Saturday, October 29, 2016

कलेक्टर एवं एसपी ने दी जिलेवासियों को दीपावली पर्व की शुभकामनायें

कटनी / कलेक्टर विशेष गढ़पाले एवं एसपी गौरव तिवारी ने प्रकाश के पर्व दीपावली की सभी जिलेवासियों को शुभकामनाएं दी हैं। उन्होने जिलेवासियों को शुभकामनायें देते हुए कहा कि, दीपावली का त्यौहार सौहार्दपूर्ण वातावरण में मनायें। छोटे बच्चों को बड़े पटाखों से दूर रखें तथा पटाखों को जलाते समय ऐहतियात बरतें। अज्ञान रूपी अंधकार को प्रकाश रूपी ज्ञान से दूर करते हुए समाज में सद्भावना का संचार करें।

Thursday, October 27, 2016

वूमेन्स आॅफीसर्स क्लब कटनी ने वृद्धजनों के साथ मनाई दीवाली

कटनी / जो व्यक्ति अपने परिवार से दूर है और उन्हें दीपावली त्यौहार के पहले एक परिवार की तरह माहौल मिले और त्यौहार मनानें की खुशियां मिल जाये तो उनकी खुशी का क्या ठिकाना होगा यह बात वृद्ध आश्रम के वृद्धजन ही बता
सकते है ।  वूमेन्स आॅफीसर्स क्लब कटनी की अध्यक्ष श्रीमती रश्मि विशेष गढ़पाले के साथ क्लब की सदस्य श्रीमति किरण भारद्वाज, श्रीमति प्रीति त्रिपाठी, श्रीमति रश्मि सिंह राजपूत, श्रीमति शुभा जैन, श्रीमति विभा शुक्ला, श्रीमति वर्षा पुष्प, श्रीमति नीलम जैन, श्रीमति सरिता सोनी, श्रीमति अर्चना मिश्रा, श्रीमति पारूल नामदेव ने बच्चन नायक वृृद्धा आश्रम में वृद्ध जनों के साथ दिल की दिवाली मनाई । जब वृद्ध आश्रम मे वूमेन्स आॅफीसर्स क्लब कटनी की अध्यक्ष एवं सदस्य पहुंची तो  सदस्यों ने वृद्ध आश्रम में कैंडिल जलायीं और आश्रम को रोशन किया। कटनी क्लब के सभी सदस्यों एवं उनके परिवार के बच्चों ने वृद्धजनो के साथ फटाखे, फुलझडियां जलाई और मिठाईयां, पटाखे एवं शाल वृद्धजनो को ससम्मान भेंट किये गये। इस मौके पर वृद्धजनों ने पुराने गीत, भजन गाये जिनका साथ वूमेन्स आॅफीसर्स क्लब के सभी मेम्बर्स ने दिया।
 परिवार की कमी हुई दूर 
वृद्ध आश्रम में रह रहें पूनम चंद्र सोनी ने कहा कि, आज ऐसा लग रहा है कि, हम परिवार के साथ दिवाली की खुशियां मना रहें है, सभी का साथ परिवार जैसा लग रहा है।    वहीं राजलक्ष्मी ने कहा कि, आज सबके साथ बैठकर बातें करकर और आश्रम में दिवाली जैसा माहौल देखकर बहुत अच्छा लग रहा है यहा एक पूरे परिवार की तरह सब मिलकर खुशियां मना रहें है ।
इसके साथ-साथ वूमेन्स आॅफीसर्स क्लब कटनी के मेम्बर्स ने सभी वृद्धजनो को भोजन कराया और उनके हालचाल जाने ।

बर्ड फ्लू को लेकर सचेत रहें

कटनी / अपनी रक्षा ही अपनो की सुरक्षा है। बर्ड फ्लू को लेकर सचेत रहें। नागरिकों और पोल्ट्री फॉर्म संचालकों को इस संक्रामक बीमारी की जानकारी दें। उन्हें सुरक्षा के उपाय बतायें। साथ ही विकास खण्ड स्तर पर इस रोग के प्रकोप के नियंत्रण को लेकर प्रकोष्ट भी गठित करें। यह निर्देश बर्ड फ्लू (एविएन एन्फ्लूएंजा) को लेकर आयोजित बैठक में अपर कलेक्टर डॉ सुनन्दा पंचभाई ने उपसंचालक पशु चिकित्सा सहित संबंधित विभाग के अधिकारियों को दिये। उन्होने कहा कि इस रोग की रोकथाम के लिये कार्य करने वाले अमले की भी बचाव की चिंता करें। उन्हें बचाव के लिये आवश्यक उपकरण भी उपलब्ध करायें। बैठक में उपसंचालक पशु चिकित्सा द्वारा बर्ड फ्लू फैलने के कारणों, लक्षणों, उससे बचाव एवं उसकी तैयारियों को लेकर विस्तार से जानकारी दी गई।
यह है बर्ड फ्लू
बर्ड फ्लू मुर्गी पालन व्यवसाय के लिये बड़ा खतरनाक है।
संक्रमित पक्षी के संपर्क में संक्रमण मनुष्यों में भी फैल सकता है।
बर्ड फ्लू के वायरस एशिया, अफ्रीका और यूरोप के कई देशों में मुर्गी-पालन व्यवसाय को नुकसान पहुॅंचाया है।
यह वायरस अत्यंत संक्रामक है जिसके कारण मुर्गी-पालन व्यवसाय को नुकसान उठाना पड़ सकता है।
बर्ड फ्लू के लक्षण
मनुष्य खासकर बच्चे, अगर बीमार पक्षी की श्लेष्मा (म्यूकस) बीट और पंखों के संपर्क में आ जाये, तो उनमें संक्रमण फैल सकता है।
मनुष्यों में बर्ड फ्लू के लक्षण साधारण फ्ले से मिलते जुलते हैं। जैसे सांस लेने में तकलीफ, तेज बुखार, जुकाम और नाक बहना। एैसी शिकायत होने पर स्वास्थ्य अधिकारी को तुरन्त इसकी जानकारी दें।
बर्ड फ्लू से एैसे बचें
मुर्गियों के सीधे संपर्क में न आयें। दस्ताने या किसी भी अन्य सुरक्षा साधनों का इस्तेमाल करें।
पक्षियों के पंख, श्लेष्मा (म्यूकस) और बीट को न छुयें।
छुये जाने की स्थििति में साबुन से तुरंत अच्छे तरीके से हाथ धायें।
मुर्गियों को बाड़े में रखें।
संक्रमित पक्षियों को मारकर उनका सुरक्षित निपटान करें।
बीमार अथवा मरे हुए पक्षी की सूचना पशु पालन विभाग को तुरंत दें। ऐसा करना आवश्यक है। अच्छे से पकाये गये चिकन एवं अण्डे खाने में कोई खतरा नहीं है।
बैठक में पशु पालन विभाग के अधिकारियों सहित संबंधित विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

Wednesday, October 26, 2016

अपराधियों के विरूद्ध सघन अभियान चलायें


भोपाल / मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कलेक्टर्स-एस.पी. की संयुक्त कांफ्रेंस बैठक में कानून-व्यवस्था की स्थिति की विस्तार से समीक्षा की। उन्होंने कहा कि प्रदेश में आदतन अपराधियों, गुण्डों और माफिया स्मगलरों के विरूद्ध सघन अभियान चलायें। बेटियों और महिलाओं के लिये प्रदेश को सबसे सुरक्षित प्रदेश बनायें। अवांछित गतिविधियों पर कड़ी नजर रखें। किसी भी कीमत पर आतंकवाद से जुड़ी गतिविधियों को पनपने नहीं दें। जेलों की सुरक्षा पर कड़ी निगरानी रखें। कलेक्टर और एस.पी. सुनिश्चित करें कि बिना अनुमति के नये धार्मिक स्थल नहीं बनाये जायें। समाज को बाँटने वाली प्रवृत्तियों को रोके। नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में जन-कल्याणकारी योजनाओं का क्रियान्वयन कर लोगों को लाभ दिलायें।

सायबर अपराधों के बारे में लोगों को जागरूक करें

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि सायबर आतंकवाद से निपटने के लिये पुलिस सूचना प्रौद्योगिकी विभाग के साथ मिलकर एडवांस टेक्नालॉजी की व्यवस्था करें। सायबर अपराधों के संबंध में लोगों में जागरूकता लायें। सैन्य संस्थानों से समन्वय रखें। हवाई पट्टियों की सुरक्षा के पर्याप्त प्रबंध करें। प्रत्येक जिले में क्राइसिस मैनेजमेंट प्लान की समय-समय पर समीक्षा की जाये। आपदा के समय समन्वय से उपचार और सुरक्षा व्यवस्थाएँ सुनिश्चित की जाये। विस्फोटक लायसेंस और भंडारण की नियमित और लगातार चेकिंग की जाये। अवैध रूप से विस्फोटकों का भण्डारण नहीं हो, यह सुनिश्चित करें।

समाज की भागीदारी से सुरक्षा व्यवस्थाएं करें

जिलों में विशिष्ट तथा अति विशिष्ट अतिथियों के आगमन के पहले विधिवत रिहर्सल की जाये तथा सुरक्षा के सभी मानकों का पालन किया जाये। त्यौहारों के दौरान समाज की भागीदारी से सुरक्षा व्यवस्थाएँ की जायें। नागरिकों के मन में विश्वास रहे कि राज्य सरकार उनके साथ है। प्रशासन सही समय पर सही कदम सबको विश्वास में लेकर दृढ़ता से उठायें। पिछले दिनों त्यौहारों के दौरान सभी जिलों ने समन्वय से बेहतर काम किया है। मुख्यमंत्री ने कहा है कि समाजों के बीच आपसी विवादों के निराकरण के लिये प्रभारी मंत्री पहल करें। भूमि अधिग्रहण के लंबित प्रकरणों में प्राथमिकता से कार्रवाई करें।

सड़क सुरक्षा के नियमों का पालन सख्ती से

मुख्यमंत्री ने कहा कि अवैध खनिज उत्खनन और परिवहन को रोकने के दौरान शासकीय कर्मियों पर हुए हमले की घटना को गंभीरता से लें और दोषियों पर सख्त कार्रवाई करें। सड़क दुर्घटनाओं को गंभीरता से लें। नशे में वाहन चलाने वालों के विरूद्ध अभियान चलाकर कार्रवाई करें। सड़क सुरक्षा के नियमों का पालन सख्ती से करवायें। अवैध आग्नेय शस्त्रों के निर्माण में लगे सिकलीगर समुदाय के पुनर्वास के लिये वैकल्पिक रोजगार की योजना बनायें। वन्य-प्राणी अपराधों की रोकथाम के लिये सख्ती से कार्रवाई करें। चिटफण्ड कंपनियों के बारे में लोगों को जागरूक करने का अभियान चलायें। लोगों से धोखाधड़ी करने वाली ऐसी कंपनियों के विरूद्ध सख्त कार्रवाई करें।

प्रभारी मंत्री जिलों में कानून-व्यवस्था की स्थिति की समीक्षा करेंगे

मुख्यमंत्री ने कहा कि जिला बदर और राष्ट्रीय सुरक्षा कानून का उपयोग अपराधों के खिलाफ प्रभावी ढंग से किया जाये। महिलाओं से संबंधित अपराधों के मामले में प्रभावी कार्रवाई की जाये। सार्वजनिक स्थलों को सुरक्षित बनायें। प्रभारी मंत्री तीन माह में एक बार अपने प्रभार के जिले में कानून-व्यवस्था की स्थिति की समीक्षा करें। बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान को नये स्वरूप में संचालित किया जायेगा। जघन्य अपराधों के मामलों में तेजी से सजा दिलाने की प्रक्रिया जारी रखी जाये।

आपदा प्रबंधन की स्थिति की समीक्षा करते हुए मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि सभी जिलों में आपदा प्रबंधन के लिये पर्याप्त संसाधन सुनिश्चित करें। सभी कलेक्टर जिलों की आवश्यकता के अनुरूप संसाधनों की मांग करें तथा आपदा प्रबंधन बल में संख्या बढ़ायें। जिन स्थानों पर विशेष अवसरों पर अधिक भीड़ एकत्रित होती है, उन स्थानों के लिये विस्तृत और अग्रिम योजना बनायें । उन्होंने कहा कि सिंहस्थ के दौरान आपदा प्रबंधन के लिये प्रशासन, पुलिस और जनता के सहयोग से अभूतपूर्व कार्य किया गया।

बेहतर काम करने वाले जिलों को बधाई

मध्यप्रदेश विष (कब्जा और विक्रय) नियम 2014 के तहत एसिड लायसेंस के प्रकरणों का ऑनलाइन निराकरण करें। अपने जिलों से अलग-अलग क्षेत्र में दिये जाने वाले पुरस्कारों के प्रस्ताव भेजें। बैठक में कानून-व्यवस्था के लिये बेहतर काम करने वाले जिलों जबलपुर, भोपाल, उज्जैन, इंदौर, ग्वालियर, सिवनी, खण्डवा, देवास, खरगोन और रतलाम जिलों के कलेक्टर और एस.पी. को मुख्यमंत्री ने बधाई दी। उन्होंने कहा कि बेहतर काम करने वाले अधिकारियों की प्रशंसा सी.आर. में भी दर्ज की जायेगी। महिला अपराधों के रोकथाम के लिये बेहतर काम करने वाले जिलों भोपाल, पन्ना, अशोकनगर, बैतूल और कटनी जिलों के कलेक्टर और एस.पी. को बधाई दी गई। इसी तरह भिण्ड जिले के कलेक्टर और एस.पी. को परीक्षाओं में नकल रोकने के लिये चलाये गये अभियान के लिये मुख्यमंत्री ने बधाई दी। बताया गया कि अनुसूचित जाति, जनजाति अत्याचार निवारण अधिनियम के तहत राहत के लिये खरगोन, रतलाम, दमोह और गुना जिलों में बेहतर कार्य हुआ है। बैठक में मंत्रीमंडल के सदस्य, मुख्य सचिव, अपर मुख्य सचिव, प्रमुख सचिव, कमिश्नर, आई.जी. सहित प्रशासन और पुलिस के अधिकारी उपस्थित थे।

Tuesday, October 25, 2016

कलेक्टर - एसपी करेंगे हाईटेक निगरानी

कटनी / बढ़ते संसाधनों के साथ ही जहॉं सभी गतिविधियॉं ‘‘ई‘‘ होती जा रही हैं। चुनावी प्रचार में सोशल मीडिया का उपयोग किया जा रहा है। वहीं शहडोल लोकसभा उपनिर्वाचन में प्रशासन द्वारा भी सूचना तकनीक के ही साथ प्रौद्योगिकी का भरपूर उपयोग किया जा रहा है। इसकी बानगी ही है कि, संचार प्रतिनिधियों के साथ ही जिले के नागरिकों को सोशल मीडिया पर जहॉं सूचनायें व जानकारी उपलब्ध कराई जा रही हैं। वही ब्लॉग पर भी। इतना ही नहीं शहडोल लोकसभा उपनिर्वाचन जिले में शांतिपूर्ण ढंग से संपन्न हों, अप्रिय स्थिति न बने। इसके लिये प्रशासन ने कमर कसते हुए तैयारियॉं प्रारंभ कर दी हैं।
      इसी कड़ी में कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी विशेष गढ़पाले के निर्देशन में बडवारा में बनाया जा रहा स्ट्रांग रुम भी तीसरी नजर की जद् में रहेगा। मॉनीटरिंग के लिये स्ट्रांग रुम के के आसपास 4 सीसीटीव्ही कैमरे ई-गर्वनेंस सोेसाईटी द्वारा लगाये जायेंगे। जिनका सतत् निरीक्षण मॉनीटरिंग सैल द्वारा तो किया ही जायेगा। साथ ही कलेक्टर और एसपी भी अपने कार्यालयों के साथ इसके आगे बढ़कर अपने मोबाईल पर भी स्ट्रांग रुम के इर्द-गिर्द हो रही गतिविधियों की 24 घंटे मॉनीटरिंग कर सकेंगे। वहीं क्रिटीकल पोलिंग बूथ पर भी वेबकास्टिंग द्वारा मतदान के दिन नजर रखी जायेगी।
हाईटेक ढंग से सूचनाओं का हो रहा संप्रेषण
      जिला प्रशासन द्वारा लोकसभा उपनिर्वाचन में अधिकारियों और कर्मचारियों के मध्य सूचनाओं के संप्रेषण का भी हाई-टेक व आधुनिक तरीका अपनाया जा रहा है। निर्वाचन संबंधी आदेश और निर्देश हार्ड कॉपी के साथ ही सॉफ्ट कॉपी में लोकप्रिय मोबाईल एप वॉट्सएप पर त्वरित रुप से भेजे जा रहे हैं। इससे परंपरागत ढंग से डाक वितरण में लगने वाले समय और कार्यवाही में देरी से बचा जा रहा है। अधिकारियों द्वारा त्वरित रुप से निर्देश प्राप्त होते ही कार्यवाही की जा रही है।
      अपर कलेक्टर एवं उपजिला निर्वाचन अधिकारी डॉ. सुनन्दा पंचभाई द्वारा ‘‘लोकसभा उप चुनाव-16‘‘ के नाम से भी वॉट्सएप समूह संचालित किया जा रहा है। वहीं जनसंपर्क कटनी द्वारा ब्रॉडकॉस्ट लिस्ट एवं विभिन्न वॉट्सएप समूहों पर संचार प्रतिनिधियों को निर्वाचन संबंधी समाचार एक क्लिक पर उपलब्ध कराये जा रहे हैं।  

Monday, October 24, 2016

पेड न्यूज पर कंट्रोल रुम रखेगा पैनी नजर

कटनी / शहडोल लोकसभा उपनिर्वाचन-2016 के तहत बड़वारा विधानसभा के लिये आगामी माह में संपन्न होने वाले निर्वाचन हेतु वीडियोग्राफी, एमसीएमसी, पेड न्यूज, कॉल सेंटर, कंट्रोलरुम एवं डाक मतपत्र टीम को प्रशिक्षण देते हुए अपर कलेक्टर एवं उपजिला निर्वाचन अधिकारी डॉ. सुनन्दा पंचभाई ने डाक मतपत्र एवं निर्वाचन संबंधित बारीक जानकारियॉं प्रदान करते हुए संबंधित टीमों को बतलाया कि आप लोगो को सौंपे गये कार्य अतिमहत्वपूर्ण हैं। इसे पूर्ण सजगता, कर्मठता एवं तत्परता के साथ संपादित करना होगा। निर्वाचन कार्य में किसी भी तरह की चूक क्षम्य नहीं होगी।
            जिला पंचायत सभागार में आयोजित वीडियोग्राफी, एमसीएमसी, पेड न्यूज, कॉल सेंटर, कंट्रोलरुम एवं डाक मतपत्र टीम का का एक दिवसीय प्रशिक्षण संपन्न हुआ। इसमें संबंधित दलों को मास्टर ट्रेनर्स द्वारा गहन प्रशिक्षण प्रदान किया गया। प्रशिक्षण के दौरान मास्टर ट्रेनर्स ने बताया कि पोस्टल बेलेट/ईडीसी जारी होने के बाद संबंधित अधिकारियों, कर्मचारी अपनी तैनाती मतदान केन्द्रों में ही मतदान कर सकेंगे। डाक मतपत्र के कलर एवं उसमें संबंधित जानकारी भरी जाने के लिये भी प्रशिक्षण प्रदान किया गया। पर्ण एवं प्रतिपर्ण का विशेष ध्यान रखने के लिये मास्टर ट्रेनर्स ने प्रशिक्षणार्थियों को प्रशिक्षित किया।
            कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी विशेष गढ़पाले मार्गदर्शन में आयोजित इस प्रशिक्षण में मास्टर ट्रेनर्स मुकेश द्विवेदी एवं डॉ. सुनील वाजपेयी ने डाक मतपत्र जारी करने, पेड न्यूज, वीडियोग्राफी, आदर्श आचरण संहिता के पालन के लिये संबंधित टीमों को उन्हे सौंपे गये कार्यों के बारे में अन्य विस्तृत जानकारी मुहैया कराकर कार्य करने के तौर-तरीके भी बताये।
            पेड न्यूज पर कंट्रोल रुम द्वारा पैनी निगाहें रखी जायें। प्रेस काउंसिल ऑफ इंडिया की गाईड लाईन का पालन किया जाये। प्रिंट एवं इलेक्ट्रॉनिक चैनलों के समाचारों का सतत अवलोकन करते हुए प्रतिदिन की जानकारी से आयोग को अवगत कराया जाये। पूर्ण सतर्कता के साथ कार्य करें।
प्रशिक्षण में एसडीएम ढीमरखेडा राजेश पटेल, नोडल अधिकारी (प्रशिक्षण) परियोजना संचालक आत्मा एन.डी.गुप्ता, सहायक नोडल अधिकारी के.डी. सिंह, उपसंचालक खनिज एवं कृषि सहित अन्य सभी अधिकारीगण उपस्थित थे।

Saturday, October 22, 2016

पूरे देश के पुलिस विभाग के अमर-शहीदों को श्रद्धांजली दी

कटनी / 21 अक्टूबर को पुलिस विभाग के राष्ट्रीय शहीद दिवस पर शौर्य स्मारक पहुॅंचकर कलेक्टर विशेष गढ़पाले एवं पुलिस अधीक्षक गौरव तिवारी ने शहीदों को नमन करते हुए पुष्पचक्र अर्पित कर भाव-भीनी श्रद्धांजली अर्पित की। इसके पूर्व गत संध्या सुभाष चौक में पुलिस प्रशासन द्वारा ‘‘एक शाम शहीदों के नाम‘‘ कार्यक्रम आयोजित कर देश-भक्ति की अलख जगाई गई।
 
        पुलिस लाईन झिंझरी में स्थापित शौर्य स्मारक में 21 अक्टूबर को प्रातः 9 बजे पुलिस बैंड की मातमी धुन के मध्य एवं शस्त्र उल्टे कर पुलिस विभाग के अमर-शहीदों को कलेक्टर विशेष गढ़पाले व पुलिस अधीक्षक गौरव तिवारी द्वारा श्रद्धा सुमन के रुप में पुष्प चक्र अर्पित किये गये। इसके पूर्व पुलिस अधीक्षक गौरव तिवारी द्वारा पूरे देश में पुलिस विभाग के अमर-शहीदों के नामों का स्मरण कर उन्हे श्रद्धांजली दी। शस्त्र उल्टे कर परेड द्वारा सलामी दी
गई। इस अवसर पर उपस्थित सीएसपी शशिकांत शुक्ला, कटनी कोतवाली टीआई एसपीएस बघेल, माधवनगर टीआई के.पी.मिश्रा, कुठला टीआई विपिन सिंह, एनकेजे थाना प्रभारी अनूप दुबे, ट्रेफिक सूबेदार लवली सोनी सहित उपस्थित अन्य सभी थाना प्रभारियों ने भी शौर्य स्मारक में अमर-शहीदों को सलामी देते हुए पुष्प माला अर्पित किये।
            कलेक्टर व पुलिस अधीक्षक द्वारा जिले के शहीद कांस्टेबल अशोक सोनी, शहीद हेड कांस्टेबल श्रवण गर्ग की पत्नियों क्रमशः कमला सोनी व जयंती गर्ग को शॉल, श्रीफल व पुष्प गुच्छ भेंटकर सम्मान किया। पुलिस अधीक्षक ने इस अवसर पर बताया कि पुलिस सेवा के दौरान समूचे देश में आज के दिवस को शहीद दिवस के रुप में मनाया जाकर विभाग के अमर शहीदों का स्मरण किया जाता है।

अपने वतन का हर दम सम्मान करता हूॅं,
तिरंगा हो कफन मेरा यही अरमान रखता हूॅं
देश प्रेम के गीतों ने शमा बांधा ‘‘एक शाम शहीदों के नाम‘‘ कार्यक्रम में
            पुलिस अधीक्षक  गौरव तिवारी की अभिनव पहल के तहत जिला पुलिस प्रशासन द्वारा 20 अक्टूबर की रात्रि 7 बजे स्थानीय सुभाष चौक में ‘‘एक शाम शहीदों के नाम‘‘ कार्यक्रम का गरिमामय आयोजन सम्पन्न हुआ। जिसमें ऑर्केस्ट्रा माईकल के कलाकारों माईकल, संजीव अवस्थी, अनिल श्रीवास,
संतोष वासनिक, रामा चौधरी, अनूप कैथवास, चन्द्र शेखर, शशिकांत एवं धीरेंन्द्र चौधरी सहित अन्य नेे देश प्रेम के गीतों से उपस्थित जनता में एक बार फिर देश प्रेम का जज्बा पैदा किया।

            कार्यक्रम का शुभारंभ कलेक्टर विशेष गढ़पाले व पुलिस अधीक्षक गौरव तिवारी द्वारा भारत माता के छाया चित्र पर माल्यार्पण कर एवं अमर-शहीदों के सम्मान हेतु दीप प्रज्वलित कर किया गया। मेरा रंग दे बसंती चोला से प्रारंभकर एक से बढ़कर एक राष्ट्र प्रेम से ओत-प्रोत गीतों की भाव-भीनी प्रस्तुति उपस्थित जनसमुदाय की तरतल घ्वनियों के मध्य प्रस्तुत की गई। माधवनगर टीआई के.पी.मिश्रा द्वारा भी अपने गीतों की प्रस्तुति दी गई।
            अपने उद्बोधन में पुलिस अधीक्षक तिवारी ने कहा कि पुलिस सेवा में रहते हुए अपने प्राणों की आहुति देने वाले अमर शहीदों की याद में हर वर्ष समूचे राष्ट्र में 21 अक्टूबर को शहीद दिवस मनाया जाता है। आपने पुलिस एवं जनता के बीच संवाद स्थापित कर अच्छे समन्वय स्थापित करने की पहल को भी अनुकरणीय बताया। आपने कहा कि गतवर्ष 500 से ज्यादा पुलिसकर्मी शहीद हुए हैं। सन् 1960 से अब तक 50 हजार से अधिक पुलिस अधिकारियों, कर्मचारियों ने डियुटी के दौरान अपने प्राणों की आहुति दी है। वर्तमान दौर में समाज में बदलाव लाना जरुरी है और जनता में पुलिस के प्रति सोच को बदलना भी जरुरी है। पुलिस को समाज से अलग नहीं किया जा सकता। जनता भी अपने कर्तव्यों का निर्वहन करे। जिले की पुलिस को प्रदेश की सर्वश्रेष्ठ पुलिस निरुपित कर आपने बधाई दी।
            कार्यक्रम में पुलिस विभाग के समस्त अधिकारीगण, संचार-प्रतिनिधिगण, जनप्रतिनिधिगण, गणमान्य नागरिकगण एवं व्यापारियों की उपस्थिति उल्लेखनीय रही।

आरटीओ के निर्माणाधीन भवन में हो रहा था शासकीय धन का दुरुपयोग

कटनी / शासकीय धन का दुरुपयोग व निर्माण कार्यों में धांधली और लेटलतीफी बिलकुल भी बर्दाश्त नहीं की जायेगी। इस बिल्डिंग के प्लास्टर और अब तक हुए निर्माण की संपूर्ण तकनीकी जॉंच करायें। ठेकेदार को ब्लेक लिस्टेड करें। खराब निर्माण कार्यों को तोड़कर तत्काल सुधार कार्य करायें। साथ ही नये निर्माण कार्य में गुणवत्ता का विशेष ध्यान रखें।
यह दो टूक, स्पष्ट व् सख्त निर्देश शनिवार दोपहर 12 बजे कटनी शहर से लगभग 6 किलोमीटर दूर मझगवां फाटक के आगे टोल प्लाजा के नजदीक परिवहन विभाग की निर्माणाधीन बिल्डिंग के निरीक्षण के दौरान कलेक्टर विशेष गढ़पाले ने दिये।
निर्माणाधीन भवन में लगभग हर जगह गुणवत्ताहीन निर्माण कार्यों को लेकर तल्ख तेवर के साथ कलेक्टर विशेष गढ़पाले  ने संबंधित अधिकारियों को भी आड़े हाथों लिया और कहा कि निमार्ण कार्यों का समय समय पर यदि आप लोगों ने निरीक्षण किया होता तो आज ये नौबत नहीं आती।
लोक निर्माण विभाग व पीआईयू के अधिकारियों को दिये कड़े निर्देश में कलेक्टर ने कहा कि, एक तकनीकी टीम बनाकर इस समस्त निर्माण कार्य की तकनीकी जॉंच करायें। भूतल व प्रथम तल के प्लास्टर की भी रेंडम जॉंच करायें। जगह-जगह आई दरारों को सुधारने के लये तत्काल सुधार कार्य करायें। फ्रंट सेक्शन के बारजे व अधूरे निर्माण कार्यों को तुड़वाकर नया निर्माण कार्य करायें। अन्य लंबित निर्माण कार्यों को भी आप लोग अपनी सतत् निगरानी में पूर्ण करायें।
निर्माण कार्य में किसी भी तरह की धांधली पर प्रशासन कड़े कदम उठायेगा। उन्होने सम्बंधित अधिकारियों व ठेकेदार को स्पष्ट चेतावनी दें कि समय सीमा के भीतर गुणवत्ता् के साथ निर्माण कार्य पूर्ण कराएं। अन्यथा नियमानुसार सख्त कार्यवाही होगी। श्री गढ़पाले ने निर्माणधीन भवन की छत पर पानी भरकर उसकी भी सूक्ष्मता से जॉंच कराने के निर्देश दिए।
उन्होने अधिकारियों को दिये कड़े संदेश में कहा कि संपूर्ण निर्माण कार्यों की जॉंच के दौरान प्रत्येक बिन्दुओं की गहन जॉंच की जाये। घटिया निर्माण कार्य का मूल्यांकन यदि संबंधित उपयंत्री ने किया हो और भुगतान हुआ हो तो संबंधित के विरुद्व भी कार्यवाही प्रस्तावित करें। नई अप्रोच रोड व फ्रंट चेंज करें।
पीआईयू के अधिकारियों ने जानकारी देते हुए बताया कि लगभग 3 एकड़ क्षेत्र में स्थापित इस आरटीओ भवन का मुख्य भाग 882.86 वर्ग मीटर में निर्मित होगा। एप्रोच रोड, दो शेड भी स्थापित किये जायेंगे। कार्य की कुल अनुमानित लागत लगभग 3 करोड़ रुपये है। निरीक्षण के दौरान आरटीओ एम.के. मिश्रा, पीडब्लयूडी के ई.ई. जे.के. तिवारी, पीआईयू के ई.ई. श्री मिश्रा, जितेन्द्र सिंह बघेल सहित अन्य अधिकारीगण उपस्थित थे।

Thursday, October 20, 2016

एक क्लिक पर मिलेगी लोकसभा उपनिर्वाचन से जुड़ी हर खबर

कटनी / लोकतंत्र का सबसे बड़ा पर्व निर्वाचन होता है। क्योंकि इसमें नागरिक अपने द्वारा अपने मताधिकार का उपयोग कर अपने लिये जनप्रतिनिधियों का चुनाव करते हैं। ऐसे में चुनाव से जुड़ी समस्त सूचनाएं लोगों तक त्वरित गति से पहुंचे इसके लिए जिला जनसंपर्क कार्यालय कटनी ने एक नवाचार किया है। जिससे एक क्लिक पर लोकसभा के उपचुनाव के संबंध में समस्त जानकारी जिले के प्रतिनिधियों, राजनैतिक दलों, संचार प्रतिनिधियों से लेकर आमजन तक अपने मोबाइल या कंप्यूटर पर मिलेगी।
जिला जनसंपर्क कार्यालय कटनी द्वारा जिला निर्वाचन कार्यालय का ब्लॉग http://deokatni.blogspot.in के नाम से 18 अक्टूबर का बनाया गया है। इस ब्लॉग पर शहडोल लोकसभा के अंर्तगत आने वाली जिले की विधानसभा बड़वारा से जुड़ी गतिविधियों की जानकारी एक क्लिक पर मिल सकेगी।
एक प्लेटफॉर्म पर विविध वेब लिंक
यदि एक ही प्लेटफार्म पर कई तरह की जानकारी उपलब्ध हो जाए तो काम काफी आसान हो जाता है। ऐसे में जिला जनसंपर्क अधिकारी कटनी द्वारा कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी विशेष गढ़पाले के निर्देशन में आम नागरिकों तक निर्वाचन की महत्वपूर्ण सूचनाओं को पहुॅंचाने के लिये तैयार किए गए ब्लॉग पर चुनाव से जुड़े निर्वाचन आयोग के निर्देशों की लिंक भी उपलब्ध कराई गई है। इसके साथ ही जिला निर्वाचन के अलग-अलग क्षेत्रों की जानकारी, अपने बीएलओे के संबंध में जानकारी भी इस ब्लॉग पर मौजूद लिंक पर प्राप्त की जा सकती है।
सामान्य जानकारी से लेकर चुनावी विश्लेषण तक
जिले में कितने मतदाताओं की संख्या बढ़ी है। लोकसभा क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले किस विधानसभा क्षेत्र में कितने मतदाता हैं। इसके साथ ही नेशनल वोटर सर्विस पोर्टल की वेबसाइट http://www.nvsp.in/ पर जाकर मतदाता से लेकर लोकसभा के चुनाव में अपना योगदान दे रहे प्रशासन, जनप्रतिनिधि, संचार प्रतिनिधियों, सभी के लिए मतदाता संबंधी जानकारी भी एक क्लिक पर उपलब्ध हैं। ब्लॉग के निर्माण का उद्द्ेश्य मतदान के प्रति लोगों में जागरूकता बढ़ाना है क्योंकि लोकतंत्र में हर एक मत अमूल्य होता है।
शहर से दूर फिर भी रहेंगे अपडेट
व्यक्ति अपने गांव-शहर से भले ही कितनी दूर क्यों न हो उसे अपने नगर या ग्राम में हो रही चुनावी खबरों के बारे में जानने की चाह रहती ही है। ऐसे में शहडोल लोकसभा उपचुनाव से जुड़ी खबरें इस ब्लॉग के माध्यम से शिक्षा, नौकरी या किसी अन्य वजह से अपने शहर या प्रांत से दूर रह रहे लोगों को भी मिल सकेगी।

Tuesday, October 18, 2016

मतदान से ही नागरिक समस्याओं का समाधान कर सकते हैं


19 नवंबर को 278 मतदान केन्द्रों में 218311 मतदाता करेंगे मताधिकार का उपयोग
कटनी / शहडोल लोकसभा उपनिर्वाचन के तहत विधानसभा क्षेत्र बड़वारा के 278 मतदान केन्द्रों में सभी आवश्यक व्यवस्थायें की गई हैं। विधानसभा क्षेत्र में 2 लाख 18 हजार 311 मतदाता हैं। इसमें 1 लाख 14 हजार 86 पुरुष एवं 1 लाख 4 हजार 221 महिला मतदाता व 4 अन्य मतदाता हैं। मतदान को निष्पक्ष व शांतिपूर्ण संपन्न कराने हेतु जिला प्रशासन द्वारा सभी आवश्यक   व्यवस्थायें की जा रही हैं।
     
        यह जानकारी आज मंगलवार को जिले के संचार प्रतिनिधियों से चर्चा के दौरान कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी  विशेष गढ़पाले ने दी। उन्होने बताया कि भारत निर्वाचन आयोग द्वारा जारी कार्यक्रम के अनुसार 19 नवंबर को मतदान एवं 22 नवंबर को मतगणना की जायेगी। भारत निर्वाचन आयोग द्वारा चुनाव को निष्पक्ष रुप से संपन्न कराने के लिये सामान्य प्रेक्षक, व्यय प्रेक्षक एवं जागरुकता प्रेक्षक मॉनीटरिंग के लिये आयेंगे।
टीम की नियुक्त
        जिले में बड़वारा विधानसभा के अंतर्गत राजस्व सीमाओं में धारा-144 प्रभावशील हो गई है। जिले में सभी शस्त्र लाईसेंस निरस्त कर दिये गये हैं। एमसीएमसी, स्थेतिक टीम, वीएसटी, फलाइंग स्कॉट का गठन किया जा चुका बड़वारा विधानसभा क्षेत्र के अंर्तगत बड़वारा तहसील के 51 मतदान केन्द्रों, कटनी तहसील के 40 मतदान केन्द्रों एवं ढीमरखेड़ा के 147 मतदान केन्द्रों सहित कुल 278 मतदान केन्द्रों में मतदान कराया जायेगा।
14 हजार 104 मतदाता पहली बार करेंगे मताधिकार का उपयोग
संचार प्रतिनिधियों से चर्चा के दौरान कलेक्टर विशेष गढ़पाले ने बताया कि 18 से 19़ वर्ष के नये मतदाताओं के लगभग 14 हजार 104 मतदाता प्रथम बार अपने मतों का प्रयोग करेंगे। इसके साथ ही सुगम निर्वाचन के लिये 46 सेक्टर एवं 66 रुट बनाये गये हैं। मतदान हेतु 133 वाहनों की आवश्यकता होगी। 350 ईवीएम मशीन उपलब्ध हैं जिनका प्रथम बार द्वितीय रेंडमाईजेशन मान्यता प्राप्त राजनैतिक दलों के प्रतिनिधियों की उपस्थिति में किया जायेगा। नोडल अधिकारी द्वारा मतदान दलों को सामग्री वितरण एवं वापसी व्यवस्था की कार्य योजना तैयार की जा चुकी है। चुनाव के दौरान विभिन्न टीमों द्वारा की गई कार्यवाही का प्रतिवेदन भेजने एवं शिकायत अनुरीक्षण नियंत्रण कक्ष, कॉल सेंटर व एमसीएमसी का गठन किया जा चुका है।
ई-पेमेंट से होगा मानदेय भुगतान
नोडल अधिकारी द्वारा मतपत्र से संबंधित जानकारी पूर्ण की जा चुकी है। सभी कर्मचारियों की डाटा फीडिंग का कार्य पूर्ण किया जा चुका है। मतदान दलों में संलग्न अधिकारियों, कर्मचारियों को ई-पेमेंट के माध्यम से भुगतान होगा। सेवा मतदाताओं और अन्य कर्मचारियों को डाकमत पत्र वितरण हेतु दल गठित किये जा चुके हैं। मैनपावर मैनेजमेंट द्वारा विस्तृत कार्य योजना तैयार की जा चुकी है।
सामग्री वितरण और मतगणना बड़वारा में
निर्वाचन को निर्विघ्न संपन्न कराने की कार्य योजना तैयार की गई है। निर्वाचन के प्रक्रिया के दौरान चुनाव प्रचार-प्रसार हेतु किसी प्रकार की गतिविधियों की अनुमति संबंधित क्षेत्र के एसडीएम द्वारा प्रदान की जायेगी। निर्वाचन आयोग के निर्देशो का पालन किया जायेगा। बड़वारा के मॉडल स्कूल में सामग्री वितरण एवं वापसी व मतगणना की जायेगी। स्टेंडिंग कमेटी की प्रथम बैठक 19 अक्टूबर को आयोजित की गई। संपत्ति विरुपण हेतु अभियान प्रारंभ किया जा चुका है।
ई-मेल और वॉट्सएप नंबर पर कर सकेगे शिकायत कॉलसेंटर स्थापित होगा
कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि, निर्वाचन संबंधी ईमेल व वॉट्सएप नंबर जारी किया जा चुका है। निर्वाचन संबंधी कोई भी शिकायत व सूचना इस ईमेल आईडी deokatni01@gmail.com पर दी जा सकती है। इसी तरह कॉलसेंटर की जानकारी देते हुए सीईओ जिलापंचायत ने बताया कि निर्वाचन संबंधी शिकायत व सूचना देने के लिये कॉलसेंटर नंबर 07622-224888 प्रारंभ किया जा रहा है। वहीं  वॉट्सएप नंबर 9302912633 पर भी शिकायत व संबंधित कंटेंट भेजा जा सकता है।
सीमावर्ती क्षेत्र में चेक पोस्ट किया जायेगा स्थापित
कलेक्टर ने बताया कि निर्वाचन से संबंधित सीमावर्ती क्षेत्रों में चेक पोस्ट स्थापित किये जायेंगे। यहॉं पर वीडियोग्राफर भी तैनात किये जायेंगे। जहॉं पर वाहनों की निगरानी एवं सघन चेकिंग की जायेगी। इस दौरान संदिग्ध शासकीय वाहनों की भी जॉंच की जायेगी।
बहिष्कार से नहीं, मतदान से होगा समाधान
संचार प्रतिनिधि से चर्चा के दौरान जिला निर्वाचन अधिकारी विशेष गढ़पाले ने पत्रकारों को भी मतदाता जागरुकता के लिये सक्रिय सहभागिता निभाने की बात कही। उन्होने कहा कि प्रशासन द्वारा कम मतदान वाले क्षेत्रों में स्वीप प्लान के माध्यम से मतदाताओं को जागरुक करने का विशेष अभियान चलाया जायेगा। संचार प्रतिनिधियों द्वारा क्षेत्रीय समस्याओं के तहत क्षेत्रवासियों द्वारा मतदान बहिष्कार संबंधी बात करने पर जोर देते हुए कलेक्टर श्री गढ़पाले ने कहा कि बहिष्कार से नहीं नैतिक मतदान से ही नागरिक समस्याओं का समाधान कर सकते हैं।

Sunday, October 16, 2016

चिकित्सा शिविर में 1002 रोगियों का हुआ परीक्षण, राज्य बीमारी सहायता के 29 प्रकरण चयनित

कटनी / शासन की मंशानुरुप जरुरतमंदों को निःशुल्क चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराने की कलेक्टर विशेष गढ़पाले की विशेष पहल के तहत रविवार को ढ़ीमरखेड़ा में जिला प्रशासन, स्वास्थ्य विभाग एवं सिटी हॉस्पिटल जबलपुर के संयुक्त तत्वाधान में निःशुल्क चिकित्सा शिविर संपन्न हुआ। इसमें विभिन्न क्षेत्रों में दक्ष विशेषज्ञ चिकित्सकों द्वारा 1002 मरीजों का परीक्षण कर निःशुल्क दवाईयों का वितरण किया गया। इस दौरान चिकित्सा शिविर में हृदय, अस्थि, कैंसर किडनी गुर्दा आदि अन्य बीमारियों से ग्रसित मरीजों को चिन्हित किया गया। शिविर में कलेक्टर  विशेष गढ़पाले ने उपस्थित रहकर मरीजों को आवश्यक उपचार/सघन परीक्षण एवं शासन के निर्देशों का परिपालन सुनिश्चित करने हेतु सीएमएचओ एवं सिविल सर्जन को निर्देश दिये।
रविवार को सम्पन्न हुए चिकित्सा शिविर में राज्य बीमारी सहायता के 29 प्रकरण चयनित किये गये। शिविर में हृदय रोग, मष्तिष्क रोग, एवं अस्थि रोग से संबंधित 46-46 मरीजों जॉंच कर उपचारित किया गया। इसी क्रम में किडनी गुर्दा रोग से संबंधित 16 एवं केंसर रोग से संबंधित 12 मरीजों को भी चिन्हांकित कर आवश्यक कार्यवाही की गई।
कलेक्टर  विशेष गढ़पाले ने शिविर में उपस्थित रहकर मरीजों से उनकी तकलीफों के बारे में जानकारी प्राप्त कर आवाश्यक जॉंच एवं उपचार हेतु संबंधित चिकित्सकों के पास भिजवाया। उन्होने  शिविर में सीएमएचओ एवं सिविल सर्जन को निर्देशित किया कि जॉंच, परीक्षण एवं दवा वितरण में कोई भी मरीज वंचित नहीं रहना चाहिये। उन्होने निर्देशित किया कि सभी प्रकरणों का गहन परीक्षण कर उसे वेरीफाईड कर आगामी कार्यवाही की जाये। मरीजों को किसी भी प्रकार की तकलीफ न हो इसका भी विशेष ध्यान दिया जाये। शिविर में घूम घूमकर व्यवस्थाओं का जायजा लिया गया। बड़वारा एवं ढ़ीमरखेड़ा में संपन्न शिविरों में परीक्षण कर चिन्हांकित किये गये 166 मरीजों को सघन जॉंच/उपचार हेतु सिटी हॉस्पिटल जबलपुर रेफर किया गया।
      शिविर में सीएमएचओ डॉ. के.पी. श्रीवास्तव, सिविल सर्जन डॉ. उमेश नामदेव, डॉ. एस.के. शर्मा, डॉ. आर.बी. सिंह, डॉ. हेमंत हल्दकार, डॉ. राजेश केवट, डॉ. बसंत सोंधिया, डॉ. योगेश झा, सिटी हॉस्पिटल जबलपुर के विशेषज्ञ चिकित्सकों में डॉ. अखिलेश दुबे, डॉ. राजू सावंत, डॉ. मानसी, डॉ. प्रशांत कुशवाहा, डॉ. सोनल रिछारिया सहित अन्य चिकित्सकगण उपस्थित थे।

Saturday, October 15, 2016

प्रदेश में अगले ढ़ाई सालों में गरीबों के लिए बनेंगे 10 लाख आवास


पौनिया पहॅुंचकर लोक कल्याण शिविर में शामिल हुये मुख्यमंत्री
कटनी / आने वाले ढाई वर्षो में प्रदेशभर के ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले गरीबों के लिए राज्य सरकार 10 लाख आवास बनायेगी। यह जानकारी कटनी जिले के पौनिया ग्राम में आयोजित लोक कल्याण शिविर में प्रदेश के मुखिया शिवराज सिंह चौहान ने दी। उन्होंने कहा कि 4 दिसम्बर को भोपाल में गरीब कल्याण एजेंडा जारी किया जायेगा। प्रदेश में गरीबों को वो सुविधाएं दी जायेंगी जो दुनिया के किसी कोने में भी मुहैया नहीं है। साथ ही मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारी सरकार का ध्येय यह है कि प्रत्येक व्यक्ति को रोटी कपड़ा मकान पढ़ाई लिखाई व दवाई मिले। मध्य प्रदेश की धरती में है कोई भी गरीब भूखा न सोये। इस दौरान मंच पर राज्य सरकार के सुक्ष्म लद्यु मध्यम उद्योग राज्य मंत्री संजय सत्यैन्द्र पाठक, केबिनेट मंत्री दर्जा प्राप्त पिछड़ा वर्ग वित्त निगम विकास के अध्यक्ष प्रदीप पटेल भी उपस्थित रहे।
पौनिया में बनेगा शबरी आश्रम
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने लोक कल्याण शिविर में कहा कि पौनिया के ग्रामवासियों ने मेरा फूलो से स्वागत किया है, मैं आपके और पौनिया के विकास के राहो में कांटे नहीं आने दूंगा। पौनिया का सर्वांगीण विकास होगा। उन्होंने पौनिया में स्थित शबरी माता मंदिर परिसर के सम्पूर्ण विकास की बात कही। मुख्यमंत्री ने घोषणा करते हुये कहा कि पौनिया में शबरी माता आश्रम और भव्य मंदिर बनाया जायेगा। इस आश्रम में समुदायिक भवन भी होगा। मंदिर का सौंदर्यीकरण कराया जायेगा। पीने के पानी की व्यवस्था के साथ ही बाउन्ड्रीवाल भी कराई जायेगी।
यह भी दी सौगात -
मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने पौनिया के विकास और कृषि के क्षेत्र में समृद्ध बनाने के लिए बड़वारा की दाईं टाटी की नहर परियोजना के पानी को पौनिया क्षेत्र के खेतों में पहुँचाने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि बड़वारा की नहर योजना का पानी पौनिया की धरती के खेतों में लाया जायेगा। इतना ही नहीं यदि समस्या आती है तो लिफ्टींग के माध्यम से भारी क्षमता वाले मशीनों का उपयोग कर पाईप लाईन बिछाकर पानी आपके क्षेत्र तक पहॅुंचायेंगे क्योंकि मुझे यकीन है कि हमारे क्षेत्र के किसानों को यदि पानी उपलब्ध करा दिया जाये तो वह समृद्ध हो सकते है।
माध्यमिक स्कूल पौनिया का हाई स्कूल मे होगा उन्नयन
मुख्यमंत्री ने माध्यमिक शाला पौनिया का उन्नयन करते हुये हाई स्कूल बनाने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि अब 10वीं तक पढ़ाई के लिए मेरे भांजे भांजीयों को बाहर नहीं जाना होगा। उन्होंने भीतरीगढ़ में भी प्राथमिक शाला खोलने की बात कही। मुख्यमंत्री ने स्पष्ट करते हुये कहा कि आज मुझे जो आप लोगों ने जो भी आवेदन व मांग पत्र दिये है मैं सभी पर कार्यवाही करूंगा। जो कार्य स्वीकृत हो सकते है वे कार्य स्वीकृत कर दिये जायेंगे। कुछ सड़को के लिए स्थानीय विधायक द्वारा मांग रखी गई है वे भी बनाई जायेंगी।
मैं राजा मुख्यमंत्री नहीं आपका मुख्यमंत्री
लोक कल्याण षिविर को संबोधित करते हुये मुख्यमंत्री ने कहा कि मैं कोई राजा मुख्यमंत्री नहीं हूं, मैं आपका मुख्यमंत्री हूँ, जनता का सेवक हूं, आपने मुझे चुना है मुख्यमंत्री बनाया है तो लोकतंत्र के मायनों में भी मैं मध्यप्रदेश की 7 करोड़ की अधिक जनता का प्रथम सेवक हूं। इस दौरान शिविर में मुख्यमंत्री श्री चौहान ने राज्य सरकार द्वारा प्रदेशभर में सभी वर्गो के लिए किये जा रहे कार्यों व अन्य योजनाओ की जानकारी भी दी।
स्वच्छता का दिलाया संकल्प
      मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने लोक कल्याण शिविर में उपस्थित जन समुदाय को स्वच्छता का संकल्प भी दिलाया। उन्होंने कहा कि विकास के कार्यो को हम कर रहे है और स्वच्छता के लिए हम सबको मिलकर जन अभियान चलाना होगा। मानसिकता में बदलाव लाना होगा।
खिले हितग्राहियों के चेहरे
लोक कल्याण शिविर में पौनिया पहॅुंचे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने हितग्राहियों को विभिन्न योजनाओं का लाभ मंच से प्रदान किया इस दौरान उन्होंने प्रधानमंत्री उज्जवला योजना, लाड़ली लक्ष्मी योजना, मुख्यमंत्री ग्रामीण आवास मिशन, मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना, मुख्यमंत्री आर्थिक कल्याण, गोपाल योजना के तहत हितग्राहियों को लाभान्वित किया। शिविर में मुख्यमंत्री ने प्रस्फुटन समितियों को प्रोत्साहन राशि, स्प्रेयर पंप, सरसों मिनिकीट और स्कूल चलें हम अभियान के तहत साईकिल का वितरण भी किया।

कार्यक्रम में स्थानीय विधायक मोती कश्यप, मुड़वारा विधायक संदीप जयसवाल, कटनी विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष ध्रुवप्रताप सिंह, संभागायुक्त गुलशन बामरा, आईजी श्रीनिवासन, कलेक्टर विशेष गढ़पाले, पुलिस अधीक्षक गौरव तिवारी सहित जनप्रतिनिधिगण और अधिकारीगण उपस्थित थे।

Friday, October 14, 2016

‘‘हमारा कटनी ट्रेफिक‘‘ वॉट्सएप नंबर 7587615946 पर

पुलिस अधीक्षक की अभिनव पहल: शिकायत मिलते ही होगा त्वरित निराकरण
कटनी / शहर की यातायात व्यवस्था में सुधार लाने एवं नई दिशा प्रदान करने के लिये एस.पी. गौरव तिवारी ने अभिनव प्रयोग शुरु किया है। इसके तहत 7587615946  व्हॉट्सएप नंबर पर जागरुक नागरिक यातायात से संबंधित कोई भी समस्या, जाम, सुझाव, शासकीय वाहनों के दुरुपयोग, नाबालिगों द्वारा वाहन चलाये जाने सहित अन्य बिन्दुओं पर फोटो सहित जानकारी भेज सकते हैं। शिकायत और सुझाव मिलते ही चंद मिनटों में समस्या का निराकरण त्वरित रुप से कराया जायेगा। इस संबंध में व्यवस्थित निर्देश भी पुलिस अधीक्षक द्वारा यातायात विभाग कटनी, माधवनगर, कुठला पुलिस को दिये गये हैं।
            पुलिस अधीक्षक गौरव तिवारी ने बताया कि ‘‘हमारा कटनी ट्रेफिक‘‘ नाम से नया प्रयास शुरु किया गया है। इसमें व्हाट्सएप मो. नं. 7587615946 में कोई भी नागरिक फोटो सहित ट्रेफिक से जुड़ी किसी भी समस्या, जानकारी दी जा सकती है। इस संबंध में नागरिकों के सुझाव भी आमंत्रित हैं। ट्रेफिक जाम से निजात दिलाने, जाम लगने वाले स्थान का नाम, कारण, आव्हरलोडिंग, नोपार्किंग में पार्किंग रॉंग पार्किंग, लाल नीली पीली बत्तियों के दुरुपयोग, वाहनों में नंबर प्लेट न होना, नाबालिगो द्वारा वाहन चलाये जाने, रफ ड्राईविंग आदि सहित अन्य समस्याओं की संपूर्ण जानकारी फोटो सहित वॉट्सएप उक्त नंबर पर भेज सकते हैं। शिकायत प्राप्त होते ही तत्काल उसके निराकरण हेतु अभियान प्रारंभ कर दिया जायेगा।
एस.पी. का आग्रह
इतना ही नहीं शिकायतकर्ता व सुझावकर्ता का नाम गुप्त रखा जायेगा। पुलिस अधीक्षक श्री तिवारी ने नागरिकों से अनुरोध किया है कि इस शासकीय वॉट्सएप मोबाईल नंबर को किसी ग्रुप से न जोड़ें। साथ ही वॉट्सएप नंबर पर ग्रीटिंग, बधाई, जोक्स या अन्य पोस्ट न करें।

Thursday, October 13, 2016

1 जनवरी 2017 से अपने कम्प्यूटर पर खुद करें काम नहीं तो सैलरी नहीं - संभागायुक्त

कटनी / संभागायुक्त गुलशन बामरा ने तहसील कार्यालय विजयराघवगढ़ और कलेक्टर कार्यालय कटनी का निरीक्षण किया। संभागायुक्त दोपहर को विजयराघवगढ़ तहसील कार्यालय पहुॅंचे। यहॉं पर उन्होने कार्यालय की सभी शाखाओं का निरीक्षण करते हुए लंबित प्रकरणों की जानकारी ली। इस दौरान उन्होने सभी लिपिकों को साफ-साफ दो टूक निर्देश दिये कि 1 जनवरी से अपने कम्प्यूटर पर खुद काम करना प्रारंभ करें। नहीं तो तब तक सैलरी नहीं होगी जब तक ऑफिस का काम स्वयं कम्प्यूटर पर काम करना शुरु नहीं करेंगे। 1 जनवरी के लिये अभी काफी समय है। यदि प्रॉपर कम्प्यूटर ऑपरेट करते नहीं बनता तो सीखें। लेकिन अपना काम खुद कम्प्यूटर पर करें। निरीक्षण के दौरान कलेक्टर विशेष गढ़पाले भी मौजूद रहे।
      विजयराघवगढ़ तहसील के निरीक्षण में कमिश्नर श्री बामरा ने कानूनगो शाखा, तहसीलदार न्यायालय, नायब तहसीलदार न्यायालय, लोकसेवा केन्द्र, अभिलेखागार का भी जायजा लिया। इस दौरान उन्होने संबंधित कर्मचारियों से किये जा रहे कार्यों और आ रही समस्याओं की जानकारी ली। संभागायुक्त ने सी.एम. हेल्पलाईन में लंबित शिकायतों की समीक्षा भी निरीक्षण के दौरान की। उन्होने एस.डी.एम. एवं तहसीलदार को विधिसम्मत निराकरण त्वरित रुप से करने के निर्देश दिये। उन्होने आदेश देते हुए कहा कि आप दोनो भी स्वयं सी.एम. हेल्पलाईन के प्रकरणों की प्रतिदिन समीक्षा करें।

कोटवारों की भी जानी समस्या
      विजयराघवगढ़ तहसील में मौजूद कोटवारों से भी संभागायुक्त ने सीधा संवाद किया। उन्होने उपस्थित कोटवारों से उनकी समस्यायें जानी। इस पर कुटेश्वर के कोटवार गोकुल एवं अन्य ने बाण सागर परियोजना में कोटवारी की जमीन पानी में डूब जाने की बात बताई। इस पर उन्होने तहसीलदार को सेवा भूमि के बदले संबंधित कोटवारों को पात्र राशि एरियर सहित दिलाने के निर्देश दिये। कमिश्नर ने कहा कि यदि आपके पास बजट नहीं है तो बजट की मांग शीध्र करें।
क्या होता है आर.सी.एम.एस. ?
      तहसीलदार विजयराघवगढ़ के न्यायालय निरीक्षण के दौरान संभागायुक्त गुलशन बामरा ने रीडर से न्यायालय में लंबित प्रकरणों की जानकारी ली। उन्होने पूछा कि क्या होता है आर.सी.एम.एस. ? इस पर रीडर द्वारा सही जानकारी पूरे नाम के साथ दी गई। उन्होने अब सभी प्रकरणों को ऑनलाईन आर.सी.एम.एस. पर फीड करने के निर्देश दिये।
कलेक्टर कार्यालय पहुॅंचे संभागायुक्त
विजयराघवगढ़ में एस.डी.एम. और तहसीलदार कार्यालय के निरीक्षण के बाद संभागायुक्त कलेक्टर कार्यालय कटनी पहुॅंचे। यहॉं पर उन्होने कलेक्टर कक्ष, एडीएम कक्ष, कलेक्टर न्यायालय, अपर कलेक्टर न्यायालय, सभाकक्ष, अभिलेखागार और अधीक्षक कार्यालय का जायजा लिया। इस दौरान उन्होने शासकीय सेवकों के अटेंडेंस के लिये उपयोग में लाई जा रही थम्ब इंप्रेशन मशीन की कार्यप्रणाली भी जानी। इस दौरान कलेक्टर श्री गढ़पाले ने उन्हें विस्तृत जानकारी देते हुए थम्ब इम्प्रेशन अटेंडेंस के माध्यम से ही सैलरी ड्रॉ करने की जानकारी दी। निरीक्षण के दौरान अपर कलेक्टर श्रीमति सुनन्दा पंचभाई, नगर निगम आयुक्त संजय जैन और संयुक्त कलेक्टर रानी पासी उपस्थित थे।

Wednesday, October 12, 2016

मुख्यमंत्री युवा उद्यमी योजना अन्तर्गत आवेदन ऑनलाइन करें

1 करोड तक का उद्योग लगा सकते हैं युवा
कटनी / राज्य शासन द्वारा संचालित मुख्यमंत्री युवा उद्यमी योजना अन्तर्गत परियोजना की लागत 10 लाख रूपये से एक करोड रूपये तक निर्धारित है। इसका आशय यह है कि युवा इस योजना का लाभ लेकर एक करोड रूपये की लागत का उद्योग लगा सके हैं। यह योजना उद्योग सेवा के लिये ही है। इस योजना के तहत परियोजना की पूंजीगत लागत पर अधिकतम 12 लाख रूपये की मार्जिन मनी सहायता भी दी जाती है। साथ ही परियोजना की पूंजीगत लागत पर पांच प्रतिशत की दर से अधिक सात वर्ष तक ब्याज अनुदान दिया जाता है और गारंटी शुल्क प्रचलित दर पर अधिकतम सात वर्ष तक देय होता है। इच्छुक आवेदक इस हेतु वेबसाइट http://www.mpindustry.gov.inपर लॉगइन कर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।
      उल्लेखनीय है कि यह योजना एक अगस्त 2014 से संचालित है और इस योजना का उद्देश्य समाज के सभी वर्गों के लिये स्वयं का उद्योग (विनिर्माण) सेवा उद्यम स्थापित करने हेतु बैंकों के माध्यम से ऋण उपलब्ध करवाया जाना है। योजना अन्तर्गत हितग्राहियों को मार्जिन मनी सहायता, ब्याज अनुदान, ऋण गारंटी एवं प्रशिक्षण का लाभ दिया जाता है।
पात्रता
      आवेदक मध्य प्रदेश का मूल निवासी हो तथा न्यूनतम 10वी कक्षा उत्तीर्ण होना आवश्यक है। आवेदक की आयु 18 से 40 वर्ष के बीच होना आवश्यक है। आवेदक किसी भी राष्ट्रीयकृत बैंक अथवा वित्तीय संस्थान का डिफाल्टर नहीं होना चाहिये।
आवेदन की प्रक्रिया
      आवेदक द्वारा निर्धारित प्रपत्र पर आवेदन ऑनलाइन अथवा जिला व्यापार एवं उद्योग केन्द्र अथवा बैंक में आवश्यक सहपत्रों सहित प्रस्तुत किया जाता है। सभी प्राप्त आवेदन पंजीबद्ध होंगे। आवेदक द्वारा प्रस्तावित गतिविधि की डीपीआर चार्टर्ड अकाउंटेंट द्वारा प्रमाणित कर आवेदन के साथ संलग्न की जायेगी।
टास्क फोर्स आवेदनों का निराकरण करेगी
      प्राप्त पंजीबद्ध आवेदन-पत्रों का निराकरण जिला टास्क फोर्स द्वारा किया जायेगा। टास्क फोर्स के अध्यक्ष कलेक्टर हैं तथा सदस्य विभिन्न विभागों व बैंकों के अधिकारी हैं। जिला टास्क फोर्स समिति की अनुशंसा उपरान्त प्रकरणों को निराकरण हेतु बैंकों को अग्रेषित किया जाता है। उद्योग एवं सेवा सम्बन्धी इकाई के लिये गारंटी, ऋण गारंटी निधि योजना के माध्यम से दी जायेगी। बैंकों द्वारा किसी प्रकार की कोलेटरल सिक्योरिटी की मांग आवेदक से नहीं की जायेगी। साथ ही प्रकरण स्वीकृति के 15 दिवस के अन्दर बैंक द्वारा वितरण प्रारम्भ कर दिया जायेगा।
मार्जिन मनी एवं ऋण अदायगी
      मुख्यमंत्री युवा उद्यमी योजना के तहत परियोजना लागत पर 15 प्रतिशत (अधिकतम 12 लाख रूपये) मार्जिन मनी सहायता हितग्राही को शासन की ओर से देय होगी तथा शेष मार्जिन मनी हितग्राही को स्वयं जमा करना होगी। अधिक जानकारी के लिये महाप्रबंधक जिला उद्योग एवं व्यापार केन्द्र से सम्पर्क किया जा सकता है।

Sunday, October 09, 2016

इस मानव में सतगुरु प्रकट हुआ है

कटनी ( मुरली पृथ्यानी ) यह 1996-97 की बात है जब परम् श्रद्धेय सतगुरु बाबा ईश्वर शाह जी गद्दी पर विराजमान नही थे, उनका नाम ईश्वर था और लोग उन्हें प्यार से ईशु कहकर संबोधित करते थे. यह मेरा सौभाग्य था कि उन दिनों मुझे उनके साथ समय व्यतीत करने का मौका मिला था, शहर की घंटाघर स्थित एक मार्केट में एक अकाउंटेंट के कार्यालय में अकसर दोपहर के खाने के बाद उनके साथ बातें होती थी.
उनकी बातों में तभी से आध्यात्म था, संतो - महापुरुषों की बातें करने में उन्हें खूब आनंद आता था दोहे पंक्तियां उन्हें बखूबी याद रहते थे. उस समय मेरी रूचि आध्यात्मिकता में थोड़ी कम थी इसलिए उनसे जितना सुन सकते थे सुन लेते थे और फिर उन्हें कहते अरे तुम तो संत आदमी हो. बस फिर क्या था ? तब उस पूरी मार्केट के लोग भी उन्हें मजाक मजाक में संत कहकर पुकारने लगे थे. उनका स्वभाव ही ऐसा था कि वह मुस्कुराने लगते थे.  
मुझे याद है उनके पास कोई वाहन साइकल आदि नही थी, माधवनगर से शहर की ओर अपने ही ध्यान में पैदल ही चल देते थे. किसी से यह नही कहते थे कि मुझे साथ ले चलो, अगर कोई परिचित देख लेता तो उन्हें साथ ले लेता था. उन दिनों वे अकाउंट्स सीखने का काम करते थे पर में  अच्छी तरह से जानता था कि उनका मन संसार की बातों की बजाये आध्यात्मिक बातों में ही लगता था. उनका ऐसा भोलापन देख में चिंतित भी होता था कि आज के जमाने में कैसे कोई इस तरह से इस संसार में निर्वाह कर सकता है ? तब अपनी यह चिन्ता में अपनी माँ से व्यक्त करता था कि कैसे आज के इस युग में कोई चल पायेगा जिसे संसार की बातों का जरा भी ध्यान नही है, वो कहती भगवान उनक़ी देख रेख करेगा क्योंकि वह आज के युग में भक्ति मार्ग पर चल रहे है.
उनके साथ समय व्यतीत करना मुझे अच्छा लगता था, बाद में 1998 में मेरी नौकरी शहडोल जिले की धनपुरी में एक कंपनी में लग गई ओर में वहां चला गया, इस दौरान कटनी आने पर उनसे मुलाकात होती थी. इस तरह समय बीतता गया बाद में एक दिन ऐसा आया जब पता चला कि वो माधवनगर के विश्व विख्यात बाबा माधव शाह बाबा नारायण शाह जी की गद्दी पर विराजमान हो चुके है. यह हमारे कुलगुरु थे तब मुझे बहुत खुशी मिली थी क्योंकि वह इसके हक़दार थे लेकिन इसके लिए उन्होंने कुर्बानी दी सिर्फ़ इसलिए कि लोगो का भला किया सके जिसकी चाहत शुरू से उनके अन्दर थी.  

अब बाबा ईश्वर शाह के रुप में सतगुरु का उदय हो चुका था जो आये हुए भक्तों को भक्ति का मार्ग बतला रहे है, मनुष्य के व्याव्हारिक जीवन में सुधार लाने के प्रयास कर रहे है जिससे लोगो को इस भौतिक जगत में सुंदर ढंग से रहना आ जाये. आज वह हमे सत्संग, सुमिरन, सेवा का महत्व समझा रहे है क्योंकि इनके बिना भक्ति सार्थक नही समझी जाती है. इनका जीवन कोई साधारण जीवन नही बल्कि संसार में रहते हुए भी संसार में लिप्त नहीं रहने जैसा था. आज जब उनकी रहमत भरी नजर मुझ पर पढ़ जाती है तो जैसे रोम रोम खिल उठता है.      
आज सतगुरु बाबा ईश्वर शाह जी पूर्ण सत्य से पर्दा उठाकर भक्तों को धन्य कर रहे है. हमे यह भी समझना होगा कि यह सतगुरु शरीर नही बल्कि वह चेतन सत्ता है जो इन्हे क्रियाशील बनाती है, सत्य का वह ज्ञान है जो उस शरीर के माध्यम से प्रवाहित होता है. आईये हम सभी उनके आये हुए आदेशों का अक्षरश पालन करे जिससे अच्छा वातावरण स्थापित हो सके, भाईचारा बढ़े और हमारे माधवनगर कटनी का मान चारों ओर फैल सके.        

Saturday, October 08, 2016

विशेषज्ञ डॉक्टर 15 और 16 अक्टूबर को बड़वारा व ढ़ीमरखेड़ा में देंगे सेवायें


स्वास्थ्य शिविर में जबलपुर सिटी हॉस्पिटल के विशेषज्ञ चिकित्सकों द्वारा उपचार किया जायेगा
कटनी / 15 अक्टूबर को बड़वारा और 16 अक्टूबर को ढीमरखेड़ा में आयोजित होने वाले वृहद् चिकित्सा एवं स्वास्थ्य शिविर में विशेषज्ञ डॉक्टर रोगियों का उपचार करेंगे। स्वास्थ्य शिविर बेहतर रुप से आयोजित हो, अधिक से अधिक रोगी उपचार के लिये शिविरों में पहुॅंचें इस उद्धेश्य से बेहतर आयोजन और प्रबंधन के निर्देश कलेक्टर विशेष गढ़पाले ने स्वास्थ्य एवं महिला बाल विकास विभाग की संयुक्त बैठक में दिये। श्री गढ़पाले ने मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को निर्देशित किया कि दोनों ही शिविरों में प्रारंभिक जॉंच के लिये विभाग के चिकित्सक लगायें। जो कि प्रारंभिक परीक्षण कर गंभीर बीमारी से ग्रसित रोगियों के उपचार के लिये विशेषज्ञों के पास भेजें। कलेक्टर ने शिविरों में पर्याप्त संख्या में राज्य बीमारी सहायता के फॉर्म रखने के निर्देश दिये। उन्होने कहा कि मैं स्वयं, सीएमएचओ और सिविल सर्जन शिविर में पहुॅंचकर स्पॉट पर ही राज्य बीमारी सहायता के प्रकरण स्वीकृत करेंगे।
प्रभारी मंत्री श्री सिंह ने भी उपचार कराने का किया आग्रह
      शुक्रवार को प्रदेश के आदिम जाति कल्याण एवं जिले के प्रभारी मंत्री ज्ञान सिंह ने भी पानउमरिया में आयोजित लोक कल्याण शिविर में उपस्थित जनसमुदाय से 15 और 16 अक्टूबर को क्रमशः बड़वारा औ ढीमरखेड़ा में आयोजित होने वाले स्वास्थ्य शिविर में अपना परीक्षण कराकर उपचार कराने का आग्रह किया था। साथ ही श्री सिंह ने बताया कि शिविर में जबलपुर सिटी हॉस्पिटल के विशेषज्ञ चिकित्सकों द्वारा उपचार किया जायेगा।
इन रोगों का होगा उपचार
केंसर रोग - बड़वारा एवं ढीमरखेड़ा में आयोजित होने वाले वृहद स्वास्थ्य शिविर में केंसर रोग विशेषज्ञ डॉ. प्रशांत जैन मौजूद रहेंगे। जो केंसर के मरीजों का परीक्षण कर उपचार करेंगे। उल्लेखनीय है कि केंसर रोग के मुख्य लक्ष्ण में स्तन में गांठ (दर्द रहित) होना, निप्पल से खून का स्त्राव, बगल में गॉंठ होना, पेट का अचानक बढ़ना, मुख अथवा जीभ में सफेद या लाल दाग होना, गले में गांठ होना अथवा गला बढ़ना घोंघा रोग आदि है।
किडनी रोग एवं गुर्दा प्रत्यारोपण - वृहद् स्वास्थ्य शिविर में डॉ. विशाल बटेरा गुर्दा रोग विशेषज्ञ उपस्थित रहेंगे। जो गुर्दा रोग के मरीजों का परीक्षण करेंगे। गुर्दा रोग के मुख्य लक्षण शरीर के किसी भाग में सूजन, मतली उल्टी, भूख न लगना, चक्कर एवं कमजारी, ठण्ड लगना, मूत्र के साथ खून आना, फेन युक्त मूत्र आना आदि है।
मस्तिष्क के रोग - स्वास्थ्य शिविर में मस्तिष्क रोग विशेषज्ञ डॉ. प्रशांत कुशवाहा मस्तिष्क रोग से ग्रसित रोगियों का उपचार करेंगे। मिर्गी आना, साईटिका, नाक से पानी आना, क्रेनियोप्लाष्टी, सिर का बड़ा होना, न्युरावेस्क्युलर एवं स्ट्रोक सर्जरी, जन्मजात विकार, मल मूत्र का नियंत्रण खत्म होना और ब्रेन टयूमर सर्जरी से जुड़े रोगेां का परीक्षण और उपचार किया जायेगा।
ह्दय रोग - ह्दय रोग का उपचार डॉ. नितिन दास द्वारा निःशुल्क परीक्षण एवं जागरुकता शिविर में किया जायेगा। इनमें ह्दय रोग से संबंधित बीमारियों, हार्ट ब्लॉकेज, वॉल्व की परेशानी, जन्मजात ह्दय रोग, सोते समय सांस फूलना आदि का संपूण इलाज, सीने के बीचों बीच दर्द या खिचाव, ह्दय की नली में सिकुड़न आना, ह्दयघाट की पूर्व एवं पश्चात की समस्याओं का उपचार किया जायेगा।
हड्डी रोग और स्त्री रोग -शिविर में एम.एस. ऑर्थो डॉ. राजीव सावंत हड्डी रोग का परीक्षण एवं उपचार करेंगे। वहीं एम.एस. डॉ. सोनल रिछारिया स्त्री रोग से जुड़े रोगों का उपचार करेंगी।

Wednesday, October 05, 2016

नेशनल लोक अदालत 12 नवम्बर को

कटनी (5 अक्टूबर)- राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण एवं मध्य प्रदेश राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के संयुक्त निर्देशों के अनुसार 12 नवंबर को कटनी जिले के समस्त न्यायालयों में वार्षिक नेशनल लोक अदालत का आयोजन होगा। इसका उद्वेश्य आवेदकों को सरल, सहज, सुगम और सस्ता न्याय उपलब्ध कराना है। 12 नवंबर को जिले में जिला एवं सत्र न्यायाधीश और अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के निर्देशन में लोक अदालत का आयोजन होगा।
इन प्रकरणों का होगा निराकरण
सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण भूपेन्द्र नकवाल ने बताया कि वार्षिक लोक अदालत में आपराधिकसिविलविद्युत अधिनियमश्रममोटर दुर्घटना क्षतिपूर्ति दावाप्री-लिटिगेशन प्रकरणनिगोशिएबल इंस्ट्रूमेंट एक्ट् के अंतर्गत चैक बाउंस प्रकरणकुटंुब न्यायालयग्राम न्यायालयराजस्व न्यायालय तथा अन्य समस्त प्रकार के प्रकरणों का निराकरण किया जायेगा। जिला न्यायालय में लंबित प्रकरणों के अतिरिक्त जिले में भू-अर्जन के प्रकरणोंराजस्व प्रकरणोंनगर निगमनगर पालिकानगर पंचायतों के प्रकरणोंश्रम विभागबैंकविद्युत विभाग और दूरसंचार कंपनियों के प्रकरणों का निराकरण संबंधित विभाग द्वारा किया जायेगा।
लोक अदालत के लाभ
  • दोनों पक्षकारों को न्याय प्राप्त होगा।
  • राजीनामासमझौता होने से पक्षकारों के मध्य आपसी सम्बन्ध अच्छे बने रहेंगे।
  • लोक अदालत के माध्यम से निपटाए गये मामलों का स्थाई निराकरण होकर उसकी कोई अपील नहीं होगी।
  • दीवानी मामलों के निराकरण होने पर जमा कोर्ट की फीस नियमानुसार वापस होगी।
  • पक्षकारों के अमूल्य समयएवं धन की विशेष बचत होगी।

दवाई का विक्रय रिकॉर्ड प्रस्तुत न करने पर मेडिकल संचालक को नोटिस जारी

कटनी / खाद्य एवं औषधि प्रशासन विभाग द्वारा कुछ दिनों पहले अभियान चलाकर मेडिकल स्टोर्स में दवाईयों के क्रय-विक्रय रिकार्डस की जॉंच की गई थी। इसमें नशे के रूप में दुरूपयोग होने वाली औषधि कॉरेक्स एवं फैंसिड्रिल सिरप के रिकॉड्स विभागीय अधिकारियों द्वारा खंगाले गये।
कार्यवाही की अधिक जानकारी देते हुए उप संचालक खाद्य एवं औषधि प्रशासन ने बताया कि निरीक्षण के दौरान शारदा मेडिकल एवं जनरल स्टोर्स विजयराघवगढ़ में कॉरेक्स कफ सिरप की 450 बॉटल और फैंसीड्रिल कफ सिरप की 150 बॉटल की खरीदी करना पाया गया था।
लेकिन अनुज्ञप्तिधारी द्वारा इन दवाईयों के विक्रय का रिकॉर्ड प्रस्तुत नहीं किया गया। इसलिये शारदा मेडिकल एवं जनरल स्टोर्स को कारण बताओ सूचना पत्र जारी किया गया था। अनुज्ञप्तिधारी द्वारा सूचना पत्र का जवाब नहीं दिये जाने पर प्रदत्त औषधियों की अनुसप्तियॉं निरस्त कर दी गई हैं।
इसके साथ ही नशे के रूप में दुरूपयोग होने वाली औषधियों के संबंध में अन्य दवा दुकानों के निरीक्षण पर रिकॉर्ड प्रस्तुत किये गये है। उनकी जॉंच जारी है। उपसंचालक खाद्य और औषधि प्रशासन ने कहा है कि सभी दवा विक्रेता क्रय-विक्रय रिकॉर्ड दुरूस्त रखें। क्रय-विक्रय रिकॉर्ड में गड़बड़ी पाये जाने पर दवा दुकान का लायसेंस निरस्त करने या निलंबन की सख्त कार्यवाही की जायेगी।

Tuesday, October 04, 2016

गोइंन्द्रा गॉंव में 50 एकड़ पर विकसित होगा औद्योगिक क्षेत्र - राज्य मंत्री श्री पाठक

कटनी- जिले के गोइंन्द्रा गॉंव में 50 एकड़ के क्षेत्र में औद्योगिक क्षेत्र विकसित किया जायेगा। इसकी स्वीकृति शासन द्वारा जारी की जा चुकी है। यह जानकारी नगर परिषद् विजयराघवगढ़ में आयोजित अभिनन्दन समारोह में प्रदेश के सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) संजय सत्येन्द्र पाठक ने दी। उन्होने कहा कि गोइंद्रा में लगने वाले छोटे-बड़े उद्योगों में क्षेत्र के युवा बेराजगारों को रोजगार मिलेगा। हम प्रयास करेंगे कि शीघ्र ही यहॉं उद्योग लायें।
     श्री पाठक ने कहा कि हम मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना के तहत इस क्षेत्र के युवाओं को ऋण भी उद्योग इकाई स्थापित करने के लिए उपलब्ध करायेंगें। ताकि क्षेत्र के युवा स्वयं का उद्योग लगाकर उद्योगपति बने। गोइन्द्रा में विकसित होने वाले ओद्यौगिक क्षेत्र में उद्योग लगाने वाले उद्योगपतियों को उनके द्वारा बनाई जाने वाली सामग्री के लिए मार्केट भी हमारा विभाग उपलब्ध करायेगा।


विजयराघवगढ़ विधानसभा में फैलेगा सड़कों का जाल
अभिनन्दन समारोह को संबोधित करते हुये राज्यमंत्री संजय पाठक ने कहा कि प्रदेश के मुखिया शिवराज सिंह चौहान विकास पुरूष हैं। क्षेत्र और जिले के विकास के लिए मेरे द्वारा रखी गई प्रत्येक मांग को उन्होंने गंभीरता से लेते हुये पूरा किया है। बहुत से मार्गो के निर्माण कार्य हुये है। बहुत सी सड़को के निर्माण के लिये स्वीकृति मिली हैं। इससे आने वाले एक-दो वर्षो में विजयराघवगढ़ विधानसभा में सड़को का जाल बिछ जायेगा। इससे रहवासियों को सुगमता होगी। साथ ही विकास का पर्याय कहलाई जाने वाली सड़को के कारण क्षेत्र का और विकास भी तीव्रता से होगा।
घर-घर स्वच्छ पेयजल उपलब्ध कराने का करेंगे प्रयास
विजयराघवगढ़ विधानसभा क्षेत्र में 80 ग्रामों के लिए पेयजल योजना स्वीकृत हुई है इसकी जानकारी भी राज्यमंत्री श्री पाठक ने कार्यक्रम उपस्थित जनो को दी। उन्होने बताया कि इससे 80 ग्रामों के प्रत्येक घर में नल के द्वारा स्वच्छ पेयजल पहुॅचेगा। लेकिन हमारा प्रयास विजयराघवगढ़ क्षेत्र के प्रत्येक घर में स्वच्छ पेयजल उपलब्ध कराना है। इसके लिए कार्य योजना तैयार कर प्रभावी प्रयास किये जायेंगें।
            राज्यमंत्री श्री पाठक ने बरगी नहर का पानी  भी लिफ्ट कर क्षेत्र के खेतों तक पहुॅचाने के लिए कार्य योजना बनाकर प्रयास करने की बात कहीं। कार्यक्रम में उन्होंनें स्कूल चले अभियान के अंतर्गत छात्राओं को साईकिलो का वितरण किया। साथ ही आबादी पट्टा और मुख्यमंत्री रोजगार योजना के चैक भी हितग्राहियों को वितरित कियेे। इस दौरान परिषद के पार्षदो और सीएमओ. द्वारा राज्यमंत्री श्री पाठक का अभिनन्दन भी किया गया।
            कार्यक्रम में जिला पंचायत अध्यक्ष ममता पटेल, अध्यक्ष नगर परिषद कैमोर गणेश राव, अध्यक्ष जनपद पंचायत विजयराघवगढ़ गंगाराम चौधरी, जिला अध्यक्ष सहकारी समितियां प्रदीप बड़गैया, नगर परिषद अध्यक्ष राकेश गुप्ता, नगर परिषद उपाध्यक्ष अनिल शर्मा, विनोद मिश्रा, ओमप्रकाश त्रिपाठी, श्याम सुन्दर मिश्रा, रंगलाल पटेल, उदयराज सिंह चौहान, आशा ताम्रकार, मनीष मिश्रा, प्रमोद शुक्ला, जयंवत सिंह चौहान, नूर मोहम्मद सिद्दकी, शान मोहम्मद और आईडी दुबे मंचासीन थे। कार्यक्रम का संचालन राष्ट्र स्तरीय कवि प्रलय ने किया।

Sunday, October 02, 2016

एमबीबीएस, बीडीएस पर प्रवेश प्रक्रिया की जानकारी छात्रों को एसएमएस से दी जायेगी

कटनी / चिकित्सा शिक्षा राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) शरद जैन ने कहा है कि एमबीबीएस एवं बीडीएस पाठ्यक्रमों में प्रवेश के लिये सुप्रीम कोर्ट द्वारा निर्धारित 30 सितम्बर की तिथि को आगे बढ़ाने का आग्रह राज्य सरकार करेगी। पाठ्यक्रम में प्रवेश की प्रक्रिया एम.पी. ऑनलाइन सॉफ्टवेयर में आयी खराबी के कारण अभी रोकी गयी है। तकनीकी खराबी दूर होने पर एम.पी. ऑनलाइन द्वारा आवंटन सूची उपलब्ध करवाने पर उच्चतम न्यायालय के निर्णय अनुरूप पुन: प्रवेश प्रक्रिया प्रारंभ की जायेगी। इसकी सूचना अभ्यर्थियों को उनके रजिस्टर्ड मोबाइल नम्बर पर एसएमएस के जरिये दी जायेगी।
श्री जैन ने कहा है कि एमबीबीएस और बीडीएस की सीटों में प्रवेश के लिये मध्यप्रदेश शासन द्वारा शासनाधीन एवं निजी चिकित्सा महाविद्यालय की एमबीबीएस, बीडीएस के पाठ्यक्रमों में राज्य द्वारा केन्द्रीयकृत काउंसलिंग प्रक्रिया के माध्यम से एडमिशन के लिये उच्चतम न्यायालय में दायर प्रकरण में शासन के पक्ष में निर्णय हुआ है। उन्होंने कहा कि इस संबंध में चिकित्सा शिक्षा विभाग द्वारा विस्तृत रेगुलेशन तैयार किया गया, जिसमें नीट को मेरिट का एकमात्र आधार रखा गया।
राज्य मंत्री श्री जैन के अनुसार उच्चतम न्यायालय द्वारा 22 सितम्बर को शासन के पक्ष में निर्णय पारित करते हुए 7 दिवस यानि 30 सितंबर तक प्रवेश प्रक्रिया पूर्ण करवाये जाने के निर्देश दिये गये थे। इस निर्णय के तारतम्य में चिकित्सा शिक्षा विभाग द्वारा काउंसलिंग कार्यक्रम जारी करते हुए समस्त सीटों पर प्रवेश की कार्यवाही करवायी जा रही है। इसके बाद रिक्त रही सीटों पर एक नयी एमबीबीएस संस्था की सीटों को सम्मिलित करते हुए अंतिम तिथि 30 सितम्बर तक अभ्यर्थियों को विभिन्न संस्था में प्राथमिकताएँ भरवाने के बाद आवंटन जारी किया गया था। प्रक्रिया के दौरान अचानक एमपी ऑनलाईन की वेबसाइट में आवंटन के लिए तैयार किए गए साफ्टवेयर में आई तकनीकी खराबी के कारण आवंटन जारी नहीं किया जा सका। राज्य मंत्री श्री जैन ने कहा कि इस संबंध में एमपी ऑनलाईन द्वारा सभी पंजीकृत अभ्यर्थियों को उनके रजिस्टर्ड मोबाईल नंबर पर एसएमएस के माध्यम से जानकारी देने के साथ-साथ अपनी वेबसाईट पर भी जानकारी दी गई कि आगामी 24 घंटे तक आवंटन जारी नहीं किया जा सकेगा।

महात्मा गांधी की जयंती पर रैली निकालकर चलाया गया सफाई अभियान

कटनी / राष्ट्रपिता महात्मां गांधी की जयंती के अवसर पर आज प्रातः 09 बजे से स्टेशन रोड स्थित दिलबहार चौराहा से स्वच्छता जागरूकता रैली का आयोजन किया गया।
स्वच्छता जागरूकता रैली को महापौर शशांक श्रीवास्तव, जिला कलेक्टर विशेष गढपाले, पुुलिस अधीक्षक गौरव तिवारी  द्वारा भारत माता की जय, एवं महात्मा गांधी अमर रहें एवं स्वच्छा मिशन के नारे लगाकर रैली को प्रारंभ किया गया। रैली के आगे विभिन्न स्कूलों के छात्र छात्राओं, एन.सी.सी. के छात्र छात्राओं द्वारा स्वच्छता के नारे लगाते हुए रैली के माध्यम से स्वच्छता का संदेश आम लोगों तक नारे महात्मा गांधी अमर रहे। भारत माता की जय। हमारा मिशन स्वच्छता मिशन कटनी नंबर 1 के माध्यम से दिया गया तथा लोगों को स्वच्छता संबंधी पंपलेट का वितरण किया गया। रैली में नगर पालिक निगम के सफाई विभाग के वाहनों के साथ सफाई अमले की उपस्थिति रही।  रैली स्टेशन रोड से सुभाष चौक होते हुए झंडा बजार मुख्य मार्ग में पहुची जहां महापौर शशांक श्रीवास्तव एवं उपस्थित जनों के द्वारा स्वयं झाडू लगाकर सफाई की गई तथा झंडा बाजार स्थित राष्ट्रपिता महात्मा गांधी जी, एवं भारत माता की प्रतिमा को पानी से साफ कर तिलक लगाकर श्रद्धासुमन कर माल्यापर्ण किया गया। तदोपरांत जागरूकता रैली लक्ष्मी नारायण मंदिर शेर चौक, आजाद


चौक, मिशन चौक होते हुए नगरनिगम कार्यालय परिसर में रैली का समापन किया गया। समापन के दौरान महापौर शशांक श्रीवास्तव द्वारा उपस्थित स्कूल के बच्चों को संबोधित करते हुए नगर की सफाई व्यवस्था के संबंध मे सहयोग प्रदान करने की अपील की गई। महापौर ने कहा कि स्वच्छ भारत के संकल्प को दोहराने का अवसर है, हम जब तक स्वयं श्रमदान नहीं करेगें एवं दूसरों को स्वच्छता के प्रति जागरूक नहीं करेगें तब तक कटनी नगर को स्वच्छ नहीं बनाया जा सकता। हमारा मिशन स्वच्छता मिशन मे कटनी को नंबर -1 लाना है जो आप सभी के सहयोग के बिना संभव नहीं है।  इस जागरूकता रैली का आयोजन, नगर स्तर पर स्वच्छ भारत मिशन अंर्तगत किये जाने वाले कार्यो से जन सामान्य एवं बच्चों को अवगत कराना है।
निगमायुक्त संजय जैन नें  नगरवासियों से अपील की है कि वे कचरा सिर्फ कचरा गाड़ी मे ही डालें। सडक चलते न थूकें। अस्पतालों, बस स्टाप, रेल्वे स्टेशन एवं धार्मिक स्थलो में कचडा आदि न फैलाए ताकि हमारा नगर स्वच्छ रहे। कचरा संबंधी किसी भी प्रकार की शिकायत होनें पर हेल्पलाईन नंबर 18002700135 पर संपर्क कर अपनी समस्या का निदान करावें। आयोजन में महापौर शशांक श्रीवास्तव, जिला कलेक्टर विशेष गढपाले, पुलिस अधीक्षक गौरव तिवारी, निगमाघ्यक्ष संतोष शुक्ला, नगर निगम आयुक्त संजय जैन, नगर निरीक्षक श्री बधेल जी, यातायात सूबेदार लवली सोनी, भाजपा नगर अध्यक्ष रामरतन पायल, महामंत्री विजय सोनी, जिला योजना समिति सदस्य अनिल खरे, सर्जना आशीष कंदेले, मेयर इन काउन्सिल सदस्य गुलाब बेन, विजय डब्बू रजक, गौरी शंकर पटैल, प्रीति संजीव सूरी, सीमा जैन सोगानी, पार्षद श्रीमती सुभद्रा सोनी, ऋचा गेलानी, गिंदिया बाई, पार्वती निषाद, सुनील कुमार सोनी, अनिरूद्ध नारायण सोनी, पूर्व पार्षद राजेन्द्र गेलानी, जयनारायण निषाद, कैलाश जैन सोगानी, भाजपा नेता रवि खरे, मिठठूलाल जैन,डाॅ रमेश सोनी,आशीष कंदेले, मुरली रजक, गिरधारीलाल शर्मा, रामबिहारी गुप्ता, यज्ञदत्त मिश्रा, मनीष दुबे, अजय शर्मा, अनिल गुप्ता, मनोज नौगरईया, मयंक गुप्ता, गोपाल अग्रवाल, आनंद सुहाने, सहित अन्य भाजपा नेताओं समाजसेवी संस्थाओं, गणमान्य नागरिकों की उपस्थिति रही।