Friday, March 27, 2015

कई सवाल छोड़ गया शपथ ग्रहण समारोह का जलवा


 कटनी - जिला पंचायत अध्यक्ष, उपाध्यक्ष  का 26 मार्च को निजी परिसर में आयोजित शासकीय शपथ ग्रहण आयोजन  फिजूलखर्ची के कारण अपने पीछे कई सवाल छोड़  गया है. एक तरफ़ तो पिछले दिनों बेमौसम बारिश और  ओले गिरने से फ़सलों को काफ़ी नुकसान पहुँचा है जिससे जिले के किसान अत्यधिक दुखी परेशानी की अवस्था में है वही दूसरी तरफ़ ग्रामीण क्षेत्रों की सेवा करने के नाम पर चुने गए जनप्रतिनिधि ही शपथ ग्रहण समारोह के नाम पर फिल्मी सितारों के संगम, डांस एवं कामेडी के जबरदस्त हंगामे का रसपान करते नजर आए जिससे ग्रामीण क्षेत्र की जनता के जख्मों पर नमक सा छिड़का जान पढ़ता है, कुछ ग्रामीण जनता ने यह कहा है कि ख़ुद भाजपा से विजयराघवगढ़ विधायक संजय पाठक अपने क्षेत्र में ओला और बारिश से क्षतिग्रस्त फ़सलों का दौरा करते नजर आते है वही उनके द्वारा ही शपथ ग्रहण समारोह में रंगारंग कार्यक्रमों के लिए अनावश्यक की गई फिजूलखर्ची समझ से परे है और इसे नाम जलवा 2015 का दिया गया था.  किसानों के दुःख के समय ग्रामीण क्षेत्र के जनप्रतिनिधि जलवे में कैसे रह सकते है ?   क्या चुने गए जनप्रतिनिधियों का सादे समारोह में शपथ लेना उचित नही होता वह भी तब जब किसान व्यथित है और मुआवजे के लिए मुँह बाये खड़ा है.
क्या यह अच्छा नही होता कि जिला पंचायत अध्यक्ष, उपाध्यक्ष ग्रामीण जनता के बीच में जाकर उनकी सेवा के लिए शपथ ग्रहण करते ? इससे जनता का विश्वास और मज़बूत होता जबकि ऐसा करके मौके की नज़ाकत के विपरीत जाकर रंगारंगी, फिजूलखर्ची करने की कोई तुक  नही थी.जिसमे लाखो रुपये सिर्फ़ दिखावे के लिए खर्च हो गए . इस तरह ऐसे कई सवाल ग्रामीण क्षेत्र की जनता के मन में तो आए ही है इससे सबक लेकर जनप्रतिनिधियों को आगे ऐसे आडम्बरों और दिखावे से दूर् रहना चाहिए जिससे जनता के बीच में विश्वास पैदा हो कि यह मेरा सुख दुःख का साथी है, सवाल तो इसपर भी उठा कि प्रभारी मंत्री राजेंद्र शुक्ल जिले में फ़सलों को हुए नुकसान देखने की बजाए विधायक संजय पाठक के हेलिकॉप्टर में इस आयोजन में शामिल होने आए और चले भी गए.    

Thursday, March 26, 2015

जिला पंचायत का प्रथम सम्मेलन प्रभारी मंत्री के मुख्य आतिथ्य में सम्पन्न

कटनी/ जिला पंचायत के नवनिर्वाचित सदस्यो का भव्य शपथ ग्रहण समारोह प्रदेश शासन के ऊर्जा,नवीन एवं नवकरणीय ऊर्जा ,खनिज , जनसंपर्क एवं जिले के प्रभारी मंत्री के मुख्य आतिथ्य में कटाये घाट मोड बरगंवा में आयोजित किया गया।
समारोह में जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती ममता पटेल एवं उपाध्यक्ष अशोक विश्वकर्मा के अतिरिक्त 7 जिला पंचायत सदस्यो ने शपथ ली। यह शपथ जिला पंचायत के वरिष्ठ सदस्य उदयभान दाहिया द्वारा दिलाई गई। जिला पंचायत अध्यक्ष एवं उपाध्यक्ष ने अपने उद्बोधन में कहा कि वे मध्यप्रदेश पंचायती राज एवं ग्राम स्वराज अधिनियम 1993 के अन्तर्गत बने नियमो के तहत श्रद्धा पूर्वक व ईमानदारी से कार्य करेंगे तथा ज़िले के सर्वांगीण विकास के प्रति हर संभव प्रयास करेंगे।
प्रभारी मंत्री राजेंद्र शुक्ल ने अपने उद्बोधन में जिला पंचायत के नवनिर्वाचित सदस्यो को बधाई देते हुये कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चैहान ने प्रदेश के विकास के लिये कई जनकल्याणकारी योजनाये बनाई है। जिनके सफल संचालन से प्रदेश  का विकास अवश्य ही होगा। अतः जनप्रतिनिधि उनके सही क्रियान्वयन की माॅनीटरिंग कर योजनाओ को आमजन तक पहुॅचाकर जनकल्याण कर सकते है। उन्होने मुख्य रूप से सुदूर ग्राम सम्पर्क, स्वच्छता मिशन अन्तर्गत शौचालय बनाने, चौबीस श्रेणियो में चिन्हित परिवारो को उपलब्धता सुनिश्चित करानें, वास स्थल दखलकार, भू-अधिकार पट्टे आदि योजनाओ के संबंध में जानकारी देते हुये कहा कि सरकार की योजनाओ का लाभ आम जन तक पहुॅचे यह हर संभव प्रयास करना चाहिये।
नगर निगम के महापौर शशांक श्रीवास्तव ने उन्नत व विकसित जिला बनाने के संकल्प को दोहराया। विजयराघवगढ़ विधायक संजय पाठक ने भी योजनाओ का लाभ आमजन तक पहुॅचाने व उन्हे लाभान्वित करने को कहा। इस अवसर पर कलेक्टर विकास सिंह नरवाल, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी, एएसपी सहित सभी अधिकारी /कर्मचारी उपस्थित थे। कार्यक्रम का आभार प्रदर्शन जिला पंचायत के अतिरिक्त मुख्य कार्यपालन अधिकारी गौरव पुष्प ने व कार्यक्रम का संचालन राजेन्द्र आसाटी ने द्वारा किया गया।