Tuesday, January 28, 2014

12 साल के बच्चे के साथ 4 नाबालिगो और 1 वयस्क ने पहले किया दुष्कर्म फिर की नृशंस हत्या ...पुलिस ने किया पर्दाफाश .. सब स्तब्ध

गैर जिम्मेदार - लापरवाह माता - पिता को यह देखने जानने की फुर्सत ही नही कि उनके बच्चे क्या कर रहे है ? उनकी संगत कैसी है ? बच्चों के हाथ में रंगीन मल्टीमीडिया मोबाइल, गाड़ियाँ दी जा रही है, खर्च करने के लिए रुपये दिए जा रहे है. इसके बाद बच्चा कहां क्या कर रहा है, उन्हें जानने समझने की जरूरत ही महसूस नही होती. ग़लत माहौल मिलने की वजह से बच्चे कच्ची उम्र में वह सब करने लगे है जिसके गंभीर दुष्परिणाम जब हमारे आते है तो फिर हाथ में कुछ बचता ही नही है. माधव नगर में 12 वर्षीय बालक वंश रोहरा के साथ जो कुछ हुआ उसे देखने के बाद तो सबकी रूह कांप उठी थी. इस जघन्य अपराध को 4 नाबालिग बच्चों और एक वयस्क ने अंजाम दिया, यह अपराध हमे किस भविष्य की और बढ़ने का संकेत देता है ? आखिर इसकी जवाबदारी किसकी है ? माता -पिता,स्कूल,समाज,पुलिस  सबकी जिम्मेदारी बनती है कि वो ऐसे किसी कृत्य को नजरअंदाज न करे जो उचित नही है. सायबर कैफे, पूल, गेम पार्लर जैसी जगहें बच्चों के कच्चे मन पर ग़लत असर पैदा होने का कारण बन रहे है, सिगरेट, गुटखा की लत यही से शुरू हो रही है. इसके बावजूद समाज क्या कर रहा है ? सबको सिर्फ़ अपना स्वार्थ प्यारा है, कोई क्या करता है यहा किसे मतलब है ?    


कौन रोकता है पुलिस को अवैध आबाद जगहों पर कार्यवाही करने से ?  

12 साल के बालक वंश रोहरा से दुष्कर्म और हत्याकांड मामले की जाँच में पुलिस ने पाया  कि मोबाइल, इंटरनेट, अश्लील सीडी आदि के दुष्प्रभावों में आकर व नशे का प्रयोग कर जघन्य अपराध को अंजाम दिया गया है. पुलिस की इस संवेदनशील मामले में की गई कार्यवाही सिर्फ़ ऊपर ऊपर आरोपियों को पकड़ने तक तक ही सीमित है, अपराध के मूल कारणों की तह तक जाने में पुलिस गंभीर नजर नही आई, जबकि माधव नगर क्षेत्र में ही अवैध पूल, गेम पार्लर आदि धड़ल्ले से संचालित किए जा रहे है, इसपर क्यो पुलिस कार्यवाही नही करती ? गेम के बहाने से जुआ खेलने की प्रवृति ऐसी जगहों से ही शुरू होती है, नशे की लत यही से शुरू हो रही है, मोबाइल में अश्लील सामग्री कहां से लोड होती है ? क्या पुलिस इतनी नासमझ है कि उसे यह सब पता ही नही ? फिर पुलिस के हाथ किन वजहों से बन्धे हुए है ? कौन रोकता है इन्हे ऐसी अवैध आबाद जगहों पर जाकर कार्यवाही करने से ?         


बिल्डर की लापरवाही बना रही अवैध कृत्यों के लिए जगह  

अपने आरंभ से ही कुचर्चा के कारणों से विख्यात रही समदडीया सिटी माधव नगर के मालिकानो को पता ही नही कि उनके निर्माणाधीन मकानों में क्या चल रहा है. समदडीया सिटी के नागरिक बताते है कि अन्धेरा होते ही अकसर खाली जगह का फायदा उठाकर कतिपय लोग अपनी अवैध जरूरतों की पूर्ति में लिप्त दिखाई पढ़ जाते है. तीन साल में कालोनी बनाने का दावा करने वाले बिल्डर अजीत समदडीया आठ साल में कालोनी विकसित नही कर पाये है, उसपर कालोनी का हमेशा ग़लत कारणों से चर्चा में बने रहना भी नागरिकों को नागवार गुजरता है. वंश रोहरा दुष्कर्म हत्याकांड मामले में अब पुलिस की कार्यवाही सिर्फ़ बिल्डर को नोटिस देने तक ही सीमित है    


कटनी ( मध्य प्रदेश ) 27 जनवरी 2014 की सुबह रहिंदोमल रोहरा पिता चंचलदास रोहरा उम्र 42 वर्ष, निवासी कैरिन लाईन ने माधवनगर  थाने में उपस्थित होकर रिपोर्ट दर्ज कराई कि उसका 12 वर्षीय पुत्र वंश रोहरा 26 जनवरी की रात्रि करीब साढ़े सात बजे  सायकल लेकर निकला था, जो घर वापस नहीं आया, इस सूचना पर थाना माधवनगर में अपराध क्रमांक 56/14 धारा 363 ता.हि. का पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया, विवेचना के दौरान अपहृत बालक की लाश समदड़िया कालोनी स्थित सूने मकान में रक्त रंजित अवस्था में मिली।
उक्त सूचना पर पुलिस अधीक्षक राजेश हिंगणकर, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अमित सांघी, नगर पुलिस अधीक्षक बी.पी.सिंह एवं थाना प्रभारी माधवनगर निरीक्षक अखिल वर्मा तत्काल मौके पर पहुँचे एवं घटना की सूक्ष्म एवं वैज्ञानिक जांच प्रारंभ की गई। पुलिस अधीक्षक के निर्देशन में प्रकरण से संबंधित साक्ष्यों का संकलन किया गया, मृतक शिकागो पब्लिक स्कूल माधवनगर का छात्र था, इस बावत शिकागो पब्लिक स्कूल में जाकर उसके सहपाठी छात्रों से जानकारी ली गई, प्राप्त जानकारी के आधार पर मृतक के करीबी मित्रों से पूछताछ की गई, जिसमें पाया गया कि मृतक के करीबी 4 नाबालिग एवं 1 बालिग मित्र द्वारा मृतक के साथ दृष्कर्म करने का प्रयास के कारण पकड़े जाने के डर से पत्थर एवं कटर (आरी) से निर्मम हत्या कारित की गई हैं। पुलिस द्वारा 4 किशोरों को विधि विवादित पाये जाने पर अभिरक्षा में लिया गया, जिनके संबंध में वैधानिक कार्यवाही की जा रही है एवं वयस्क आरोपी धीरज उर्फ अम्मू शीतलानी को गिरतार किया गया।
प्राथमिक जांच में पाया गया कि विधि विवादित किशोरों एवं वयस्क आरोपी द्वारा मोबाइल, इंटरनेट, अश्लील सी.डी. आदि के दुष्प्रभाव में आकर एवं दुव्र्यसनों का प्रयोग कर अपराध कारित किया गया। विधि विवादित किशोरों एवं वयस्क आरोपी के विरूद्ध धारा 302, 120बी, 201, 377 ता.हि. एवं 3,4 लैंगिक अपराधों से बालकों का संरक्षण अधिनियम 2013 के तहत कार्यवाही की जा रही है।
थाना माधवनगर एवं थाना कोतवाली की संयुक्त पुलिस टीम द्वारा व्यवसायिक दक्षता का परिचय देते हुय चुनौतीपूर्ण मासूम बालक की अंधीहत्या का महज 24 घंटों में पर्दाफाश किया गया। पुलिस अधीक्षक द्वारा निरीक्षक अखिल वर्मा थाना माधवनगर, उप निरीक्षक एच.एम.श्रीवास्तव, सहायक उप निरीक्षक एस.के.चैधरी, सहायक उप निरीक्षक साखेन्द्र शर्मा, प्रधान आरक्षक अंजनी मिश्रा, श्यामसिंह, कप्तान सिंह, आरक्षक गणेश्वर, बादशाह बहादुर, प्रकाश सिंह, अरूण तिवारी, चन्द्रिका शुक्ला, पंकज त्रिपाठी, गणेशदत्त मिश्रा, वीरेन्द्र तिवारी के कार्य की सराहना की गई एवं सभी को पुरस्कृत करने की घोषणा की है।
पुलिस अधीक्षक राजेश हिंगणकर द्वारा समस्त जिलावासियों से अपील की है कि सभी अपने बच्चों को रात्रि में अकेले कहीं भी जाने न दें, बच्चों द्वारा मोबाइल, इंटरनेट के उपयोग पर उनकी गतिविधियों पर नजर रखें एवं सभी नौकरी पेशा एवं व्यापारी पालकों को अपने कार्य के अतिरिक्त बच्चों पर भी ध्यान विशेष ध्यान देने की अपील की गई है। मृतक के समाज के लोगों द्वारा संवेदनशील घटना होने के पश्चात पुलिस जांच व्यवस्था में विश्वास करते हुये पूर्ण सहयोग किया गया, जिसके लिये पुलिस विभाग की ओर से समाज के सभी लोगों का आभार व्यक्त किया है, जिससे पुलिस का जनता में विश्वास बढ़ा है। 


Sunday, January 26, 2014

महिलाओं के नाम का इस्तेमाल भर करते पुरुष पति ..स्थितियाँ आज भी है पहले जैसी

हम गणतंत्र की 65 वी वर्षगाँठ मना रहे है...  गण मतलब महिला और पुरुष..  महिला गण है पुरुष गण है यह सही है...  लेकिन तंत्र मतलब महिला और पुरुष के पास समान है तो यह ग़लत है....  गण और तंत्र का यह फर्क सदियों से इसी रुप में स्थापित था है और शायद आगे भी रहेगा....  इस बात का महिलाओं को थोढा बुरा लग सकता है...  लेकिन वह चाह कर भी इस सच्चाई से मुँह नही मोड़ सकती कि गांव - कस्बे - शहर कि राजनीति में महिलाओं को आरक्षण की वजह से उनका सिर्फ़ नाम ही इस्तेमाल किया जाता है... 

महिलाओं के अधिकार आरक्षण  देकर सुरक्षित किए जाने की बात तो तमाम राजनैतिक दल करते आए है... चुनावों में कुछ टिकट देकर अपनी पीठ भी थपथपाते है....  किसी पद पर चुनी गई महिला जब बैठती है तो लोगो को लगता है कि अब ज़माना बदल गया है....  दूर से देखने में तो सब सही लगता है कि महिलाये पद पर बैठ कर निर्णय कर रही है...  जरा पास में जाकर विश्लेषण करिये तो असलियत समझ में आ जाती है कि ज्यादातर लोग महिलाओं के नाम का सिर्फ़ इस्तेमाल करते है...  महिलाओं के निर्णय लेने की स्थिति न के बराबर है... 

सरपंच, पार्षद जैसे पद पर चुनी गई महिलाओं  के निर्धारित काम उनके पति ही कर रहे होते है... यह भी एक सत्य है कि पति ने भी उसे आरक्षण होने की वजह से उसका नाम भर आगे किया होता है...  महिला का बस नाम होता है...  निर्णय पुरुष पति के ही चलेंगे...  मर्जी पुरुष की ही चलेगी...  उसका इस्तेमाल सिर्फ़ दस्तखत करने...  शो पीस बना कर बिठाने तक सीमित है...  स्थितियाँ कमोबेश हर जगह एक जैसी है...   जब मुद्दों को जानने समझने की बात आएगी वह चाह कर भी कुछ नही कर पायेगी...  संविधान ने तो उसे अधिकार दिए है बस बीच में पुरुष मानसिकता आड़े आ ही जाती है...  अधिकार सम्पन, निर्णायक महिला वर्ग का प्रतिशत बहुत कम है....  अब क्या करे ? कम से कम इतना तो किया ही जा सकता है जहां जनप्रतिनिधि के लिए महिला वर्ग का आरक्षण है तो वहां उसी महिला को खड़ा किया जाए तो ख़ुद उसकी दावेदारी रखने की क्षमता रखती हो...  ना कि उस महिला को जिसे सिर्फ़ पुरुष अपने राजनैतिक स्वार्थ की वजह से सामने भर खड़ा कर रहा हो...  इन्हीं बातों से अक्सर महिलाओं की क्षमता पर सवालिया निशान खड़े किया जाते है जबकि दोष उनका बिलकुल भी नही होता....                     

Monday, January 13, 2014

जिले में हुआ सूर्य नमस्कार, 1.90 लाख से अधिक विद्यार्थियो, शिक्षको, स्वयंसेवी संगठनो ने लिया भाग


कटनी/ स्वामी विवेकानंद जयंती अवसर पर आज प्रातः कलेक्टर अशोक कुमार सिंह के मार्गदर्शन में समूचे जिले में ‘‘सामूहिक सूर्य नमस्कार एवं प्राणायाम‘‘ का वृहद् आयोजन गरिमामय तरीके से सम्पन्न हुआ। जिसमें 1.90 लाख से अधिक छात्र छात्राओं, शिक्षको, गणमान्य नागरिकों, विभिन्न स्वयंसेवी संगठनो एवं पालको ने स्वैच्छिक भागीदारी निभाते हुये इस कार्यक्रम को सफलता एवं गरिमा प्रदान की।
जिला जनसंपर्क अधिकारी माथन सिंह उइके ने जानकारी देते हुए बताया कि कलेक्टर द्वारा इस आयोजन को सफल  बनाने के लिए  5वीं से 12वीं तक के  विद्यार्थियो, स्वयंसेवी संगठनो, एवं नागरिको से किये गये अनुरोध पर जिले के सभी स्थानो पर आज प्रातः 11 बजे से ‘‘सूर्य नमस्कार एव प्राणायाम‘‘ का सफल आयोजन किया गया। जिले में इस आयोजन में 848 विद्यालयों के 5वीं से 12वीं तक के 1.81956 विद्यार्थियों, 6120 शिक्षक-शिक्षिकाओं,  748 गणमान्य नागरिकों, 224 स्वयं सेवी संगठनो, एवं 1205 पालको द्वारा इस आयोजन में अपनी स्वैच्छिक भागीदारी निभाई गई। प्रातः 11 बजे से विभिन्न शालाओं में आयोजन संबंधी विस्तृत जानकारी दी गई। 11:20 पर राष्ट्रीयगीत ‘‘वन्देमात्रम एवं मध्यप्रदेश गान‘‘ का सामूहिक गान हुआ। 11:30 बजे मुख्यमंत्री के संदेश का वाचन किया गया। तदुपरांत 11:45 से दोपहर 12:30 बजे तक ‘‘सामूहिक सूर्य नमस्कार एवं प्राणायाम‘‘ किया गया। 


इस आयोजन में न सिर्फ विद्यार्थियो वरन् नागरिको एवं स्वयंसेवी संगठनों ने भी उत्साह दिखलाते हुये भागीदारी की। उत्कृष्ट विद्यालय माधवनगर में भी प्रातः 10:30 बजे से प्राचार्य सुग्रीव पटेल द्वारा छात्र-छात्राओ को स्वामी विवेकानंद के जीवन चरित्र पर विस्तृत प्रकाश डालते हुए जानकारी दी गई। राष्ट्रीयगीत, म.प्र.गान के उपरांत रेडियो के माध्यम से मुख्यमंत्री के संदेश वाचन छात्र-छात्राओ को सुनाया गया। तदउपरांत सामूहिक सूर्यनमस्कार एवं प्राणायाम किया गया।

Monday, January 06, 2014

गरिमा और हर्षोल्लास से मनाया जायेगा गणतंत्र पर्व, आयोजन के लिए निर्देश हुए जारी


कटनी / साल के पहले महीने जनवरी में 26 तारीख का मतलब सिर्फ़ एक तारीख नही बल्कि एक ऐतिहासिक पर्व का ऐसा महान दिन होता है जो सहज ही हमे महान देश के नागरिक होने के गौरव का एहसास दिलाता है इसलिए प्रशासनिक स्तर पर भी इसकी तैयारिया बहुत महत्वपूर्ण होती है, इस साल भी गणतंत्र दिवस का पर्व गरिमामय एवं हर्षोल्लास के साथ मनाने के लिए कलेक्टर  अशोक कुमार सिंह की अध्यक्षता में कलेक्ट्रट सभाकक्ष में आज शाम 4 बजे आयोजन संबंधी बैठक सम्पन्न हुई। जिसमें विभिन्न आयोजनो संबंधी समितियाँ बनाकर आवश्यक निर्देश दिये गये। बैठक में महापौर श्रीमती रूकमणि बर्मन, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी जेड.यू शेख, अपर कलेक्टर दिनेश श्रीवास्तव एस.डी.एम. श्रीमती रानी पासी सहित अन्य जनप्रतिनिधिगण एवं विभिन्न विभागो के अधिकारी उपस्थित थें। 
कलेक्टर द्वारा गणतंत्र दिवस 2014 के अवसर पर सभी शासकीय विभागों के प्रमुखो को निर्देशित किया गया कि वे राष्ट्रीय ध्वज को गरिमा के अनुरूप फहराने एवं झण्डा सहिता के नियमों का पालन करें। नया ध्वज खाद्यी ग्रामोद्योग भंडार से ही क्रय करें। सभी शासकीय विभागों में प्रातः 8 बजे तक अनिवार्यत ध्वजारोहण कर लिया जावे। 
26 जनवरी 2014 को प्रातः 9 बजे नगर निगम स्टेडियम में जिला मुख्यालय के परपरागत सार्वजनिक ध्वजारोहण समारोह में मुख्य अतिथि द्वारा ध्वजारोहण किया जावेगा। आयोजन स्तर पर बेरीकेटिगं हेतु बास बलियों की व्यवस्था अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक, आयुक्त नगर निगम, लोकनिर्माण विभाग द्वारा प्रेषित मांग अनुरूप वन विभाग द्वारा करायी जावेगी। जिला पुलिस बल विशेष सशस्त्र बल जेल, नगर/ग्राम रक्षा समिति, होमगार्ड, यातायात पुलिस, एन.सी.सी., एवं स्काउड गाईडस आदि की रिहर्सल परेड 16 से 23 जनवरी तक प्रतिदिन 9 सुबह से चलेगी। सभी स्थानो पर जहां भी सार्वजनिक ध्वजारोहण कार्यक्रम होते है।, उन मार्गो , चैराहो, स्तंभो, व अन्य स्थानो पर साफ सफाई पुताई चुने की लाइनिंग डलवाने का कार्य नगर निगम द्वारा किया जावेगा।
सास्कृतिक कार्यक्रमो की रिहर्सल भी हेतु एस.डी.एम. श्रीमती रानी पासी की  अध्यक्षता में 5 सदस्यीय समिति गठित की गई जो सांस्कृतिक कार्यक्रमो को राष्ट्रीय भावना से ओतप्रोत, शालीनता,गरिमामय, होना सुनिश्चित करेंगे। फाईनल रिहर्सल 24 जनवरी को नगर निगम स्टेडियम में प्रातः 10 बजे से होगी। प्रशस्ति पत्र, प्रमाणपत्र, एवं आमंत्रण पत्रो की छपाई एवं नगर निगम द्वारा की जावेगी एवं आमंत्रण पत्रो का वितरण एस.डी.एम. कटनी के निर्देशानुसार तहसीलदार कटनी एवं आयुक्त नगर निगम द्वारा मार्गदर्शन में कराया जावेगा।
स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों, मीसाबंदियो, कारगिल सहित परिवारो को आमंत्रण पत्र वितरित कर तहसीलदार कटनी द्वारा सम्मान पूर्वक लाने एवं घर तक पहुचाने की व्यवस्था की जावेगी। उक्त सम्मानितजनों के सम्मान हेतु 26 जनवरी 14 को नगर निगम स्टेडियम में फूलमाला, शाल ,श्रीफल की व्यवस्था नगर निगम द्वारा की जावेगी। पी.टी. एवं परेड के लिए निर्णायक मंडल का गठन पुलिस अधीक्षक कटनी एवं सांस्कृतिक कार्यक्रमों एवं झाकियों के लिये निर्णायक मंडल का गठन अपर जिला मजिस्ट्रेट द्वारा किया जावेगा। मंच संचालन का कार्य सुश्री राजिंदर कौर लांबा सेवा निवृत प्राचार्य, श्रीमती सीमा जैन, शिक्षिका द्वारा किया जावेगा। संचालन कार्य एसडीएम श्रीमती रानी पासी के मार्गदर्शन में किया जावेगा। समारोह स्थल पर प्राथमिक उपंचार की सामग्री एवं चिकित्सक सहित एक एम्बुलेंस सिविल सर्जन द्वारा उपलब्ध करायी जावेगी। फायरब्रिगेड भी उपलब्ध रहेगी । जिला आपूर्ति अधिकारी कटनी द्वारा सभी शालेय छात्र-छात्राओ को मिष्ठान वितरण कराया जावेगा। 16 विभागो द्वारा जिले के विकास कार्यो एवं शासन  की योजनाओं के प्रचार प्रसार हेतु आर्कषण झंकिया  निकाली जावेगी। 
बैठक में समिति सदस्य मिठठूलाल जैन, पंकज शर्मा, सुनील उपाध्याय, मारूफ अहमद हन्फी, श्रीमती अंजू तिवारी, निगमायुक्त एस.के.सिंह, सीएसपी. बी पीसिंह, तहसीलदार बी.के. मिश्रा, उपसंचालक आत्मा जितेन्द्र सिंह सहित सभी विभागो के अधिकारीगण उपस्थित थे। 


आओ बनाये मध्य प्रदेश सम्मेलन 22 जनवरी को ..

मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान आयेंगे

कटनी / प्रदेश में तीसरी बार भारी बहुमत से सरकार बनाने के बाद पहली बार मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान कटनी आ रहे है, आज इस बात की जानकारी कलेक्टर अशोक कुमार सिंह ने लंबित पत्रो की समीक्षा के दौरान दी, सबसे पहले बैठक में प्रदेश सरकार के महत्वकांक्षी विजन आओ बनाये म.प्र. पर उनका ध्यान केन्द्रित रहा क्योकि आओ बनाये म.प्र. सम्मेलन प्रत्येक जिला में आयोजित किये जाने के निर्देश है और इसी कड़ी में इस सम्मेलन को संबोधित करने के लिए प्रदेश के मुख्यमंत्री  शिवराजसिंह चैहान 22 जनवरी को कटनी आयेंगे। अन्त्योदय मेले के तर्ज पर यह सम्मेलन व्यापक रूप में कटनी के झिंझरी में आयोजित करने की योजना है इसमें कटनी रीठी व बड़वारा के अन्त्योदय मेला सामूहिक रूप से आयोजित किया  जायेगा। 
इस सम्मेलन में समाज के प्रत्येक वर्ग जैसे समस्त निर्वाचित प्रतिनिधि- सांसद, विधायक, पार्षद, सरपंच, पंच, जिला पंचायत प्रतिनिधि, जनपद पंचायत प्रतिनिधि, महिलायें, उद्योगपति,अधिवक्ता, चिकित्सक, अध्यापक, व्यवसायी संगठन, कर्मचारी संगठन, निजी एवं शासकीय स्कूलों एवं महाविद्यालयों के शिक्षकों के प्रतिनिधि, जिले के कोटवार,पटवारी,स्वास्थ्य कार्यकर्ता, सहकारी संस्थाओे के अध्यक्ष, निर्वाचित सदस्यों एवं सचिव,, अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, पिछड़ावर्ग वर्ग, अल्पसंख्यक के प्रतिनिधियों आदि समस्त एसोसिएशन की सहभागिता को आवश्यक बताया गया है। साथ ही अभी तक जितने भी महापंचायत आयोजित किये गये है उस वर्ग से संबंधित लोगो को भी आमंत्रित करने को कहा। 
बैठक में कलेक्टर ने सभी जिला अधिकारी को निर्देशित किया गया कि वे आओ बनाये म.प्र. सम्मेलन के दौरान शिलान्यास, भूमि पूजन, लोकार्पण की तैयारी अभी से कर ले तथा कल शाम तक इसकी सूची जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी को देने को कहा साथ ही इस सम्मेलन में सभी विभाग की फील्ड स्तर के अधिकारी कर्मचारियों को बुलाने के निर्देश देते हुये कार्यक्रम के एक दिन पहले सभी विभाग के वर्कशाप व टेªनिंग करने के निर्देश दिये। जो विभागीय विजन डाक्यूमेंटस के आधार पर होगा। 
21 जनवरी को कार्यक्रम स्थल झिंझरी  में रोजगार काउसिंलिगं, ऋण शिविर, स्वास्थ्य शिविर तथा पशु चिकित्सा शिविर आयोजित करने के निर्देश है इसी तारतम्य में तिलक कालेज को निर्देशित किया गया  कि विवेकानंद केरियर मार्गदर्शन को वृहद्ध व प्रभावी रूप से करें इसमें समस्त प्राइवेट कालेज, आईटीआई, तथा नर्सिंग को भी सम्मिलित करने को कहा।
बैठक में राज्य बीमारी सहायता व लोकसेवा गारंटी, खाद्यान्न सुरक्षा, न्यायालीन प्रकरण, आशाओं के मानदेय, खेल परिसर के निर्माण, ओलापाला राहत, नल जल योजना, स्वरोजगार योजना, वन्य जीवो सेे फसल हानि तथा जहरीले जीव जंतुओं से जनहानि के प्रकरण,परिवार नियोजन, वन व्यवस्थापन तथा जहां जहां धान का संग्रहण हो रहा है वहां - वहां धान की सुरक्षा व्यवस्था करने के निर्देश दिये। साथ ही मुख्य मंत्री ग्रामीण आवास पर संबंधित प्रकरणो पर अधिकारियों को विशेष ध्यान देने को कहा गया। बैठक में जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी जेडयू शेख, एडीएम दिनेश श्रीवास्तव सहित समस्त जिला अधिकारी उपस्थित थें। 

Sunday, January 05, 2014

यातायात नियमों की जानकारी, फिर होगी कार्यवाही - यातायात एवं सड़क सुरक्षा सप्ताह

कटनी -  जिले में आज पुलिस अधीक्षक राजेश हिंगणकर के निर्देशन में यातायात एवं सड़क सुरक्षा सप्ताह प्रारंभ किया गया है। इस दौरान यातायात एवं पुलिस कर्मियों द्वारा जनता को यातायात नियमों के संबंध में जानकारी दी जायेगी तथा सभी वाहन चालकों को निर्धारित नंबर प्लेट लगाने हेतु निर्देशित किया जायेगा एवं स्कूलों/कालेजों में पुलिस अधीक्षक स्वयं जाकर छात्र/छात्राओं को यातायात संबंधी जानकारी प्रदान करेंगे। दोपहिया वाहन में तीन सवारी बैठाने वालों, आटो में संख्या से अधिक सवारी बैठाने पर सभी को समझाईश दी जावेगी। यातायात सप्ताह समाप्त होने के पश्चात उक्त सभी बातों का उल्लघंन करने पर चालानी कार्यवाही की जावेगी।
यातायात एवं सड़क सुरक्षा सप्ताह के प्रारंभ होने  पर पुलिस अधीक्षक द्वारा यातायात प्रचार वाहन को पुलिस कंट्रोल रूम कटनी से हरी झंडी दिखाकर रवाना किया गया। इस दौरान पुलिस अधीक्षक राजेश हिंगणकर, उप पुलिस अधीक्षक विजय सिंह, नगर पुलिस अधीक्षक बीपीसिंह, निरीक्षक शशिकांत शुक्ला, निरीक्षक राकेश पाण्डेय एवं थाना प्रभारी यातायात सूबेदार रजनी चढ़ार एवं ब्रम्हकुमारी विश्वविद्यालय से लक्ष्मी बहन की उपस्थिति रही। पुलिस अधीक्षक ने जिले के सभी नगारिकों से यातायात नियमों का पालन करने की अपील की है।