Sunday, February 28, 2016

विजयराघवगढ़ अन्त्योदय मेले में सवा 15 करोड़ रूपये से अधिक का लाभ हितग्राहियो को दिया

कटनी/ जनपद पंचायत विजयराघवगढ़ के मैदान में आयोजित अन्त्योदय मेले में 15 करोड़ 28 लाख रूपये से अधिक का लाभ 16 हजार से अधिक हितग्राहियो को  दिया गया। इस अवसर पर विधायक संजय पाठक, जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती ममता पटेल, कलेक्टर प्रकाश जांगरे, जिला पंचायत के मुख्यकार्यपालन अधिकारी डाॅ. के.डी.त्रिपाठी, एस.डी.एम. राजीव श्रीवास्तव, जनपद पंचायत विजयराघवगढ़ अध्यक्ष राकेश गुप्ता, नगर पंचायत विजयराघवगढ़ के अध्यक्ष गंगाराम, कैमोर गणेश राव, अनेक जनप्रतिनिधि, तहसीलदार सुधाकर सिंह बघेल, जनपद पंचायत की मुख्यकार्यपालन अधिकारी श्रीमती प्रभा तेकाम, जिला स्तरीय विभागों, जनपद विजराघवगढ़ कैमोर एवं विजयराघवगढ़ नगरीय निकायों के अधिकारी कर्मचारी एवं ग्रामीण जन उपस्थित थे।
विधायक संजय पाठक ने कहा कि पं. दीनदयाल उपाध्याय की विचारधारा थी कि समाज के अंतिम छोर के व्यक्ति को लाभ पहुॅंचाना था। इसी उददेश्य को ध्यान में रखते हुए शासन की योजनाओं की जानकारी देने के लिए मुख्यमंत्री द्वारा अन्त्योदय मेले लगाने का निर्णय लिया है। समाज के अंतिम छोर के व्यक्ति को सबसे पहले लाभ दिलाना सरकार का उददेश्य है। सरकार गरीबों, मजदूारों नौजवानों एवं सर्वहारा वर्ग के लिए कार्य कर रही है। सरकार ने लाडली लक्ष्मी योजना जैसी अनेक योजनाये बनायी है। बच्चे के गर्भ में आने से लेकर योजनाओं की शुरूआत हो जाती है। उन्होंनें कहा कि आमजन अन्त्योदय मेला में लगे विभिन्न स्टालों में जाएँ, योजना की जानकारी प्राप्त कर लाभ उठाये। उन्होंनें पीने के पानी की समस्या सहित क्षेत्र की अन्य समस्याओं की तरफ प्रशासन का ध्यान आकृष्ट कराया। उन्होंने कहा कि गर्मी के मौसम मे पानी की समस्या होती है। विभागों के अधिकारी मुख्यालय में ही रहें।
जिला पंचायत की अध्यक्ष श्रीमती ममता पटेल ने कहा कि अन्त्योदय मेला में शासन की जनकल्याणकारी योजनाओं की जानकारी विभागों द्वारा दी जा रही है। ग्रामीण जन योजनाओं की जानकारी प्राप्त कर लाभ उठाये। अन्त्योदय मेेला में शासन की योजनाओं का लाभ एक ही स्थान पर दिया जाता है। जनपद पंचायत विजयराघवगढ़ के अध्यक्ष गंगाराम सहित अन्य जनप्रतिनिधियों एवं अधिकारियों द्वारा अपने विचार व्यक्त किए गए।
कलेक्टर प्रकाश जांगरे ने कहा कि अन्त्योदय मेला का उददेश्य शासन की विभिन्न योजनाओं को लाभ एक ही छत के नीचे प्रदान करना है। आमजन जो जिला तक नहीं पहुॅंच पाते है। इसलिए जनपद पंचायत स्तर पर अन्त्योदय मेला का आयोजन किया जाता है। मेला में योजनाओं की जानकारी दी जाती है, तथा लाभ भी दिया जाता है।
जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी डाॅ के.डी.त्रिपाठी ने कहा कि शासन की जनकल्याणकारी योजनाओं की जानकारी दी जाती है, तथा पात्र हितग्राहियों को एक ही छत के नीचे सबके सामने लाभांवित किया जाता है। उन्होंनें बताया कि जनपद पंचायत विजयराघवगढ़ में मेला में 15 करोड़ 28 लाख रूपये से अधिक भी राशि का लाभ लगभग 16 हजार से  अधिक हितग्राहियों को दिया गया।
विजयराघवगढ़ के अन्त्योदय मेला में उपस्थित अतिथियों द्वारा मां सरस्वती महात्मागांधी एवं पं. दीनदायाल उपाध्याय के चित्र का पूजन किया गया। शाला की छात्राओं सुमन, आकांक्षा कीर्ति, आकृति द्वारा स्वागत गीत सरस्वती वन्दना प्रस्तुत की गई। कार्यक्रम में मध्यप्रदेश गान का गायन भी किया गया।
अन्त्योदय मेला सह सूचना शिविर में जनसम्पर्क विभाग सहित शासन के विभिन्न विभागो द्वारा विभागीय योजनाओं की प्रदर्शनी लगायी गई तथा योजनाओं का प्रचार साहित्य वितरित किया गया। अतिथियों द्वारा विभागो द्वारा लगायें गए स्टालों का अवलोकन किया गया।
हाट बाजार का उदघाटन-स्थानीय विधायक संजय पाठक, कलेक्टर प्रकाश जांगरे सहित अन्य जनप्रतिनिधियों एवं अधिकारियों द्वारा मेला प्रागंण में हाट बाजार का उदघाटन किया गया।

Friday, February 12, 2016

एकता परिषद एवं गांधी शांति फाउन्डेशन के प्रतिनिधि मंडल का नगर निगम कटनी में किया गया स्वागत

कटनी - नगर पालिक निगम कटनी के महापौर कक्ष में महापौर  शशांक श्रीवास्तव एवं समस्त पार्षदों अधिकारी कर्मचारियों के द्वारा एकता परिषद एवं गांधी शांन्ति फाउन्डेशन के स्विटजरलेंड एवं जर्मनी से पधारे प्रतिनिधियों का स्वागत किया गया तथा  उनके देश में वर्तमान में चल रहे विकास योजनाओं के संबंध में आपसी विचार विमर्श किया गया व एक दूसरे देशों की शासन पद्धतियों एवं नगरीय निकाय के क्रिया कलापों के संबंध में विस्तृत चर्चा भी की गई। इस दौरान  शहर के ड्रेनेज सिस्टम, अधोसंरचना विकास, आत्मा प्रोजेक्ट के तहत स्वच्छ पेयजल शहरी ट्रांसपोर्ट, सडक, स्ट्रीट लाईट, शिक्षा के स्तर के सुधार, पर्यावरण, पेंशन, निर्वाचन आदि विषयों पर चर्चा की गई।

इस दौरान महापौर  शशांक श्रीवास्तव द्वारा प्रतिनिधि मंडल से नगर निगम अध्यक्ष  संतोष शुक्ला एवं समस्त उपस्थित निर्वाचित पार्षदों से परिचय कराया गया तथा एक दूसरे का स्वागत किया गया।

स्वागत के दौरान समाज सेवी मोहन नागवानी, संतोष भाई, जिला योजना समिति सदस्य अनिल खरे, श्रीमती सृर्जना कंदेले, पार्षद  गौरी शंकर पटैल, गुलाब बेन, केशराम विश्वकर्मा विजय डब्बू रजक, सुशील सोनी फग्गू श्रीमती लक्ष्मी कोल, श्रीमती रजनी केवट, रेखा बर्मन, आशीष कंदेले सतीष पटैल, जितेन्द्र अहिरवार, जयनारायण निषाद सहित नगरनिगम के समस्त उपयंत्री सर्व आदेश जैन, अनिल जायसवाल, जयेन्द्र प्रताप सिंह बघेल, अश्वनी पाण्डे, सुरेन्द्र मिश्रा, गणेश बिचपुरिया, अनिल त्रिपाठी सहित अन्य अधिकारी कर्मचारी उपस्थित रहे।

Wednesday, February 10, 2016

स्वच्छ भारत मिशन के तहत नगरीय निकायों के लिए समिति गठित

कटनी/ स्वच्छ भारत मिशन योजना के प्रावधानों के तहत जिले के नगरीय क्षेत्रों में स्वच्छता कार्यकम की गतिविधियों को संचालित करने के लिए समिति का गठन किया गया। 
कलेक्टर प्रकाश जांगरे द्वारा बताया गया कि स्वच्छ भारत मिशन के तहत नगरीय क्षेत्रों में व्यक्तिगत शौचालय एवं सामुदायिक शौचालय का निर्माण, ठोस अपशिष्ठ प्रबंधंक आदि की विभिन्न गतिविधियों को संचालित की जाना है, इसके लिए जिला स्तर पर समिति का गठन किया गया है। 
जिला शहरी विकास अभिकरण के परियोजना अधिकारी श्री अभय मिश्रा द्वारा बताया गया कि उक्त समिति में जिले के लोकसभा सदस्य को अध्यक्ष तथा राज्यसभा सदस्य को उपाध्यक्ष बनाया गया है। 
इसी तरह कटनी जिले के समस्त विधायकगण, महापौर नगर पालिका निगम कटनी, नगर परिषद कैमोर, बरही एवं विजयराधवगढ़ के अध्यक्ष, नगर पालिका निगम कटनी के आयुक्त, मुख्य नगर पालिका अधिकारी नगर पालिका कैमोर, बरही एवं विजयराघवगढ़, नगरीय प्रशासन एवं विकास विभाग जबलपुर के संभागीय उपसंचालक, अध्यक्ष द्वारा मनोनीत श्रीमती अंजू शर्मा कटनी, एवं सुनील मिश्रा कटनी को संदस्य बनाया गया है। जिला मजिस्ट्रेट एवं कलेक्टर को समिति का सदस्य सचिव बनाया गया है। 
उक्त जिला स्तरीय समिति जिले स्तर पर स्वच्छ भारत मिशन के प्रावधानों के अन्तर्गत प्रचलित गतिविधियों का मूल्यांकन, पर्यवेक्षण, समीक्षा एवं प्रगति का मूल्यांकन  करेंगी।  


हेलमेट धारी वाहन चालको को ही डीजल-पेट्रोल प्रदाय किया जाये - कलेक्टर

कटनी/ संचालनालय खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण दोपहिया वाहन दुर्घटनाओं पर रोक लगाने एवं निरापद यात्रा सुनिश्चित करने के उदेश्य से मोटर व्हीकल एक्ट 1983 के प्रावधानों के साथ ही पेट्रोल-डीजल पंप अनुज्ञप्तिधारियों को यह सुनिश्चित करने के निर्देश दिये गये है कि केवल उन दोपहियां वाहनों में पेट्रोल प्रदाय किया जाये जिनके चालक निर्धारित हेलमेट धारण किये हुये है।
अतः संचालनालय के परिपत्र का पालन सुनिश्चित करने एवं कटनी जिले में दो पहिया वाहनों के परिचालन को निरापद बनाने के उददेश्य से कलेक्टर एवं अनुज्ञापन प्राधिकारी कटनी प्रकाश जांगरे द्वारा म.प्र. मोटर स्प्रिट एवं हाई स्पीड डीजल आयल (अनुज्ञापन एवं नियंत्रण) आदेश 1980 की धारा 10 में प्रदत्त शक्तियों का प्रयोग करते हुए कटनी जिले के समस्त अनुज्ञप्तिधारी पेट्रोल-डीजल पंप धारियो को निर्देशित किया है कि केवल उन दो पहिया वाहनों में पेट्रोल प्रदाय किया जायें जिनके चालक एवं सहचर विहित रूप से आई.एस.आई. मार्क युक्त हेलमेट धारण किये हुए हो। इस निर्देश का उल्लघंन म.प्र. मोटर स्प्रिट एवं हाई स्पीड डीजल आॅयल (अनुज्ञापन एवं नियंत्रण) आदेश 1980 के खंड 12.15 एवं आवश्यक वस्तु अधिनियम 1955 की धारा 3 एवं 7 के तहत दण्डनीय होगा। 

Monday, February 08, 2016

सूचना का अधिकार अधिनियम की लोक सूचना अधिकारियों को 2 दिन का प्रशिक्षण

कटनी/  सूचना का अधिकार अधिनियम की बारीकियों को समझे, अधिनियम के अंतर्गत मांगी गई जानकारी समय-सीमा पर आवेदक को दें। जिसमें समय-सीमा का विशेष ध्यान रखा जाये, यह बात जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी डाॅ. के.डी. त्रिपाठी, ने सूचना का अधिकार अधिनियम के तहत आयोजित 02 दिवसीय प्रशिक्षण के दौरान कही।
जिला पंचायत के सभा कक्ष में सूचना का अधिकार अधिनियम 2005 अंतर्गत क्षमता विकास संवर्धन के लिए 2 दिवसीय प्रशिक्षण आयोजित किया जा रहा है। प्रशिक्षण में लोक सूचना अधिकारी ग्राम पंचायत एवं अपीलीय अधिकारी, प्रतिभागियों को नामांकित किया गया है। जिसमें प्रत्येक जनपद पंचायत से 04 प्रशिक्षणार्थी को प्रशिक्षण दिया जा रहा है। प्रशिक्षण के पहले दिवस में सूचना का अधिकार अधिनियम 2005, पृष्ठभूमि, आवश्यकता एवं क्रियान्वयन पर चर्चा, अधिनियम के क्रियान्वयन में नागारिकों को सदभावना पूर्ण व्यवहार की भूमिका, अधिनियम की धाराओं का प्रस्तुतीकरण, एवं प्रतिभागियों की जिज्ञाशाओं का समाधान किया गया ।
जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी, ने कहा कि प्रशिक्षण से सभी प्रतिभागी सूचना का अधिकार अधिनियम के प्रावधानों की जानकारी लेें एवं प्रावधानों को समझें और आवेदको को अधिनियम के अंतर्गत मांगी जाने वाली जानकारी उपलब्ध करायें। उन्होने अधिनियम की धारा, उपधाराओं के संबंध में भी जानकारी दी। धारा 4 क उपधारा (1) धारा 5 की धारा (1) और उपधारा (2) धारा 12., 13, 15, 16, 24, 27 और 28 के उपबंध तुरंत प्रभावी होंगे और इस अधिनियम के शेष उपबंध इसके अधिनियम के एक सौ चैबीस वे दिन प्रवत्त होंगे, यह जानकारी प्रशिक्षण में दी गई।
प्रशिक्षक शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय देवराकला के प्राचार्य ए.के. मिश्रा एवं बालक उच्चतर माध्यमिक विद्यालय बरही के व्याख्याता मुकेश द्विवेदी द्वारा सूचना के अधिकार अधिनियम के प्रावधानों की विस्तृत जानकारी दी गई तथा प्रतिभागियों द्वारा पूछे गये, प्रश्नों के संबंध में उन्हें जानकारी दी गई। इस दौरान जिला पंचायत के परियोजना अधिकारी श्री ज्ञानेन्द्र सिंह एवं जनपद पंचायतों के प्रशिक्षार्थी मौजूद थेे।