Saturday, February 08, 2014

हकदारो को हक या भू माफियाओ को फायदा .. इधर समाधान की राह उधर ज़मीनो की डकैती




(प्रबल सृष्टि विशेष) माधवनगर स्थित पुनर्वास भूमि समस्या का हल निकालने प्रशासनिक स्तर पर प्रयास शुरू हो चुके है, हालाँकि यह प्रयास अभी आरम्भिक चरण में है लेकिन जिस मंशा को लेकर यह किए जा रहे है उसमें अगर बाद के स्तरों पर कोई रुकावट या भू माफियाओ को विशेष फायदा देने के प्रयास नहीं हुए तो पुनर्वास भूमि समस्या हमेशा हमेशा के लिए खत्म हो जाएगी. इसके लिए प्रशासन को अभी से ही फूंक फूंक कर कदम उठाने की जरूरत है क्योंकि इस पूरी कवायद का असल उद्देश्य देश के विभाजन के समय पश्चिमी पाकिस्तान से आए शरणार्थी परिवारों को ही नियमअनुसार भूमि का हक दिलाना है, ना की भू-माफियाओ को लाभ पहुँचाना, कहीं यह न हो कि इस पूरी कवायद का नाजायज फायदा अति सम्पन और वे दबंग लोग ही उठाने लग जाए जिनकी वजह से ही उत्त्पन हुई समस्या लंबित चली आ रही है. कुछ ऐसे प्रयास नजर भी आने लगे है, हाल के दिनों में ही बंगला लाइन एसीसी क्लब के पास खाली पड़ी हुईं लाखो वर्गफुट पुनर्वास भूमि पर कई बाउंड्री वाल तानकर अवैध कब्जा कर लिया गया है. क्या प्रशासन को यह नजर नही आया ? जहां एक तरफ़ गरीब लोगो को बेदखल करने में प्रशासन जरा भी देर नही लगाता वही दूसरी तरफ़ लाखो वर्गफुट भूमि पर अवैध कब्जा वह होने देता है. इसकी जवाबदेही किसकी है ताजे ताजे हुए ऐसे अवैध कब्जों को भी अगर वैध करने का खेल समस्या के समाधान की आड़ में खेला जाता है तो निसंदेह यह आपराधिक कृत्य की श्रेणी में आयेगा        


कटनी - 12 शीटों में विभाजित 399 एकड़ आरक्षित पुनर्वास भूमि पर 1711 पट्टे पूर्व में ही दिए जा चुके है, बाकी खाली पड़ी भूमि पर कुछ अन्य बस्तियाँ बस गई, कुछ पर प्रशासनिक अधिकारियों के शासकीय आवास बने हुए है, इसके अलावा बाकी बची भूमि पर अवैध कब्जा कर किया गया था, अब उस अवैध कब्जे और बाकी हक़दार जनों को भूमि का हक दिए जाने की दिशा में प्रशासन प्रयास शुरू कर चुका है. सूत्रों से प्राप्त जानकारी अनुसार जिनका 1800 वर्ग फिट पर कब्जा है उन्हें बाज़ार मूल्य का 10 प्रतिशत राजस्व चुकाना होगा, भूमि पर कब्जे के अनुसार यह दरें बढ़ती जायेंगी, 5000 वर्ग फिट तक 30 प्रतिशत और इससे ज्यादा होने पर बाज़ार मूल्य का 75 प्रतिशत तक चुकाना होगा. यह भी स्पष्ट है कि भूमि का आवंटन पूर्व निर्धारित 12 शीटों के अनुसार ही किया जायेगा. कई वर्षो से रहने वाले जो परिवार अपना हक मिलने का इंतज़ार में थे उनके लिए यह अच्छा है, प्रशासन को इस बात को सुनिश्चित कर लेना चाहिए कि हाल के वर्षो में लाखो वर्गफुटो पर अवैध कब्जा करने वाले समाधान की इस प्रक्रिया में प्रशासन के कंधों पर ही न बैठ कर अपना उल्लू सीधा कर ले   

पारदर्शिता और संतुलन बनाए रखना जरूरी






कुछ ऐसे सवाल जो बाद में हर स्तर पर खड़े हो सकते है उन्हें ध्यान में रखकर ही निष्पक्ष प्रयासों की उम्मीद अब आम जनता को जगी है, क्योंकि यह बात किसी से छिपी हुई नही है कि पुनर्वास भूमि पर ज्यादातर कब्जा किसका और कितना है. अगर किसी का 1 लाख वर्ग फिट या इससे कम या ज्यादा भूमि पर कब्जा है तो कही ऐसा ना हो कि 5 - 5 हजार वर्ग फिट भूमि का हक उनके परिवार और उनके अन्य रिश्तेदारों के नाम पर ही आवंटित कर दिया जाए. एक तरफ़ माधव नगर में ज्यादातर साधारण वर्ग के लोग है वह यह रकम कैसे चुका पायेंगे यह भी एक विचारणीय प्रश्न है, दूसरी तरफ़ सम्पन वर्ग भी है जिसके लिए बड़ी रकम चुका पाने कोई मुश्किल कम नही है, साधारण और मध्यम वर्ग 1800 वर्ग फिट या इससे भी कम भूमि पर काबिज है, उसे भूमि का हक मिलेगा यह निस्संदेह स्वागत करने वाली बात होगी, जिनके भूमि के बड़े हिस्से पर कब्जे है उनके पास कटनी जिले में अन्य स्थानों पर भी भूमि हो सकती है, पक्रिया में पारदर्शिता और संतुलन बनाए रखना प्रशासन के लिए जरूरी है  
   
   

Wednesday, February 05, 2014

प्रभारी मंत्री शामिल हुए जिला योजना समिति की बैठक में


कटनी / जिले के प्रभारी मंत्री तथा ऊर्जा नवीन एवं नवकरणीय, खनिज साधन तथा जनसम्पर्क मंत्री राजेन्द्र शुक्ल की अध्यक्षता में जिला योजना समिति की बैठक बुधवार 5 फरवरी को सम्पन्न हुई । बैठक में पिछली बैठक की कार्यवाही विवरण का पालन प्रतिवेदन पर विस्तार से चर्चा की गई तथा खेत, सड़क एवं सुदूर ग्राम सम्पर्क योजना के क्रियान्वयन की समीक्षा की गई । बैठक में  जिले में घरेलू एवं बिजली की उपलब्धता, नर्मदा घाटी विकास प्राधिकरण द्वारा निर्माणाधीन स्लीमनाबाद -मैहर नहर  निर्माण की समीक्षा, मुख्य मंत्री आवास योजना तथा एक रूपये किलो गेहूं चावल वितरण योजना की समीक्षा उपरांत अध्यक्ष की अनुमति से अन्य विकासात्मक पहलुओं पर चर्चा की गई । इस अवसर पर भाजपा जिलाध्यक्ष विजय शुक्ला, विधायक बहोरीबन्द प्रभात पाण्डे, विधायक कटनी  संदीप जायसवाल, विधायक बड़वारा मोती कश्यप, जिला पंचायत सदस्य श्रीमती पदमा शुक्ला, जिला पंचायत अध्यक्ष सुश्री क्रांति  चैधरी उपाध्यक्ष र्सौरभ सिंह कृषि समिति के सदस्य एवम् सांसद प्रतिनिधि मिट्ठूलाल जैन प्रशासनिक अधिकारियों में  कलेक्टर ए के सिंह, मुख्यकार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत जेड. यू. शेख एवं जिला योजना अधिकारी सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे 

नगर विकास के महत्वपूर्ण निर्णय



कटनी - महापौर श्रीमती रूकमणी बर्मन की अध्यक्षता में 5 फरवरी को संपन्न हुई मेयर इन काउसिल की बैठक मे  सिटी बस सेवा प्रारंभ करने हेतु स्टेट लेबिल स्ट्रीट राईजिंग कमेटी के द्वारा 29 करोड 19 लाख की डी.पी.आर का अनुमोदन एवं निगम अंशदान वहन करने तथा मुख्य मंत्री शहरी अधोसंरचना विकास योजना के अंतर्गत 20 करोड 10 लाख की लागत से सागर पुलिया से बिलहरी मोड तक उत्कृष्ट सडक निर्माण की न्यूनतम निविदा को स्वीकृति प्रदान की गई है। बैठक मे आयुक्त एस.के.सिंह एवं समस्त एम.आई.सी सदस्य उपस्थित थे। उल्लेखनीय है कि उपरोक्त योजनाओं को लागू करने के लिये विधायक संदीप जायसवाल एवं महापौर श्रीमति रूकमणी बर्मन द्वारा शासन स्तर पर किये गये प्रयासों के फलस्वरूप योजनाओं को फलीभूत किये जाने मे सफलता प्राप्त हुई है।

सागर पुलिया से बिलहरी मोड तक बनेगी उत्कृष्ट सडक

मुख्यमंत्री शहरी अधोसंरचना विकास योजना अंतर्गत सागर पुलिया से बिलहरी मोड तक उत्कृष्ट सडक का निर्माण 18 करोड की लागत से किया जाना है, उसकी प्राप्त निविदाओं मे से न्यूनतम निविदादाता पी.एस. कंस्टक्शन, लुधियाना की निविदा को मेयर इन काउसिंल द्वारा सर्वसम्मति से स्वीकृति प्रदान कर दी गई है। निविदा स्वीकृति से इस योजना के क्रियान्वयन का मार्ग प्रशस्त हो गया है।
सागर पुलिया से बिलहरी मोड तक सडक चैडीकरण के कार्य पर 881.87 लाख, रोड डिवाईडर निर्माण पर 111.16 लाख, नाली एवं फुटपाथ निर्माण 218.30 लाख, आर.आर.सी.सी. कल्वर्ट निर्माण पर 39.69 लाख, रिटेरनिंग वाल निर्माण पर 224.58 लाख, सेंट्रल लाईटिंग कार्य पर 241.19 लाख, सिटिंग एवं विद्युतीकरण पर 60 लाख, तथा उद्यान विकास पर 23.21 लाख रूपये व्यय होगें। इस योजना के क्रियान्वित होने से नगर के सौदर्यीकरण की दिशा में महत्वपूर्ण सफलता प्राप्त होगी।

पाईप लाईन बिछाये जाने की समयावधि बढाई गई
            
यू.आई.डी.एस.एस.एम.टी योजनांतर्गत प्रस्तावित नई एवं पुरानी टंकियों को भरने के लिये 17.93 किलोमीटर लंबाई की डी.आई.के - 7 पाईप लाईन बिछाये जाने के कार्य की विगत दिनो विधायक श्री संदीप जायसवाल व महापौर श्रीमति रूकमणी बर्मन द्वारा की गई समीक्षा के उपरांत कार्य मे आ रहे अवरोधों को देखते हुये कार्य पूर्ण करनें की समयसीमा 31 मार्च 2014 तक बढाये जानें का निर्णय मेयर इन काउसिल द्वारा सर्वसम्मति से लिया गया। इस कार्य मे रेल्वे एरिया से पाईप लाईन ले जाये जानें के लिये रेल्वे की अनापत्ति प्राप्त न होनें के कारण इस कार्य की समयसीमा बढाई गई है। बैठक मे अधिकारियों द्वारा बताया गया कि रेल्वे द्वारा अनापत्ति प्रदान करनें हेतु कार्यवाही प्रगति पर है।

नगर निगम कर्मचारियों की अनुग्रह राशि 25 से बढ़कर हुई 50 हजार

मध्यप्रदेश शासन के वित्त विभाग के पत्र के अनुसार शासकीय सेवक की सेवा मे रहते मृत्यु होने पर मृतक के परिवार को अनुग्रह अनुदान राशि 25 हजार के स्थान पर 50 हजार की स्वीकृति मेयर इन काउसिंल द्वारा सर्व सम्मति से प्रदान की गई है।



Tuesday, February 04, 2014

बचपन बचाओ अभियान चलाया जायेगा.. एन.सी.सी. और एन.एस.एस. की गतिविधियों को भी विस्तार देंगे - मुख्यमंत्री


मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सागर संभाग के एन.सी.सी कैडेट्स को ‘‘मुख्यमंत्री बेनर’’ प्रदान किया .. 
 भोपाल : 4 फरवरी / प्रदेश में एन.सी.सी. और राष्ट्रीय सेवा योजना की गतिविधियों को विस्तार दिया जायेगा। ये संस्थाएँ भविष्य के लिये अनुशासित और संस्कारित नागरिक बनाने का वातावरण तैयार करती हैं। एन.सी.सी. को स्कूलों में अनिवार्य करने और एन.सी.सी. केडेट्स के नाश्ते का बजट बढ़ाने पर भी विचार होगा, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अपने निवास पर मिलने आये मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ के एन.सी.सी. और राष्ट्रीय सेवा योजना के सदस्य विद्यार्थियों को संबोधित कर यह बात कही है ज्ञात हो कि  प्रदेश के एन सी सी केडेट्स ने नई दिल्ली की गणतंत्र दिवस परेड में भाग लेकर प्रदेश का गौरव बढ़ाया है।

मुख्यमंत्री ने एन.सी.सी. केडेट्स और एन.एस.एस. सेवकों का आव्हान किया कि वे मध्यप्रदेश बनाओ अभियान में भी भागीदारी करें। उन्होंने बताया कि बचपन बचाओ अभियान को भी इस अभियान के साथ जोड़ा जायेगा। उन्होंने कहा कि किसी भी प्रकार के नशे के सेवन से भावी पीढ़ी को बचाना इसका उद्देश्य होगा। मुख्यमंत्री ने बताया कि मध्यप्रदेश बनाओ अभियान के अन्तर्गत पौध रोपण, पानी बचाओ, बेटी बचाओ, स्वच्छ पर्यावरण बनाने, साक्षरता बढ़ाने के अभियान चलाये जा रहे हैं। इसी कड़ी में बचपन बचाओ अभियान भी चलाया जायेगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश और राष्ट्र को युवा पीढ़ी से कई उम्मीदें हैं। ज्ञान, कौशल और संस्कार से ही युवा पीढ़ी देश और प्रदेश के निर्माण में योगदान दे पायेगी। उन्होंने विद्यार्थियों से आव्हान किया वे लक्ष्य तय कर अपना सर्वश्रेष्ठ योगदान दें।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री श्री चौहान ने गणतंत्र दिवस परेड नई दिल्ली में भाग लेकर प्रदेश का गौरव बढ़ाने वाले एन.सी.सी. केडेट्स को प्रमाण-पत्र और नगद पुरस्कार राशि देकर सम्मानित किया।

मेजर जनरल ए.के. घोष अतिरिक्त महानिदेशक एन.सी.सी. मध्यप्रदेश एवं छत्तीसगढ़ ने पिछले एक साल में एन.सी.सी. केडेट्स की उपलब्धियों की जानकारी दी।


एन.सी.सी. केडेट्स ने सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किया। इस अवसर पर सागर संभाग को विशेष उपलब्धियों के लिए मुख्यमंत्री बेनर प्रदान किया। उच्च शिक्षा मंत्री उमाशंकर गुप्ता, स्कूल शिक्षा राज्य मंत्री दीपक जोशी ने भी केडेट्स को संबोधित किया। प्रमुख सचिव उच्च शिक्षा जे.एन. कंसोटिया, प्रमुख सचिव स्कूल शिक्षा एस.आर. मोहन्ती एवं ब्रिगेडियर बी.एम. सिंह उपस्थित थे।

पति पत्‍‌नी को स्मैक बेचते पुलिस ने पकड़ा

कटनी - थाना कोतवाली को मुखबिर से मौखिक सूचना प्राप्त हुई कि एक व्यक्ति अपनी पत्नि के साथ ज्ञान विद्या मंदिर, रेल्वे लाईन कटनी के पास खड़ा है, जो दुबला पतला सा है, अपने पास स्मैक मादक पदार्थ रखा है, और स्मैक बेचने के लिये किसी ग्राहक का इंतजार कर रहा है, सूचना से वरिष्ठ अधिकारियों को अवगत कराया गया जिसपर पुलिस अधीक्षक राजेश हिंगणकर, नगर पुलिस अधीक्षक बी.पी. सिंह के मार्गदर्शन में व थाना प्रभारी कोतवाली कटनी एस.के. शुक्ला के नेतृत्व में एक टीम का गठन किया गया, जिसमें उप निरीक्षक ज्योति सिंह, प्र.आर. कप्तान सिंह, आर. विष्णु दत्त शुक्ला, लालजी यादव को सूचना की तस्दीक हेतु तत्काल मौके पर रवाना किया गया, ज्ञान विद्या मंदिर, रेल्वे लाईन के पास योजनाबद्ध तरीके से घेराबंदी की गई, तो एक व्यक्ति अपनी पत्नि के साथ ज्ञान विद्या मंदिर, रेल्वे लाईन के पास खड़े दिखे, जो पुलिस को देखकर भागने का प्रयास करने लगे जिन्हें पुलिस द्वारा मौके पर रोककर पूछताछ की गई, पूछताछ से सतीश गुप्ता पिता शंकर गुप्ता उम्र 27 वर्ष नि. झर्रा टिकुरिया, भारत चौक कटनी, एवं लक्ष्मी पति सतीश गुप्ता उम्र 27 वर्ष नि. झर्रा टिकुरिया कटनी का निवासी होना बताया गया, गवाहों के सामने उप निरीक्षक ज्योति सिंह द्वारा तलाशी लेने पर लक्ष्मी पति सतीश गुप्ता के पहने लाल कुर्ते से एक सफेद पालिथीन में मादक पदार्थ स्मैक बरामद की गई, एवं सतीश गुप्ता के जीन्स पेन्ट से दो सेमसंग, माइक्रोमेक्स कम्पनी के मोबाइल बरामद किया गया, बरामद स्मैक का वजन 07 ग्राम जिसकी कीमत 21 हजार रूपये करीब होना पाया गया, बरामदगी कर थाना कोतवाली कटनी में अप.क्र. 82/14 धारा 8/21 एन.डी.पी.एस. एक्ट का अपराध  दर्ज कर विवेचना में लिया गया, आरोपियों से स्मैक के श्रोत के संबंध में सघन पूछताछ की जा रही है, पुलिस अधीक्षक कटनी द्वारा टीम के सभी सदस्यों को पुरूस्कृत करने की घोषणा की गई है।

जनसुनवाई ... कलेक्टर ने दिये प्रकरणो का निराकरण जल्दी करने के निर्देश


कटनी/ कलेक्टर अशोक कुमार सिंह प्रदेश शासन की मंशानुरूप संवेदनशील प्रशासन देने के लिये कृतसंकल्पित है। इसी कड़ी में कलेक्ट्रेट परिसर में आयोजित जनसुनवाई में बैठकर उन्होनें आने वाले आवेदकों से उनकी समस्याओं के बारे मे जानकारी प्राप्त करते हुये उनके त्वरित निराकरण के निर्देश दियें। इस अवसर पर डिप्टी कलेक्टर एवं उपजिला निर्वाचन अधिकारी श्रीमती कविता बाटला भी उपस्थित थे। 
            जनसुनवाई के दौरान शहरी एवं ग्रामीण अंचल के लोगो ने अपने-अपने समस्याओं के निराकरण हेतु जनसुनवाई के दौरान कलेक्टर श्री ए.के.सिंह को समस्या का समाधान करने का निवेदन किया। जिस पर कलेक्टर ने सभी आवेदनो का  गंभीरता पूर्वक अवलोकन कर संबंधित अधिकारी को समयसीमा में निराकृत करने के निर्देश दिये। बैंकिग प्रकरणों के निराकरण हेतु लीडबैंक के प्रबंधक श्री पाण्डे भी उपस्थित रहे। मुख्य रूप से नक्शा सुधार, खेल मैदान भूमि से अतिक्रमण हटाना, जर्जर मकान ढ़हाये जाने, लड़ाई-झगड़ा, अवैध कब्जा, सीमांकन, बटवारा, मजदूरी भुगतान, इंदिरा आवास की राशि, वनभूमि का पट्टा प्रदाय करने, ओलापाला मुआवजा, मीटर बंद होने, खाद्य समाग्री दिलानेमकान गिरने पर मुआवजा, हेण्ड पंप लगवाने व गरीबी रेखा कार्ड आदि से संबंधित आवेदन थे।
             जनसुनवाई में विजयराघवगढ़ तहसील अंतर्गत टीकरगांव की जुगुन्ती बाई पति जल्लू चमार एव अन्य गांव के 6 आवेदनो को वनमण्डल अधिकारी से वन विभाग द्वारा किये गये कब्जे को हटाये जाने, छपरवाह, बिलगंवा, के समस्त ग्रामवासी एवं श्यामा प्रसाद मुखर्जी वार्ड के नागरिको द्वारा खेल मैदान भूमि एवं छट पूजा मेला भूमि पर अवैध पट्टा हटाये जाने वावत्, वी.ड़ी. अग्रवाल वार्ड निवासी राजेंद्र कुमार द्विवेदी द्वारा जर्जर भवन खाली कराकर ढ़हाये जाने बावत् आदि प्रमुख रहें।

            कलेक्टर द्वारा 4 फरवरी की जनसुनवाई में आए सभी 90 आवेदनो को अवलोकन कर संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया कि वे समस्या को त्वरित रूप से निराकरण करें।