Tuesday, January 23, 2018

माधव नगर में ऑटो स्टैंड स्थापित करने का निर्णय, नए डीजल ऑटो का नहीं होगा रजिस्ट्रेशन

कटनी /  सड़क सुरक्षा समिति की बैठक में यातायात व्यवस्था दुरूस्त करने के लिए निर्णय लिए गए। इस दौरान महापौर शशांक श्रीवास्तव ने सभी संबंधित अधिकारियों को बेहतर और सुगम यातायात व्यवस्था के निर्देश दिए। इस दौरान नगर निगम अध्यक्ष संतोष शुक्ला ने भी यातायात व्यवस्था को लेकर अपने सुझाव दिये।

            बैठक में कलेक्टर विशेष गढ़पाले और पुलिस अधीक्षक अतुल सिंह ने व्यवस्थाओं को दुरूस्त करने के लिए कुछ कड़े निर्णय लेने की बात कही। दोनों ही अधिकारियों ने पूर्व की बैठक में दिए गए निर्देशों का पालन कराने के आदेश संबंधित अधिकारियों को दिए। समिति ने नये ऑटो का शहरी क्षेत्र के लिए रजिस्ट्रेशन बंद करने का निर्णय लिया। सीएनजी वाहनों का रजिस्ट्रेशन ही अब किया जाएगा। ऑटो चालक संघ की मांग पर कैंप में प्रापर ऑटो स्टैंड स्थापित करने का निर्णय लिया गया। बैठक में अपर कलेक्टर डॉ. सुनंदा पंचभाई, और एसडीएम राजेन्द्र पटेल भी मौजूद थे।

आप ही लोग हमारे नायक हैं

कटनी / शहर की स्वच्छता में अपनी महति भुूमिका निभाने वाले स्वच्छता नायकों का सम्मान हुआ। कलेक्टर विशेष गढ़पाले ने सप्ताह के सर्वश्रेष्ठ पॉच नायकों को मंगलवार जनसुनवाई में सभी अधिकारियों के सामने सम्मानित किया। इनमें स्वच्छता निरीक्षक तेजभान सिंह, वार्ड दरोगा अतुल गुप्ता, सफाई मित्र अशोल भैय्यालाल, रमेश छोटेलाल और बबित राकेश को सम्मानित किया गया। पॉचों ही निगम कर्मियों को प्रशंसा पत्र प्रदान किए गए ।

            सम्मानित करते हुए कलेक्टर सभी निगम कर्मियों को नायक बताया। उन्होंने कहा कि स्वच्छता के प्रति समर्पण भाव से अपने दायित्वों का निर्वहन कर रहे हैं। वास्तिविकता में आप ही लोग हमारे नायक हैं। आपके सम्मान करने का अवसर मुझे मिला यह मेरे लिए गर्व की बात है। नगर निगम आयुक्त संजय जैन ने भी सभी पांचो निगम की चयनित टीम को बधाई दी।

            कलेक्टर ने नगर निगम के अधिकारियों को कहा कि यह सिलसिला सतत रूप से चले। अच्छा कार्य करने वाले पॉच स्वच्छता नायकों को प्रत्येक सप्ताह सम्मानित करें। उन्होंने सम्मानित टीम के पॉचों मेम्बर्स से शहर की स्वच्छता के लिए और किस तरह बेहतर कार्य कर सकते हैं इस पर चर्चा की।  इस दौरान एसडीएम राजेन्द्र पटेल और सहायक आयुक्त नगर निगम एकता अग्रवाल सहित सभी विभागों के प्रमुख उपस्थित थे।

Sunday, January 21, 2018

सब्जी उत्पादक किसान का लगेगा अपना सब्जी बाजार

कटनी / लोगों को जो सब्जियां मिल रहीं है वह ताजी नहीं है या उनकी ताजगी को बढ़ाने के लिए केमिकल मिला दिए गए इस समस्या पर चर्चाएं तो खूब  होती थीं लेकिन कहते हैं कि जहां चाह होती है वहां राह भी मिल जाती है। अब इस समस्या को कटनी जिला प्रशासन ने दूर करने के लिए एक प्रयास किया है। माधवनगर में समदडि़या होटल के सामने अब सब्जी उत्पादक किसान सीधे शहरवासियों को अपनी सब्जियां बेच सकेंगे। रविवार को शुरू इसकी शुरूआत हुई.



      आत्मा प्रोजेक्ट के तहत किया यह प्रयास मध्यप्रदेश शासन के कृषि विस्तार विकास कार्यक्रम के अंतर्गत कलेक्टर विशेष गढ़पाले के निर्देशन में जिला कृषि विभाग द्वारा किया गया है। इसके तहत कटनी के माधवनगर में समदडि़या होटल के सामने में अब प्रत्येक रविवार को किसानो का स्वयं का सब्जी बाजार लगाया जाएगा जिसकी शरुआत रविवार से हो चुकी है।

अब विचौलिए से मुक्त सब्जी किसानों को मिलेगा सीधा लाभ

सामान्यतः सब्जी विक्रेता किसान अब अपनी सब्जियां थोक व्यापारियों को, मंडी या फिर शहरों में मॉल में सुपर मार्केट में बेचते हैं। जिससे बिचौलिये के माध्यम से जब यह सब्जियां यह खरीदार तक पहुंचती हैं, तब तक उसे तो अधिक दाम देना होता है, लेकिन किसान को बहुत कम दाम मिल पाता है। कई बार ऐसी स्थिति में सही दाम न मिलने पर उन्हें औने-पोने दामों में अपनी सब्जी बेचकर जाना होता है। ऐसे में कटनी जिले में शुरू किए गए इस प्रयास से यहां सब्जियां बेचने आए किसान काफी खुश दिखाई दिए कि अब उन्हें अपनी फसल का सही दाम मिल पायेगा।

Saturday, January 20, 2018

बच्चों सहित बड़ो नें भी उठाया आनंद

कटनी / नगर पालिक निगम द्वारा फारेस्टर प्ले ग्राउण्ड में दोपहर 12 बजे से आयोजित आनंद उत्सव कार्यक्रम के अंतर्गत नगर के विभिन्न स्कूलों के छात्र छात्राओं नें रंगोली प्रतियोगिता, सांस्कृतिक कार्यक्रम एवं खेल कूंद 100 मीटर की दौड, नीबू दौड, एवं अन्य खेल कूंद की प्रतियोगिताओं में बढ चढकर हिस्सा लिया जाकर आयोजित कार्यक्रम का आनंद लिया।


आनंद उत्सव में आयोजित कार्यक्रमों में विभिन्न स्कूलों के सहभागी छात्र छात्राओं को प्रथम द्धितीय एवं तृतीय स्थान अर्जित किये जानें वाले प्रतियोगियों को मेडल एवं प्रशंसा पत्र प्रदान किया गया, सांत्वना पुरूस्कार के रूप में प्रमाण पत्र निर्वाचित पार्षदों एवं ब्राण्ड एम्बेस्डरों द्वारा प्रदान किए गए।
रंगोली प्रतियोगिता में नोबल हार्ट स्कूल की कुमारी आकांक्षा सोनी नें प्रथम स्थान, शेख मेराज मनोहर शिशु मंदिर नें द्धितीय स्थान एवं तृतीय स्थान महामाया पब्लिक स्कूल की कुमारी मधु केवट नें अर्जित कया। बालक दौड में अंकुश चैघरी प्रथम, हनि बर्मन द्धितीय एवं अंकुश विश्वकर्मा तृतीय स्थान पर रहे। बालिका दौड प्रतियोगिता में पूजा छाबडा, रितिका तिवारी द्धितीय एवं प्रभा सौंधिया नें तृतीय स्थान अंर्जित किया। 
  कार्यक्रम के दौरान नगर निगम आयुक्त संजय जैन, सहायक आयुक्त श्रीमती एकता अग्रवाल, मेयर इन काउन्सिल सदस्य विजय डब्बू रजक, गौरी शंकर पटैल, पार्षद सुनील सोनी, सुभद्रा सोनी, ऋचा गेलानी, गिंदिया बाई, आरती सतीश पटैल, केशराम विश्कर्मा, एल्डरमैन शिल्पी सोनी,  पूर्व पार्षद राजेन्द्र गेलानी, निगम द्वारा चयनित स्वच्छता दूत मारूफ अहमद हनफी, ब्रजमोहन गटटानी, गणेश सोनी, आर.बी.गुप्ता, राजेश तिवारी, हीरामणी बरसैंया, एम.जे.ए. लुसियन, अजय मेहानी अरविन्द गुप्ता, अंजू तिवारी, प्रीति खरे, रेखा गटटानी , साक्षी शर्मा, रीता बर्मन, रश्मि बरसैयां, कार्यपालन यंत्री ललितधर द्धिवेदी, उपयंत्री आदेश जैन, सुरेन्द्र मिश्रा, जे.पी. बघेल, पवन श्रीवास्तव, प्रकाश द्धिवेदी, एम.एल.निगम, मुकेश राजपूत,विनोद सिंह चैहान, प्रदीप सिंह सोलंकी, राकेश मिश्रा, गणेश बिचपुरिया, लवकुश तिवारी, संजय चैदहा, आदित्य मिश्रा सलिल बनौधा बैक्सीनेटर श्री प्यासी, अग्निहोत्री, सुशीला निगम, सीमा , शैफाली  सहित अन्य अधिकारियों कर्मचारियों की उपस्थिति रही। 

राज्यमंत्री संजय सत्येन्द्र पाठक ने श्रीनिवास तिवारी की पार्थिव देह पर पुष्पचक्र किया अर्पित

कटनी / प्रदेश के सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम राज्यमंत्री संजय सत्येन्द्र पाठक ने  पूर्व विधानसभा अध्यक्ष श्रीयुत श्रीनिवास तिवारी के निधन पर गहन शोक व्यक्त किया है। राज्यमंत्री श्री पाठक ने श्री तिवारी के निधन को प्रदेश के लिये अपूर्णीय क्षति बताते हुये कहा कि उनके निधन से विंध्य की राजनीति के एक युग का अवसान हो गया है। उनका लंबा राजनीतिक जीवन अविस्मरणीय रहेगा। श्री पाठक ने दिवंगत आत्मा की शांति के लिये ईश्वर से प्रार्थना की है। साथ ही, शोक संतप्त परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त की है।

            शनिवार को सतना पहुंचकर राज्यमंत्री श्री पाठक ने मध्यप्रदेश शासन की तरफ से श्रीयुत श्री तिवारी की पार्थिव देह पर पुष्पचर्क अर्पित का श्रद्धांजलि दी। इस दौरा महापौर शशांक श्रीवास्तव भी मौजूद रहे।

Friday, January 19, 2018

सफाई व्यवस्था की कमान कलेक्टर संभाल रहे, सुबह शहर की विजिट पर निकले

कटनी / शुक्रवार को कलेक्टर विशेष गढ़पाले ने लगभग डेढ़ घंटे से अधिक समय तक शहर के विभिन्न वार्डों और गलियों में साफ-सफाई का जायजा लिया। वे प्रातः 6 बजे से शहर के निरीक्षण में निकले। जिस दौरान मैदानी अमले द्वारा वार्डों, सड़कों, गलियों में की जा रही साफ-सफाई देखीं व निगम के सफाई मित्रों, वार्ड दरोगा और स्वच्छता निरीक्षकों को आवश्यक दिशा-निर्देश भी दिये।

            निरीक्षण में कलेक्टर सबसे पहले मिशन चौक पहुंचे। इसके बाद कलेक्टर गोल बाजार, गजानन कॉम्प्लेक्स चौराहा, गर्ग चौराहा होते हुये पुरानी बस्ती में पहुंचे। इस बीच जहां सफाई मित्रों द्वारा किये जा रहे अच्छे कार्य को कलेक्टर ने सराहा। वहीं जहां गंदगी मिली, वहां बेहतर साफ-सफाई करने की समझाईश निगम के मैदानी अमले को कलेक्टर ने दी। इसके बाद आदर्श कॉलोनी होते हुये चाण्डक चौक, बस स्टेंड, शेर चौक, झंडा बाजार होते हुये स्टेशन चौराहा में साफ-सफाई का जायजा लिया। यहां से वे जिला अस्पताल क्षेत्र में भी पहुंचे। जहां दुकानदारों द्वारा अपने प्रतिष्ठान में साफ-सफाई ना रखने पर समझाईश भी दी। कलेक्टर ने कहा कि अपने प्रतिष्ठानों के आस-पास प्रतिष्ठान मालिक साफ-सफाई का ध्यान रखें। अन्यथा कार्यवाही के लिये तैयार रहें।

            निरीक्षण में कलेक्टर ने निगम के अधिकारियों को गंदगी करने वाले प्रतिष्ठानों पर आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश भी स्पॉट पर ही दिये। जिन दुकानदारों व प्रतिष्ठानों द्वारा कचरा फैलाया जाये या साफ-सफाई के इंतजाम ना किये जायें, उन पर नगर निगम का अमला जुर्माने की कार्यवाही करे। इसके साथ ही उन्होने साफ-सफाई में सहयोग देने की अपील भी की।

            जिला अस्पताल के बाद कलेक्टर ने बरगवां होते हुये माधवनगर क्षेत्र में भी निरीक्षण किया। जहां लगे अवैध बैनर्स व होर्डिंग्स को हटाने के लिये संबंधित निगम के अधिकारियों को निर्देशित भी किया।

Thursday, January 18, 2018

सफाई व्यवस्था का जायजा लेने टूव्हीलर पर निकले कलेक्टर

कटनी /- नगर निगम के अमले द्वारा शहर में की जा रही साफ-सफाई की व्यवस्था का जायजा लेने गुरुवार की शाम कलेक्टर विशेष गढ़पाले आकस्मिक रुप से शहर के विजिट पर निकले। एक घंटे से अधिक समय में टू-व्हीलर पर सवार होकर शहर के मुख्य मार्गों के साथ ही गली, मोहल्लो तक की सफाई व्यवस्था का जायजा कलेक्टर ने लिया। जहां गंदगी दिखी, वहां तुरंत मोबाईल पर और वॉट्सअप पर संबंधित निगम अधिकारियों को साफ-सफाई के निर्देश दिये।

            अपने विजिट की शुरुआत विश्राम बाबा गेट से कलेक्टर ने की। जहां से पीडब्ल्यूडी कॉलोनी होते हुये माधवनगर उत्कृष्ट स्कूल, माधवनगर थाना से माधवनगर गेट, बरगवां होते हुये कलेक्टर मिशन चौक पहुंचे। जहां नगर निगम द्वारा हटाये गये अवैध होर्डिंग्स व सड़क की साफ-सफाई का जायजा उन्होने लिया।

            इसके बाद कलेक्टर मिशन चौक, थाना तिराहा, सुभाष चौक, गोल बाजार, रामलीला मैदान, गजानन टॉकीज चौराहा, सिल्वर टॉल्कीज रोड, सराफा बाजार, घंटा घर, फिर घंटा घर से खेर माई, लक्ष्मी नारायण मंदिर, जालपा मंदिर, गौतम मोहल्ला, आदर्श कॉलोनी, नई बस्ती से गांधी गंज होते हुये शेर चौक पहुंचे। जिसके बाद आजाद चौक और चाण्डक चौक में सफाई व्यवस्था का विजिट कलेक्टर ने किया।

            कलेक्टर ने नगर निगम आयुक्त को सप्ताह के सर्वश्रेष्ट स्वच्छता निरीक्षक, वार्ड दरोगा और सफाई मित्र को पुरस्कृत करने की कार्य योजना बनाने के निर्देश दिये। उन्होने कहा कि चयन की प्रक्रिया पारदर्शी हो। रात्रि सफाई का टाईम भी फाईनल करने के निर्देश कलेक्टर ने दिये।

            अपना विजन स्पष्ट करते हुये कलेक्टर ने यह भी कहा कि सिर्फ एक दिन सफाई हमारा उद्वेश्य नहीं है। असल सफलता तब है, जब हम नियमित शहर को साफ-सुथरा रखें। एफसी वीसी सैलून, होॅण्डा शोरुम, पास्ट ऑफिस, महावीर स्टेशनरी, भारती प्लाईबुड, पीज्जा हाउस रेड चिल्ली, हेमन्त क्लॉथ, दुर्गा हॉस्पिटल और धर्मलोक हॉस्पिटल के सामने सफाई और बेहतर कराने का मैसेज भी मॉनीटरिंग वाट्सअप ग्रुप में करके सफाई के निर्देश दिये।

विधायक संदीप जायसवाल ने विद्यार्थियों से किया प्रेरणा संवाद

कटनी / शासकीय उत्कृष्ट उच्चतर माध्यमिक विद्यालय माधवनगर में मुख्यमंत्री मेधावी विद्यार्थी योजना के तहत प्रेरणा संवाद का कार्यक्रम संचालित किया गया। प्रेरणा संवाद कार्यक्रम में विधायक संदीप जायसवाल ने विद्यार्थियों को मुख्यमंत्री मेधावी विद्यार्थी योजना के सम्पूर्ण रूप से लाभ प्राप्त करने के लिये अभिप्रेरित किया। उन्होनें मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा संचालित छात्रहित की योजनाओं की जानकारी विस्तार से विद्यार्थियों को दी। कार्यक्रम में मुख्यमंत्री की विद्यार्थियों के नाम पाती का वाचन भी उन्होने किया।

योजना की जानकारी देते हुये विधायक संदीप जायसवाल ने बताया कि जिले के विद्यार्थियों को 12वीं की परीक्षा में मध्य प्रदेश बोर्ड से 75 प्रतिशत एंव सी.बी.एस.सी. बोर्ड से 85 प्रतिशत अंक लाने के लिये अभी से जुट जाने का प्रेरित किया। उन्होने कहा कि इस योजना के अंतर्गत यदि विद्यार्थियों का प्रवेश  किसी भी शासकीय या चयनित निजी महाविद्यालय में मेडिकल, इंजीनियरिंग, आई.आई.एम., पॉलिटेक्निक, नंर्सिग मे से किसी भी कोर्स मे होता है, तो कॉलेज की फीस राज्य सरकार द्वारा जमा कराई जायेगी।पार्षद एंव मेंबर इन मेयर काउन्सिल अभिषेक ताम्रकार ने अपने उद्बोधन में छात्रों से पढ़ाई पर पूरा ध्यान देकर लक्ष्य प्राप्त करने के लिये कहा.संस्था प्राचार्य विभा श्रीवास्तव ने मुख्यमंत्री मेधावी विद्यार्थी योजना के प्रेरणा संवाद में आये हुए समस्त अतिथियों के प्रति आभार व्यक्त किया। कार्यक्रम में अर्पणा अग्निहोत्री, विनोद कुवंर तिवारी, शेखर पाठक, शलभ कुमार शुक्ला, राध्वेन्द्र तिवारी, प्रमोद कुमार पाण्डेय, सी.बी.पटेल, रामवती टुडहा, आर.एस.बागरी, ए.के.दुबे, कल्पना गुप्ता आदि उपस्थित रहे

भोपाल में कलेक्टर विशेष गढ़पाले को मिला 5-एस अवॉर्ड

कटनी / भोपाल में आयोजित समारोह में कलेक्टर विशेष गढ़पाले को 5-एस अवॉर्ड मिला। यह अवॉर्ड राजधानी भोपाल में अटल बिहारी बाजपेयी सुशासन एवं नीति विश्लेषण संस्थान में आयोजित कार्यक्रम में प्रदेश के मुख्य सचिव बीपी सिंह द्वारा विशेष गढ़पाले को प्रदान किया गया। गौरतलब है कि अटल बिहारी वाजपेयी इंन्टीट्यूट ऑफ गुड गवर्नेन्स एण्ड पॉलिसी एनालेसिस भोपाल द्वारा स्टेबलिशमेन्ट ऑफ 5-एस मेथलॉजी इन एमपी गर्वमेन्ट इंस्टीट्यूशन द्वारा चार कैटेगरी में विजेता और उप विजेताओं की घोषणा 24 नवंबर को की गई थी। जिसमें कमिश्नर ऑफिस और कलेक्टर ऑफिस की कैटेगरी में जिला कलेक्ट्रेट कार्यालय कटनी विजेता हुआ है।

            5-एस अवॉर्ड मिलने पर कलेक्टर विशेष गढ़पाले ने पूरा श्रेय अपनी टीम को दिया है। उन्होने कहा कि हमारी टीम ने सार्थक और अच्छी मेहनत की है और यह टीम वर्क का ही परिणाम है कि जिला कलेक्ट्रेट को 5-एस अवॉर्ड के लिये चुना गया है। उन्होने अपनी पूरी टीम को शुभकामनायें देते हुये 5-एस के मानकों को सदा स्थापित रखने की अपील भी की है।

            अटल बिहारी वाजपेयी इंस्टीटयूट ऑफ गुड गवर्नेन्स एण्ड पॉलिसी एनालेसिस भोपाल सेन्टर फॉर नॉलेज मैनेजमेन्ट द्वारा कुल चार कैटेगरीज के विनर और रनरअप की घोषणा की गई है। जिसमें एचओडी ऑफिस, स्टेट गर्वमेन्ट पीएसयूज एण्ड बोर्ड, कमिश्नी ऑफिस एण्ड कलेक्टर ऑफिस और डिस्ट्रिक्ट ऑफिस की कैटेगरी में ये अवॉर्ड दिये जायेंगे। गौरतलब है कि कुछ दिनों पूर्व ही इंस्टीट्यूट ऑफ गुड गवर्नेन्स की टीम ने कलेक्टर कार्यालय का निरीक्षण किया था। व्यवस्थायें देखीं थीं और उन्हें सराहा भी था।

            5-एस मानकों के तहत टीम द्वारा दस्तावेजों की छटनीं, सुव्यवस्थित साफ और स्वच्छता, मानकीकरण और निरंतरता के मापदण्ड के आधार पर ही जिला कलेक्ट्रेट का चयन इस अवॉर्ड के लिये किया गया था।

Wednesday, January 17, 2018

वर्ष 2016-17 में 87071 एमएसएमई ईकाईयों ने फाईल किये यूएएम

कटनी /- मध्यप्रदेश में वर्तमान में 3 लाख पंजीकृत सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम हैं। इनके अलावा इन इकाईयों की संख्या में दिनों-दिन तेजी से वृद्धि हो रही है।

सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) संजय सत्येन्द्र पाठक ने यह जानकारी देते हुए बताया कि वर्ष 2016-17 में 87 हजार 71 इकाईयों द्वारा पंजीयन के लिए उद्योग आधार मेमोरेण्डम फाईल किये गये। यह पिछले वित्तीय वर्ष की तुलना में लगभग दो गुना अधिक है। राज्य मंत्री ने बताया कि प्रदेश में स्थापित एमएसएमई में मुख्य रूप से इंजीनियरिंग, वस्त्र, फार्मास्यूटिकल्स, खाद्य प्र-संस्करण आदि हैं।

            एमएसएमई क्षेत्र में अधिकतम लाभ दिलाने के लिए राज्य सरकार ने उद्यम शीलता की संस्कृति विकसित करने और नवाचारों को प्रोत्साहित करने के लिए म.प्र. इंक्यूबेशन और स्टार्ट अप नीति 2016 लागू की है। यह नीति राज्य के इन्क्यूबेटरों, प्लग और प्ले की सुविधाओं और स्टार्ट अप की स्थापना को प्रोत्साहित कर रही है। इससे युवाओं का नौकरी मांगने वालों के स्थान पर नौकरी प्रदाय करने वाला स्वयं का उद्यम होगा।

Tuesday, January 16, 2018

शहर की सफाई व्यवस्था को लेकर अब मुस्तैदी से नगर निगम मैदानी स्तर पर काम करे

कटनी / नगर निगम का मैदानी अमला शहर की साफ-सफाई पर विशेष ध्यान दे। नगर निगम का हर कर्मचारी वर्दी में चाहिये, वो भी आईडी कार्ड के साथ। सुबह से पूरी टीम सफाई में लग जाये। सारा का सारा कचरा ट्रान्सफर स्टेशन में पहुंच जाये, यह वार्ड दरोगा सुनिश्चित करें। अपने चिरपरिचित अंदाज में यह दो-टूक निर्देश कलेक्टर विशेष गढ़पाले ने नगर निगम के अधिकारियों और कर्मचारियों की स्वच्छता पर आयोजित बैठक में दिये। कलेक्टर ने स्पष्ट किया कि शहर की सफाई व्यवस्था को लेकर अब मुस्तैदी से नगर निगम, मैदानी स्तर पर काम करे। जिस भी अधिकारी या कर्मचारी को लगता है कि काम अधिक करना पड़ रहा है, तो वह नौकरी छोड़ने का निर्णय ले सकता है। लेकिन आपने स्वयं इस जॉब को चुना, आप नौकरी कर रहे हैं, आपको तन्ख्वाह मिल रही है, तो काम करना ही पड़ेगा। इस दौरान नगर निगम आयुक्त संजय जैन भी मौजूद थे।

            बैठक में अनुपस्थित रहने पर वार्ड क्रमांक 1, 4 और 39 के वार्ड दरोगा पर अनुशासनात्मक कार्यवाही करने के निर्देश भी नगर निगम आयुक्त को कलेक्टर ने दिये। वहीं बैठक में विलंब से पहुंचने पर स्वच्छता निरीक्षक परिहार का एक दिन का वेतन काटने के आदेश भी निगमायुक्त को कलेक्टर द्वारा दिये गये।

            बैठक में बुधवार को चौपाटी में मार्किंग किये गये स्थान पर, सड़क में दुकान लगाने वालों को शिफ्ट कराने के स्पष्ट निर्देश कलेक्टर ने दिये। उन्होने कहा कि चौपाटी परिसर में मार्किंग करा दी गई है। इन सभी लोगों को वहां इकट्ठा करायें। पर्ची उठवाये और संबंधित मार्किंग वाले क्षेत्र में बैठायें। इसके बाद सड़क पर दुकानों के लगने से बेतरतीब व्यवस्था दिखती है, तो संबंधित निगमकर्मी पर भी कार्यवाही होगी।

            आगामी दो दिनों में मुनादी कर ठेले और गुमठी लगाने वालों को डस्टबिन रखवाना सुनिश्चित करने के भी स्पष्ट आदेश कलेक्टर ने दिये। उन्होने कहा कि अतिक्रमण संबंधित अधिकारी यह सुनिश्चित करें कि यदि आगामी दो दिनों के बाद गुमठी में ठेले लगाने वालों के द्वारा डस्टबिन ना रखा जाये, जो उनकी गुमठी उठा दी जाये। वहीं डस्टबिन रखने के बाद भी अगर सड़क पर कचरा फेंका जाये, जो जुर्माने की कार्यवाही हो।

            आगामी दिनों में मैं खुद औचक रुप से व्यवस्थाओं का जायजा लूॅंगा। अव्यवस्था मिलने पर दोषी निगम कर्मियों के विरुद्ध कार्यवाही होगी। जो बाजार में बाहर सामान लाता है व कचरा बाहर सड़क पर फेकता है, एैसे दुकानदारों पर भी जुर्माने की कार्यवाही करें। प्रथमतः उनसे अपनी दुकानों में डस्टबिन रखने और कचरा उसी में डालने का आग्रह करें। ताकि डोर-टू-डोर कचरा कलेक्शन वाहन में अपना कचरा डाल दें। यदि इसके बावजूद भी दुकानदारों द्वारा सड़क पर कचरा फेंका जाये, जो जुर्माने की कार्यवाही सुनिश्चित की जाये।

            नगर निगम के मैदानी अमले का रजिस्ट्रेशन भी लोकसेवक एप में कराने के आदेश निगम के अधिकारियों को श्री गढ़पाले ने दिये। उन्होने कहा कि वार्ड दरोगा यह सुनिश्चित करें कि साफ-सफाई के कार्य की गतिविधियां लोकसेवक एप में अपलोड करें।

            निगम के अमले को किसी से भी अभद्र व्यवहार नहीं करने, अभद्र भाषा का उपयोग नहीं करने की समझाईश भी स्वच्छता संबंधी बैठक में कलेक्टर कलेक्टर ने दी। उन्होने कहा कि आमजनों से नम्रता से व्यवहार करें। लेकिन अपने विधिसंम्मत निर्णयों को लेकर सख्त रहें और अटल भी।

            शहर में लगे हुये अवैध होर्डिंग और बैनर को दो दिनों में अभियान चलाकर हटवाने के निर्देश भी कलेक्टर ने दिये। उन्होने कहा कि आने वाले दो दिनों के बाद संबंधित ओआईसी यह सुनिश्चित करें कि शहर में कोई भी अवैध होर्डिग और बैनर ना लगा रहे। शहर में जितने भी सुलभ शौचालय हैं, उनकी दीवार को प्रचार के रुप में उपयोग करने के लिये टेंडर जारी करने की बात भी कलेक्टर ने कही।

            स्वच्छता एप में आ रही शिकायतों का रिव्यू भी कलेक्टर ने किया। उन्होने कहा कि नोडल अधिकारी स्वच्छता एप यह सुनिश्चित करें कि एप में शिकायत रजिस्टर्ड होने के बाद तीन घंटे में उसका कंप्लाईन्स हो जाये। जितने भी टेम्परेरी शौचालय हैं, उनका ताला खुला रहे। साफ-सफाई होती रहे। डोर-टू-डोर कचरा कलेक्शन के कर का कलेक्शन भी प्रत्येक माह बिल बांटकर नगर निगम करे।

            कचरा कलेक्ट करने वाले सारे वाहनों के जीपीएस ट्रैकिंग कराने के स्पष्ट आदेश भी कलेक्टर ने दिये। उन्होने कहा कि जहां डोर-टू-डोर कलेक्शन वाहनों की ट्रिप बढ़ानी है, वार्ड दरोगा उसकी जानकारी दें। कॉमर्शियल क्षेत्रों में ट्रिप बढ़ाई जाये। बैठक में नगर निगम के अधिकारी व कर्मचारी उपस्थित थे।

Monday, January 15, 2018

जिले के शिक्षक बंधु थोड़ा सा प्रयास करें, तो उनके विद्यार्थी बन सकते हैं उनके गौरव

कटनी / छोटी-छोटी बातें हमारे जीवन में एक बड़े बदलाव का कारण होती हैं। जरुरत है आवश्यकता अनुसार उन्हें सोचने, समझने और अमल में लाने की। इससे आप स्वयं ही नहीं बल्कि आपसे जुड़े अन्य लोगों में भी एक बड़ा और सकारात्मक परिवर्तन ला सकते हैं। जो आपके लिये गौरव के क्षण भी लेकर आता है। एैसा ही क्षण जिले के ढीमरखेड़ा विकासखण्ड में झिन्ना पिपरिया संकुल केन्द्र के अंतर्गत आने वाली माध्यमिक शाला तिलमन के अध्यापक मंगलदीन पटेल के जीवन में आया। जब उन्होने सोमवार को अपने विद्यार्थियों की सफलता की कार्ययोजना जिले के सभी आला अधिकारियों के साथ कलेक्टर विशेष गढ़पाले के बाजू में बैठकर साझा की। इस अवसर पर शिक्षा के क्षेत्र में अपने विद्यार्थियों के स्वर्णिम भविष्य के लिये बेहतर कार्य करने पर कलेक्टर विशेष गढ़पाले ने प्रमाण पत्र देकर भी अध्यापक श्री पटेल को सम्मानित किया। उन्होने कहा कि आप जैसे शिक्षक ही असल मायने में हमारे और हमारे देश के नायक हैं।

            उल्लेखनीय है कि वर्ष 2017-18 के जूनियर गणित ओलंपियाड परीक्षा में माध्यमिक शाला तिलमन के 11 छात्रों का चयन हुआ है। ये विद्यार्थी आगामी चरण में राष्ट्रस्तरीय गणित ओलंपियाड परीक्षा में भी शामिल होने जा रहे हैं। अध्यापक मंगलदीन पटेल को अपने विद्यार्थियों पर फक्र है। सोमवार को कलेक्ट्रेट सभागार में जिला अधिकारियों से संवाद करते हुये उन्होने अपने गौरव का हकदार अपने विद्यार्थियों को बताया। श्री पटेल ने कहा कि बात कोई बड़ी नहीं है। हमारे जिले के शिक्षक बंधु यदि थोड़ा सा प्रयास करें, तो उनके विद्यार्थी, उनके लिये गौरव का कारण बन सकते हैं।

            श्री पटेल ने बताया कि पिछले वर्ष हमने प्रयास किया था। लेकिन हमारे विद्यार्थी गणित ओलंपियाड में चयनित नहीं हुये। मैने और मेरे विद्यार्थियों ने हिम्ममत नहीं हारी। इस बार फिर हमने अपने विद्यार्थियों को तैयारी कराई। जिसमें से 11 बच्चों का चयन हुआ है। काम कुछ कठिन नहीं है। जरुरी है कि रुचि लेकर विद्यार्थियों को पढ़ाया जाये। अपनी कठिनाई भी श्री पटेल ने बताई। उन्होने कहा कि माध्यमिक शाला तिलमन में मैं अकेला शिक्षक हूँ। एक अतिथि शिक्षक हमने और रखा हुआ है।

      गणित ओलंपियाड की तैयारी के लिये विद्यार्थियों को अलग से क्लासेस की जरुरत थी। अन्य विद्यार्थियों का नुकसान ना हो और इन बच्चों की तैयारी हो सके, इसके लिये अपने ऑफिस में भी बच्चों को मैथ ओलंपियाड की तैयारी मैने कराई। अपनी एक और सफलता की कहानी भी श्री पटेल ने सुनाई। उन्होने कहा कि हमारे विद्यालय के विद्यार्थी राष्ट्रीय मीन्स कम मेरिट परीक्षा में भी चयनित होते रहे हैं।

      विद्यार्थियों में किस तरह विषयों को रोचक बनाया जाये। इसके लिये भी मैने कभी भी रेखा गणित स्कूल के अंदर नहीं पढ़ाई। स्कूल के बाहर ग्राउंड में धागा, रस्सी, खील लेकर कोंण, आयत, वर्ग, चर्तुभुज, घन सहित सम्पूर्ण रेखा गणित का प्रायोगिक अध्ययन विद्यार्थियों को कराया। जो भी उनकी सफलता का कारण बना। श्री पटेल ने एक और संदेश शिक्षक बंधुओं को दिया। उन्होने कहा कि हमारे जिले के शिक्षक बंधु गणित जैसे विषय का सम्पूर्ण अध्ययन कक्षाओं में करायें। क्योंकि जिले के दूर-दराज के क्षेत्रों में शासकीय विद्यालयों में पढ़ने वाले कई विद्यार्थी इतने आर्थिक सक्षम नहीं होते कि वे ट्यूशन ले पायें। या अधिकांश जगह तो उनके अभिभावक भी उन्हें पढ़ाने में अक्षम होते हैं।

Saturday, January 13, 2018

जिला चिकित्सालय में अव्यवस्थाओं व शिकायतों के लिये वॉट्सअप नंबर करें सार्वजनिक

कटनी / आपकी जिम्मेदारी महत्वपूर्ण है। आपके उपर लोगों के जीवन की रक्षा जैसा महत्वूपर्ण दायित्व है। इसलिये संवेदनशीलता के साथ जवाबदेही को समझते हुये अपने दायित्वों का निर्वहन करें। स्वेच्छा से आपने इस पेशे को चुना है। इसमें आने वाली कठिनाईयों को आप जानते थे, तो अपनी जिम्मेदारियों से पीछे ना हटें। लगकर काम करें और मानव सेवा भी। कुछ निर्देश, कुछ समझाईश भरी ये बातें शनिवार को कलेक्टर विशेष गढ़पाले ने कही। उन्होने जिला चिकित्सालय में पदस्थ सभी शासकीय व अशासकीय स्टाफ की दो चरणों में बैठक ली। जिसमें उन्होने एक ही ध्येय पर फोकस करने की बात कही कि आप जिला चिकित्सालय में पहुंचने वाले मरीजों को बेहतर उपचार दें। उनकी उपेक्षा ना करें।

            सीएमएचओ ऑफिस के सभागार में आयोजित बैठक में दो-टूक लहजे में कलेक्टर ने कहा कि आप स्वतंत्र हैं काम करने के लिये या नौकरी छोड़ने के लिये। निर्णय आपका है। हमारा उद्देश्य  सिर्फ जिला चिकित्सालय की व्यवस्थाओं को दुरुस्त करना है। ताकि जिले के दूर-दराज के गांवों से आने वाले ग्रामीणों को भी सुगमता से बेहतर उपचार मिल सके। जिला अस्पताल के सभी स्टाफ को संवेदनशील बनने की समझाईश कलेक्टर ने दी। उन्होने कहा कि कम्युनिकेशन गैप बिलकुल ना रखें। कुछ केस स्टडी के विषय में बताते हुये कलेक्टर ने कहा कि डॉक्टर्स व स्टाफ को मरीज और उसके परिजनों से कम्युनिकेशन गैप नहीं रखना चाहिये। जो स्थिति हो, उसे बताना चाहिये।

            बैठक में उन्होने कहा कि जिला चिकित्सालय की व्यवस्थायें बेहतर हों, इसके लिये नवनियुक्त सिविल सर्जन जुट जायें। उन्होने कहा कि जिला चिकित्सालय में पदस्थ शासकीय व टेम्परेरी स्टाफ तक की नेमप्लेट बनवायें। जिनमें उनकी पोस्ट लिखी हो। प्रत्येक जिला चिकित्सालय के एम्प्लॉई उस नेमप्लेट को ऑफिस ऑवर्स में लगाकर रखें। आगामी सात दिनों में यह व्यवस्था सुनिश्चित करें।

            इसके साथ ही जिला चिकित्सालय में अव्यवस्थाओं व शिकायतों के लिये एक वॉट्सअप नंबर सार्वजनिक करने के निर्देश भी कलेक्टर ने दिये। उन्होने कहा कि प्रत्येक वार्ड में सुझाव व शिकायत के लिये पेटी लगवायें। जिनकी चाबी कलेक्ट्रेट में रहेगी। सीसी टीव्ही कैमरे लगवाने के निर्देश भी कलेक्टर ने दिये। उन्होने कहा कि ब्लड बैंक में भी सीसीटीव्ही कैमरा लगवायें।

            मेडिसन के स्टॉक का डिस्प्ले प्रतिदिन करने और अपडेट करने के निर्देश भी कलेक्टर ने दिये। उन्होने कहा कि हम अन्य विभागों की टीम से आपके स्टॉक का वेरीफिकेशन भी करायेंगे।

            नसबंदी शिविरों में व्यवस्थायें दुरुस्त रहें, इसके लिये पृथक से शिविरों के लिये नोडल अधिकारी डीपीएम को बनाने के निर्देश भी मीटिंग में कलेक्टर ने दिये। उन्होने कहा कि डीपीएम की जिम्मेदारी होगी कि वे नसबंदी सहित अन्य शिविरों में बेहतर व्यवस्थायें करायें।

            सभी प्रकार के टेंडर्स के लिये गठित समिति में वित्त सेवा के अधिकारी अनिल सोनी को समिति सदस्य के रुप में रखने के निर्देश भी कलेक्टर ने दिये। उन्होने कहा कि प्रत्येक माह अच्छा काम करने वाले डॉक्टर्स और स्टाफ को एप्रिसिएशन भी करें। इसके लिये बेस्ट एम्प्लॉई और बेस्ट डॉक्टर को माह में चयिनत कर उन्हें सम्मानित किया जाये।

           इस दौरान मीटिंग में सीएमएचओ डॉ अशोक अवधिया, सिविल सर्जन डॉ एसके शर्मा, डॉ, केपी श्रीवास्तव सहित अन्य चिकित्सा अधिकारी भी मौजूद थे।