योगपतियों को इंवाईट किय। उन्होने बताया कि वर्तमान में छोटे-छोटे उद्योगो के लिये मध्यप्रदेश में एक अनुकूल वातावरण है। जहां पर न तो राजनैतिक हस्तक्षेप है और नही बिजली, पानी की कमी है। साथ ही उद्योगो के  लिये आवश्यक श्रमिक तथा शांन्तिपूर्ण वातावरण उपलव्ध है।
            राज्यमंत्री श्री पाठक ने अपने अध्यक्षीय भाषण में कहा कि, इस अधिवेशन के लिये उन्होने कटनी को ही इसलिये चुना है क्योंकि भारत में शायद ही कटनी जैसा कोई जिला हो, जहां पर हर तरह के खनिज भरपूर मात्रा में उपलव्ध है। इसी कारण ए.सी.सी. सीमेंन्ट प्लान्ट तथा लार्सनटर्बो जैसी कंपानियां यहां पर स्थापित हैं। कटनी को मध्यप्रदेश का हृदय स्थल भी कह सकते हैं। जहां पर देश की हर दिशा में जाने वाली रेलगाडि़यां, राष्ट्रीय महामार्ग तथा जबलपुर हवाई सेवा निरंतर संपर्क बनाने के लिये उपलव्ध है।
            राज्यमंत्री श्री पाठक ने बताया कि मध्यप्रदेश शासन, केन्द्र सरकार के आयुध कारखाना नीति के अंन्तर्गत राज्य में आयुध कारखाना स्थापित करना चाहती है। वर्तमान में मध्यप्रदेश में जबलपुर, इटारसी, भोपाल तथा कटनी में आयुध कारखानें स्थापित है, तथा खनिज संपदा की उपलब्धता के कारण मध्यप्रदेश शासन जबलपुर तथा कटनी जिलों में आयुध कारखाने आमंत्रित कर रही है। कटनी जिले में लगभग 3 हजार एकड़ जमीन उद्योगों के लिये उपलब्ध है। साथ ही कटनी में शिक्षा तथा पर्यटन के लिये भी काफी संभावनाएं है। कटनी में लगभग 130 साल पुराना डीजल लोकोमोटिक इंजिन बनाने का कारखाना भी कार्यरत है।
            श्री संजय पाठक मंत्री सूक्ष्म, लघु माध्यम उद्यम (स्वतंत्र प्रभार) उच्च शिक्षा, व सामाजिक न्यास एवं निःशक्तजन कल्याण विभाग ने सभी उद्योंगपतियों को कटनी में दिनांक 8 व 9 अप्रैल को हाने वाले लघु व मध्यम उद्योंग सम्मेलन में आने का निमंत्रण भी दिया ।
इसके पूर्व मध्यप्रदेश शासन लघु व मध्यम उद्योग विभाग के सचिव वी.एल.कांन्ताा राव ने आयुध आधारित उद्योगों के संदर्भ में मध्यप्रदेश शासन द्वारा दिये जाने वाले रियायत व सुविधांओं के बारे में जानकारी प्रस्तुत की ।
            उन्होंने बताया कि आयुध संबंधी उद्योंगों के लिये मध्यप्रदेश शासन द्वारा इन्दौर में इण्डों जर्मन संयुक्त भागीदारी से टूल रुम स्थापित हैं। इसके अतिरिक्त भोपाल मे टूल रुम उपलब्ध है। आयुध उद्योगों की स्थापना के लिये शासन जबलपुर कटनी में भी योग्यता प्रमाणीकरण हेतु परिक्षण सुबिधाओं को ध्यान में रखते हुए टूल रुम की स्थापना करने का विचार कर रही है। साथ ही इन उद्योगों से संबंधित बिक्री केन्द्र सरलता से उपलब्ध हो सके इसके लिये भी प्रयत्न कर रही है।
            इस दौरान राज्यमंत्री श्री पाठक ने नासिक के श्री तुषार उद्योग के श्री तुषार पटवर्धन ने प्रश्न के उत्तर में कहा कि मध्यप्रदेश शासन प्रोजेक्ट के लिये यथा संभव सहयोग करेगी। तथा यदि वे आयुध उद्योगो में संयुक्त रुप से भागीदारी में आना चाहते है, तों उनके लिये विशेष सुबिधाएं दी जा सकती है। विक्रेता विकास कार्यक्रम के अंर्न्तगत निवेशको को उनके उद्योग स्थापित करने के लिये हर सहायता तथा सहूलियत देने के लिये हम कृतसंकल्प है।
            सी.आई.आई. के अध्यक्ष तथा लार्सनटर्बो के हैवी इंन्जीनियरिग के उपाध्यक्ष मुकेश भार्गव ने आरभ में राज्यमंत्री  संजय सत्येन्द्र पाठक के आयुध आधारित उद्योगो में दिये जाने वाले सहयोग की सराहना करते हुए कहा कि आयुध सेंक्टर में निवेश करना किसी भी निवेशक के लिये योग्य निर्णय होगा।
            इसके बाद राज्यमंत्री संजय पाठक ने ड्रायटेक के प्रबंध संचालक योगेश शांह केमट्रोज इन्डस्ट्री प्रा. लि. के अध्यक्ष के प्रबंध संचालक नंन्दकुमार, पाल टेक्सटाइल महाराष्ट्र के प्रबंध संचालक श्री अहूजा तथा एटीस माईक्रोन्युट्रिडेस एग्रो लि. के राहुल मीर चंन्दानी ने उनके समस्याओं तथा उद्योग निवेश के संबंध में गहन चर्चा की ।
            इस अवसर पर वी.एल कान्था राव, प्रमुख सचिव लघु व मध्यम एद्योंग विभाग, तथा सी. एस. धुर्वे, प्रबंध संचालक मध्यप्रदेश औद्योगिक केन्द्र विकास निगम जबलपुर उपस्थित थे ।

Monday, March 20, 2017

ग्रामीणजनों को साक्षर बनाने हो रहे प्रयास

कटनी / साक्षर भारत योजना के अंतर्गत रविवार को जिले में नवसाक्षर परीक्षा का आयोजन हुआ। ग्रामीणजनों एवं निरक्षर व्यक्तियों को साक्षर बनाने के उद्वेश्य से आयोजित इस परीक्षा को लेकर ग्रामीणजनों में खासा उत्साह देखनों को मिला। परीक्षा के सफल संचालन के लिये जिले में स्थापित किये गये 458 केन्द्रों में लगभग 30 हजार से अधिक ग्रामीणजन व निरक्षर व्यक्ति उमंग में लबरेज होकर परीक्षा में सम्मिलित हुये। ग्रामीण पुरुषों के साथ ही महिलायें भी आंगे निकलकर आईं और नवसाक्षर परीक्षा में सम्मिलित हुईं।
विकासखण्डवार इतने निरक्षर व्यक्ति हुये नवसाक्षर परीक्षा में सम्मिलित
            नवसाक्षर परीक्षा में जिले में लगभग 30 हजार 486 नवसाक्षर सम्मिलित हुये। जिसमें बड़वारा विकासखण्ड में 4838 ने परीक्षा दी। जिसमें 3474 महिलायें और 1364 पुरुष शामिल हुये। बहोरीबंद विकासखण्ड में 6340 नवसाक्षर इस परीक्षा में सम्मिलित हुये। जिसमें 4231 महिलायें और 2109 पुरुष रहे। इसी प्रकार रीठी विकासखण्ड में 5458 ने नवसाक्षर परीक्षा दी। जिसमें 2705 महिलायें और 2753 पुरुष शामिल हुये। विजयराघवगढ़ विकासखण्ड में भी 5446 परीक्षार्थी नवसाक्षर परीक्षा में सम्मिलित हुये। जिसमें से 3843 महिलायें और 1603 पुरुष रहे। कटनी विकासखण्ड में 4951 नवसाक्षर इस परीक्षा में सम्मिलित हुंये।
मॉनीटरिंग के लिये जिलास्तर से लेकर ब्लॉकस्तर तक पर लगाई गई थी टीम
            नवसाक्षर परीक्षा के लिये कलेक्टर विशेष गढ़पाले के निर्देश पर प्रत्येक परीक्षा केन्द्र की मॉनीटरिंग के लिये जिलास्तर के 26 तथा ब्लॉक स्तर से सभी 06 विकासखण्ड शिक्षा अधिकारी, 06 विकासखण्ड स्त्रोत केन्द्र समन्वयक, बीएसी, तथा सभी जनशिक्षकों को इस संबंध में आदेश जारी किये गये थे। साथ ही जिले में परीक्षा के संचालन के लिये जिलास्तर पर कंट्रोल रुप भी स्थापित किया गया था। इसके साथ ही विकासखण्डस्तर पर भी कंट्रोल रुम बनाये गये थे।

कलेक्टर ने साक्षर भारत अभियान की सतत् रुप से की मॉनीटरिंग, आकस्मिक रुप से भी पहुंचे थे साक्षर केन्द्र
            साक्षर भारत अभियान के तहत जिले के अधिक से अधिक ग्रामीणजन एवं निरक्षर व्यक्ति भी साक्षर हो सकें, इसके लिये आज आयोजित हुई नवसाक्षर परीक्षा की मॉनीटरिंग सतत् रुप से कलेक्टर ने भी की। इस अभियान में अधिक से अधिक लोग जुड़ें। साध्यकालीन साक्षर कक्षाओं में ग्रामीणजनों को लाकर उन्हें साक्षर बनाया जाये। इसे लेकर स्पष्ट निर्देश भी कलेक्टर द्वारा शिक्षा विभाग को दिये गये थे। साथ ही समय-समय पर आकस्मिक रुप से साक्षर केन्द्रों में पहुंचकर उन्होने व्यवस्थाओं का जायजा लिया था। साथ ही आवश्यक दिशा निर्देश भी दिये थे।
अधिक निरक्षर हो सकें परीक्षा में सम्मिलित, इसलिये मनरेगा मजदूरों का कलेक्टर ने किया था अवकाश घोषित

रविवार को आयोजित हुई नवसाक्षरों की परीक्षा के मद्देनजर कलेक्टर विशेष गढ़पाले द्वारा मनरेगा के मजदूरों का अवकाश भी घोषित किया गया था। जिससे 458 परीक्षा केन्द्रों में आयोजित इस परीक्षा में अधिक से अधिक ग्रामीण जन एवं निरक्षर व्यक्ति शामिल हो सकें।  जारी आदेश में उन्होने जिले के सभी सीईओ जनपदों को मनरेगा के तहत कार्यरत मजदूरों को परीक्षा में सम्मिलित कराते हुये परीक्षा दिवस का कार्य साप्ताहिक कैलेंडर में सम्मिलित आगामी अवकाश दिवस में कराये जाने के निर्देश दिये हैं।

Saturday, March 11, 2017

वेंकट लाईब्रेरी में उपलब्ध होंगी प्रतियोगी परीक्षाओं की पुस्तकें

कटनी / शहर के बीचों-बीच स्थित वेंकट लाईब्रेरी के उत्थान व बेहतर व्यवस्थापन की दिशा में शीघ्र जिला प्रशासन कार्य करेगा जिससे विद्यार्थियों को अच्छी पुस्तकें पढ़नें को मिलें, ताकि वे अपना भविष्य संवार सके।  वेंकट लाईब्रेरी की व्यवस्थाओं का जायजा लेने कलेक्टर विशेष गढ़पाले  पहुंचे, वहां पर सभी सेक्शन मे जाकर उपलब्ध किताबों और व्यवस्थाओं की हकीकत उन्होने जानी। निरीक्षण के दौरान विद्यार्थियों द्वारा प्रतियोगी परीक्षाओं की बेहतर पुस्तकें पुस्तकालय में उपलब्ध ना होने की शिकायत की गई। जिसे गंभीरता से लेते हुये कलेक्टर विशेष गढ़पाले ने कहा कि शीघ्र ही अच्छी पुस्तकों की व्यवस्था लाईब्रेरी में की जायेगी। स्थानीय विधायक और महापौर द्वारा भी लाईब्रेरी के संधारण व पुस्तकों के


लिये धनराशि उपलब्ध कराई गई है। उससे कॉम्पटीशन एग्जाम की अच्छी किताबें लाईब्रेरी में मुहैया कराई जायेंगी।
भारत निर्माण कोचिंग की लाईब्रेरी होगी वेंकट लाईब्रेेरी में शिफ्ट
             शीघ्र ही विद्यार्थियों को अध्ययन के लिये प्रतियोगी परीक्षाओं की बेहतर पुस्तकें उपलब्ध हो सकें, इसके लिये स्पॉट पर ही कलेक्टर ने बड़ा निर्णय लिया। उन्होने जल्द से जल्द भारत निर्माण कोचिंग के लिये तैयार कराई गई लाईब्रेरी को वेंकट लाईब्रेरी में शिफ्ट करने की बात कही। कलेक्टर ने कहा कि भारत निर्माण कोचिंग की लाईब्रेरी में एक से बढ़कर एक बेहतर किताबें, कॉम्पटीशन एग्जाम के लिये उपलब्ध हैं। जिसका अध्ययन आप जल्द ही कर पायेंगे।
ज्ञान इलेक्ट्रॉनिक लाईब्रेरी भी प्रारंभ कराने की कही बात
            वेंकट लाईब्रेरी में ही स्थित और राजीव गांधी शिक्षा मिशन के तहत संचालित ज्ञान इलेक्ट्रॉनिक लाईब्रेरी के बंद होने की बात भी कलेक्टर के निरीक्षण के दौरान सामने आई। जिसे गंभीरता से लेते हुये ज्ञान इलेक्ट्रॉनिक लाईब्रेरी को प्रारंभ करने के लिये सार्थक प्रयास करने की बात भी कलेक्टर श्री गढ़पाले ने कही।

युवाओं और खिलाडि़यों के लिए राज्य सरकार ने उठाये है कई महत्वपूर्ण कदम -राज्यमंत्री संजय सत्येन्द्र पाठक

कटनी / मध्यप्रदेश की सरकार खिलाडि़यों को प्रोत्साहन देने में अव्वल रही है। जहां प्रदेश की प्रत्येक विधानसभा में खेल-कूद की गतिविधियों को प्रोत्साहित करने के लिये विधायक कप का आयोजन किया है। वहीं खेल मैदान के विस्तार के लिये धनराशि उपलब्ध कराई गई है। यह बात खमतरा में स्वामी विवेकानंद क्रिकेट क्लब द्वारा आयोजित जिलास्तरीय टेनिस बॉल प्रतियोगिता के पुरस्कार वितरण समारोह में प्रदेश के सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम राज्यमंत्री संजय सत्येन्द्र पाठक ने कही। अपनी बात रखते हुये उन्होने कहा कि युवाओं और खिलाडि़यों को ध्यान में रखते हुये राज्य सरकार द्वारा कई महत्वपूर्ण कदम उठाये गये है। इस वर्ष के बजट में भी युवाओं के लिये 1 हजार करोड़ रुपये का प्रावधान है। युवाओं, खिलाडि़यों और बेरोजगारों के लिये जो राज्य की प्रदेश सरकार कर रही है, एैसे प्रयास किसी भी सरकार द्वारा नहीं किये गये हैं।
प्रदेश की धरती से सचिन तेंदुलकर जैसे क्रिकेटर निकलेंगे




            जिलास्तरीय क्रिकेट प्रतियोगिता के समापन के अवसर पर राज्यमंत्री श्री पाठक ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा खिलाडि़यों को प्रोत्साहित करने के लिये हर संभव प्रयास किये जा रहे है। निःसंदेह मध्यप्रदेश की धरती से भविष्य में सचिन तेंदुलकर जैसे क्रिकेटर्स निकलेंगे, जो सम्पर्ण विश्व में अपनी पताका फहरायेंगे।
खिलाड़ी भाव लेकर जो बढ़ता है, वो असफल नहीं होता
            पुरस्कार वितरण के दौरान खेल और खेलभाव के महत्व को जीवन में बताते हुये राज्यमंत्री श्री पाठक ने कहा कि खिलाड़ी भाव महत्वपूर्ण है। जो भी युवा खिलाड़ी भाव लेकर आगे बढ़ता है, वो जीवन में कभी असफल नहीं हो सकता है। सफलता उसके कदम चूमती है। इसलिये यहां उपस्थित सभी खिलाड़ी और युवा खेल और खिलाड़ी भावना को लेकर जीवन में आंगे बढ़ें। साथ ही उपस्थित बच्चों को भी श्री पाठक ने कोई ना कोई एक खेल अनिवार्य रुप से खेलने की बात कही। ताकि शारीरिक रुप से सभी स्वस्थ्य रहें।
रोमांचक मुकाबले में जीती देवरी मुड़वारी क्रिकेट क्लब
            खमतरा के ग्राउंड में स्वामी विवेकानंद क्रिकेट क्लब द्वारा आयोजित जिलास्तरीय टेनिस बॉल टूर्नामेंट में फाईनल मुकाबला देवरी मुड़वारी क्रिकेट क्लब और लोढ़ा चंदिया क्रिकेट क्लब के मध्य खेला गया। जिसमें रोमांचक मुकाबले में जीत हासिल करते हुये देवरी मुड़वारी क्रिकेट क्लब ने खिताब अपने नाम किया। विजेता और उपविजेता टीम को राज्यमंत्री  संजय सत्येन्द्र पाठक और उपस्थित अतिथियों ने पारितोषक वितररित किये। इस दौरान सीरीज में उमदा प्रदर्शन पर मैन ऑफ द सीरीज टोनी को और मैच में शानदार प्रदर्शन पर मैन ऑफ द मैच संदीप को दिया गया।
            इस दौरान जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती ममता पटैल, जिला पंचायत सदस्य  अजय गौंटिया व सुश्री पूजा देवी सिंह, पूर्व जिला पंचायत उपाध्यक्ष डॉ सुशील राय, पूर्व जनपद पंचायत अध्यक्ष  राजेश चौरसिया,  राम प्रसाद शुक्ला, जनप्रतिनिधि  अभिलाष कश्यप,  बसंत चौरसिया, क्रिकेट टूर्नामेंट के आयोजक जितेन्द्र वैश सहित आस पास के ग्रामों के सरपंच एवं जनप्रतिनिधि उपस्थित रहे।

Thursday, March 09, 2017

गांव को निरक्षर मुक्त किये जाने की शपथ दिलाई

कटनी / विजयराघवगढ़ के ग्राम गुड़गुड़ौंहा में साक्षर भारत अभियान के तहत विभिन्न जागरुकता गतिविधियों का आयोजन किया गया। इसके तहत बीआरसी कार्यालय, जन अभियान परिषद और एसीसी के जन मंगल संस्थान के द्वारा संयुक्त रुप से जागरुकता रैली निकाली गई। जिसके बाद प्राथमिक शाला गुड़गुड़ौंहा में एकत्रित होकर उपस्थित ग्रामीणों को पूरे गांव को निरक्षर मुक्त किये जाने की शपथ दिलाई गई। इस दौरान बीआसी, जनपद सदस्य ने उपस्थित सदस्यों को आगामी 10 दिनों में गांव के सभी निरक्षरों को एकत्रित कर उन्हें घर-घर जाकर साक्षर बनाने के लिये शिक्षित-प्रशिक्षित करने की बात कही। इस दौरान जन अभियान परिषद के ब्लॉक समन्वयक, जनशिक्षक, सरपंच और साक्षरता प्रेरक मौजूद रहे।


Wednesday, March 08, 2017

महिला सिर्फ अपना ही नही पूरे परिवार, समाज एवं देश का विकास करती है

कटनी / अंर्तराष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर महिला सशक्तिकरण व महिला एवं बाल विकास विभाग के तत्वाधान में शक्ति संगम कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिला पंचायत सभागृह में आयोजित इस कार्यक्रम में सदस्य राज्य महिला आयोग अंजू सिंह बघेल, महापौर शशांक श्रीवास्तव और जिला पंचायत अध्यक्ष ममता पटेल उपस्थित रहीं।
            कार्यक्रम में कटनी जिलें में अपने कार्यक्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाली महिलाओं एवं स्कूल व कॉलेज में खेल एवं अन्य गतिविधियों में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाली छात्राओं को स्मृति चिन्ह प्रदान कर सम्मानित किया गया।
            कार्यक्रम में उपस्थित मुख्य अतिथि अंजू सिंह बघेल ने कहॉ कि आज महिलायें विभिन्न क्षेत्रों में आगे आकर उत्कृष्ट कार्य कर रही है। यह हमारे लिये बहुत गर्व की बात है। महिला सिर्फ अपना ही नही अपितु अपने पूरे परिवार, समाज एवं देश का विकास करती है। इस मौके पर उन्होने कार्यक्रम में उपस्थित जिला पंचायत अध्यक्ष ममता पटेल की पुत्री दिव्या पटेल का भी उप पुलिस पुधीक्षक बनने का उदाहरण प्रस्तुत किया और कहॉ कि यह हम सबके एवं कटनी नगर के लिये गौरव की बात है।
            महापौर शशांक श्रीवास्तव द्वारा महिलाओं को अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस की शुभकामनायें देते हुये, उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाली महिलाओं एवं बालिकाओं की प्रशंसा की। जिला पंचायत अध्यक्ष ममता पटेल द्वारा कार्यक्रम में उपस्थित बालिकाओं को उत्कृष्ट प्रदर्शन कर अपने परिवार, समाज एवं नगर व देश का नाम रोशन करने हेतु प्रेरित किया। कार्यक्रम के अंत में वनश्री कुर्वेती, जिला महिला सशक्तिकरण अधिकारी, द्वारा उपिस्थत जनसमुदाय आभार व्यक्त किया गया। कार्यक्रम का संचालन डाईट के व्याख्याता राजेन्द्र असाटी द्वारा किया गया।
            कार्यक्रम में अपर कलेक्टर डॉ सुनन्दा पंचभाई, जिला कार्यक्रम अधिकारी अखिलेश जैन, जिला पंचायत सदस्य अजय गोटिया, चित्रा प्रभात, प्राध्यापक, तिलक कॉलेज, कटनी, डॉ यंशवंत वर्मा एवं बाल कल्याण समिति के सदस्य व जिलें की विभिन्न विभागों में कार्यरत महिला अधिकारी, कर्मचारी उपस्थित रही।